Interview में शुरुआती 90 सेकेंड ही छीनते हैं आपकी नौकरी, इन बातों का रखें खास ध्यान

एक्सपर्ट्स का मानना है कि इंटरव्यू के दौरान अपनी पहचान बनाने का सबसे अच्छा तरीका है कि संभावित समस्याएं क्या हैं, इनपर फोकस न कर के अपना विजन बताएं और समाधान पेश करने की कोशिश करें.

Interview में शुरुआती 90 सेकेंड ही छीनते हैं आपकी नौकरी, इन बातों का रखें खास ध्यान
सांकेतिक तस्वीर.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना के बीच भी नौकरी के बहुत अवसर निकल रहे हैं. एग्जाम की तैयारी के लिए भी युवा पढ़ाई में डूबे हुए हैं. लेकिन नौकरी की तैयारी के लिए जितनी जरूरी पढ़ाई है, उतना ही जरूरी है पर्सनेलिटी डेवलपमेंट (Personality Development) भी. एक रिसर्च में ये सामने आया है कि नौकरी के इंटरव्यू का सबसे महत्वपूर्ण पार्ट उसकी शुरुआत होती है. औसतन कोई भी इंटरव्यू लगभग 40 मिनट का होता है, लेकिन एक रिसर्च के मुताबिक शुरुआत के 1.5 मिनट ही आपकी जीत या हार तय कर देते हैं. रिक्रूटर्स पर किए गए एक सर्वे में यह बात सामने आई है कि वह शुरुआती 90 सेकेंड में यह तय कर देते हैं कि कैंडिडेट को हायर करना है या नहीं. इसकी पुष्टि 33% रिक्रूटर्स ने की. इसका मतलब है कि इंटरव्यू लेने वाले HR और मैनेजमेंट को इंप्रेस करने के लिए आपके पास महज 1.30 मिनट का वक्त होता है. अगर आपने उनको प्रभावित कर लिया तो वह आपको देर तक याद रख सकेंगे.

ये भी पढ़ें: मांगी मजदूरी तो 7 महीने प्रेग्नेंट महिला को बेरहमी से पीटा, नहीं बच पाया बच्चा

हम आपको बताते हैं ऐसे जरूरी टिप्स जो इंटरव्यू क्रैक करने में आपकी मदद करेंगे-

इंटरव्यूअर को दिखाएं अपना एक्साइटमेंट
एक्सपर्ट्स का कहना है कि इंटरव्यू में अगर आप एक्साइटेड रहेंगे तो रिक्रूटर के दिमाग पर अच्छा असर छोड़ कर जाएंगे और हायरिंग मैनेजर को आपसे हुई मुलाकात याद रहेगी. इसके लिए आपका बॉडी पॉस्चर अच्छा रहना बहुत जरूरी है. साथ ही Eye Contact के साथ बात करने से मैनेजर पर पॉजिटिव इम्पैक्ट पड़ेगा.
 
इंटरव्यू के पहले कंपनी पर करें रिसर्च
यह जरूरी है कि रिक्रूटर से मिलने से पहले आप कंपनी के बारे में जितना जान सकते हैं, जान लें. इससे आप कंपनी से रिलेटेड सवालों के जवाब देने के लिए तैयार रहेंगे. इसके अलावा आप कंपनी या उसके कर्मचारियों के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी हासिल करें. लिंक्ड-इन, फेसबुक और अपने कॉलेज के स्टूडेंट्स के नेटवर्क की मदद लें और देखें कि क्या कोई ऐसा है जो आपके साथ इंटरनल डिटेल साझा कर सकता है.

ये भी पढ़ें: VIDEO: गांव में घुस आया जंगली सूअर, लोगों ने क्रूरता की सारी हदें पार कीं
 
सिर्फ कहें नहीं, दिखाएं आप क्यों हैं पर्फेक्ट
हमेशा अपनी एक्साइटमेंट को फैक्ट से सपोर्ट करें. सिर्फ यह कहना कि आप नौकरी के लायक हैं, काम नहीं चलेगा. आपको हायरिंग मैनेजर को यह साबित भी करना होगा कि आप बाकी कैंडिडेट्स से बेहतर क्यों हैं. एक्सपर्ट्स का मानना है कि इंटरव्यू के दौरान अपनी पहचान बनाने का सबसे अच्छा तरीका है कि संभावित समस्याएं क्या हैं इनपर फोकस न कर के अपना विजन बताएं और समाधान पेश करने की कोशिश करें.

WATCH LIVE TV