वाराणसी: गैंगरेप पीड़िता ने SSP दफ्तर के बाहर माता पिता के साथ खाया जहर, हालत नाजुक

स्थानीय लोगों ने पीड़िता और उसके माता-पिता को दीनदयाल अस्पताल में एडमिट कराया. जहां से तीनों को बीएचयू के ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया.  

वाराणसी: गैंगरेप पीड़िता ने SSP दफ्तर के बाहर माता पिता के साथ खाया जहर, हालत नाजुक
सर्किट हाउस के सामने तीनों अचेत अवस्था में पड़े मिले.

वाराणसी: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में एक बार फिर न्याय की गुहार लगा रही गैंगरेप पीड़िता के खुदकुशी की कोशिश करने का मामला सामने आया है. सोमवार की सुबह वाराणसी में SSP के पास न्याय की मांग करते हुए पीड़िता अपने माता-पिता के साथ पहुंची थी. बताया जा रहा है कि इस दौरान संतुष्टि भरा जवाब न मिलने से पीड़िता और उसके परिवार ने एसएसपी आफिस के सामने ही विषाक्त प्रदार्थ खा लिया. सर्किट हाउस के सामने तीनों अचेत अवस्था में पड़े मिले.

जिसके बाद आनन फानन में स्थानीय लोगों ने एम्बुलेंस के जरिए पीड़िता और उसके माता-पिता को दीनदयाल अस्पताल में एडमिट कराया. जहां, तीनों की स्थिति नाजुक देखते हुए डॉक्टरों ने उन्हें बीएचयू के ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया.

पीड़िता के जानने वालों ने बताया कि महिला को हीरोइन बनाने के नाम पर मुम्बई ले जाकर गैंगरेप किया गया. जिससे सम्बंधित कैंट थाने में मुकदमा भी दर्ज है. रिश्तेदारों ने बताया कि पीड़िता न्याय के लिए हर अधिकारी का दरवाजा खटखटा चुकी थी. लेकिन, कहीं कोई सुनवाई नहीं हुई. जिससे आहत होकर आज पीड़िता और उसके माता-पिता ने आत्मदाह का प्रयास किया.

उधर, घटनास्थल से पुलिस ने एक लेटर भी बरामद किया है. घटना के संबंध में SSP वाराणसी ने बताया कि मामले की मजिस्ट्रेट स्तर से जांच चल रही है. अब तक दो आरोपियों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है. फिलहाल जांच जारी है और जो दोषी होगा उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी.