मुजफ्फरनगर: भड़काऊ पोस्ट करने के आरोप में सपा नेता गिरफ्तार, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया

पुलिस ने आरोपी साजिद हसन को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

मुजफ्फरनगर: भड़काऊ पोस्ट करने के आरोप में सपा नेता गिरफ्तार, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया
आरोपी साजिद हसन को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

मुजफ्फरनगर: नागरिक संसोधन बिल (Citizen Amendment Act) को लेकर देश में हुए हिंसक बवाल के बाद अब उत्तर प्रदेश सरकार और पुलिस अलर्ट पर हैं. मुजफ्फरनगर पुलिस ने भी कमर कस ली है. अधिकारी दिन रात सड़कों पर फ्लैग मार्च कर रहे हैं.

साथ ही सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट करने वालों पर भी पुलिस पैनी नजर बनाये हुए है. जिसके तहत, सोशल मीडिया पर CAA के विरोध में पोस्ट करने वाले समाजवादी पार्टी के नेता साजिद हसन के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है. भड़काऊ पोस्ट करने पर मुजफ्फरनगर के सिविल लाइन थाने में पुलिस ने आईपीसी की गंभीर धारा 153A, 153B , 505B के तहत केस दर्ज किया. साथ ही आरोपी सपा नेता साजिद हसन को गिरफ्तार किया है.

पुलिस ने आज आरोपी साजिद हसन को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

बता दें कि फेसबुक पर नागरिक संसोधन बिल को लेकर भड़काऊ पोस्ट करने वाले आरोपी साजिद हसन समाजवादी पार्टी लोहिया वाहिनी के पूर्व जिला अध्यक्ष भी रह चुके हैं.

बता दें कि हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) अलर्ट पर है. मऊ, लखनऊ समेत अन्य जिलों में पुलिस ने अब तक 113 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. मऊ में CAA को लेकर हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद पुलिस ने अब तक 28 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मामले में 90 नामजद और 650 अज्ञात पर भी मामला दर्ज किया गया है. साथ ही वीडियो फुटेज के आधार पर अन्य आरोपियों को चिह्नित किया जा रहा है.

यूपी पुलिस की सोशल मीडिया सेल भी भड़काऊ और आपत्तिजनक पोस्ट्स पर नजर बनाए हुए है. लखनऊ में 5 एफआईआर दर्ज की गई हैं और 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. प्रयागराज, बाराबंकी, पीलीभीत, मुजफ्फरनगर, अमरोहा में भी पुलिस ने एफआईआर दर्ज की हैं. पीलीभीत में 3 और अमरोहा में एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है. साथ ही 752 आपत्तिजनक ट्वीट, 826 आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट पर कार्रवाई हुई है.