close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भाई ने कराया 24 लाख का बीमा, सगे भाई की नीयत बिगड़ी और करा दी हत्या

मृतक ने 24 लाख रुपये का बीमा कराया था और खुद नॉमिनी था. सगे भाई की नीयत बिगड़ गई और उसने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर बीमा की राशि हड़पने के लिए साजिश रची. 

भाई ने कराया 24 लाख का बीमा, सगे भाई की नीयत बिगड़ी और करा दी हत्या
मामला मिर्जापुर थाना क्षेत्र स्थित तारापुर गांव का है...(प्रतीकात्मक फोटो)

शाहजहांपुर: शाहजहांपुर जिले में एक व्यक्ति को बीमा की धनराशि हड़पने के लिए अपने सगे भाई की हत्या कराने के आरोप में शुक्रवार को उसके दो साथियों के साथ गिरफ्तार कर लिया गया. मृतक ने 24 लाख रुपये का बीमा कराया था और खुद नॉमिनी था. सगे भाई की नीयत बिगड़ गई और उसने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर बीमा की राशि हड़पने के लिए साजिश रची. 

मामला मिर्जापुर थाना क्षेत्र स्थित तारापुर गांव का है. इस गांव के निवासी प्रदीप कुमार (22) की पिछली 31 जनवरी को हत्या कर दी गई थी. मृतक के पिता धर्म सिंह ने जितेंद्र कुमार तथा गगन मिश्रा नामक व्यक्ति पर हत्या का शक जताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई थी. 

पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) सुभाष चंद्र शाक्य ने शुक्रवार को बताया कि मिर्जापुर थाना क्षेत्र स्थित तारापुर गांव के निवासी प्रदीप कुमार (22) की पिछली 31 जनवरी को हत्या कर दी गई थी. मृतक के पिता धर्म सिंह ने जितेंद्र कुमार तथा गगन मिश्रा नामक व्यक्ति पर हत्या का शक जताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई थी. 

शाक्य ने बताया कि पुलिस ने नामजद आरोपी गगन को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पता चला कि प्रदीप की हत्या की साजिश उसके भाई कुलदीप ने ही रची थी. कुलदीप ने अपने भाई का भारतीय स्टेट बैंक से 20 लाख रुपये और ग्रामीण बैंक से चार लाख रुपये का बीमा कराया था और वह खुद नॉमिनी था. उन्होंने बताया कि कुलदीप ने अपने साथी जितेंद्र तथा गगन मिश्रा को प्रदीप की हत्या के बाद मिलने वाली बीमा राशि में से 12 लाख रुपये देने की बात कही थी. पुलिस ने मृतक के भाई कुलदीप और साथियों जितेंद्र और गगन को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.