close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कुंभ की तरह माघ मेले को भी बेहतर बनाने में मदद करे सरकारः स्वामी अधोक्षजानंद

उन्होंने कहा कि इससे जहां पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और स्थानीय लोगों का रोजगार बढ़ेगा, वहीं सरकार की छवि भी सुधरेगी.

कुंभ की तरह माघ मेले को भी बेहतर बनाने में मदद करे सरकारः स्वामी अधोक्षजानंद
स्वामी अधोक्षजानंद महाराज की फाइल फोटो.

प्रयागराज: जगद्गुरू स्वामी अधोक्षजानंद महाराज का मानना है कि तीर्थराज प्रयाग में हर साल लगने वाले माघ मेले का महत्व कुंभ से कम नहीं है. उन्होंने कहा कि जिस प्रकार कुंभ मेले का महत्व दुनिया को बताया गया है, उसी प्रकार माघ मेले के महत्व को बताया जाए.

कुंभ मेले के सेक्टर 13 स्थित अपने शिविर में स्वामी अधोक्षजानंद ने कहा कि सरकार को माघ मेले के लिए भी अपना खजाना खोलना चाहिए ताकि यहां की व्यवस्थाएं बेहतर हों और संस्थाओं को आने के लिए प्रोत्साहित किया जाए. एक संस्था का शिविर लगने से सैकड़ों, हजारों लोग आते हैं.

उन्होंने कहा कि इससे जहां पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और स्थानीय लोगों का रोजगार बढ़ेगा, वहीं सरकार की छवि भी सुधरेगी. स्वामी अधोक्षजानंद ने बताया कि जल्द ही वह इस संबंध में साधु-संतों की बैठक बुलाने वाले हैं जिसमें उन्हें इस बात के लिए प्रेरित किया जाएगा. साथ ही सरकार को भी पत्र लिखा जाएगा.

 

कुंभ मेले का भ्रमण कराने 187 देशों के 189 प्रतिनिधियों को यहां लेकर आए विदेश राज्यमंत्री जनरल वी.के. सिंह से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार सभी चीजों पर बहुत सोच विचार के कार्य करती है. मुझे पूरा भरोसा है कि यह मामला (माघ मेले का प्रस्ताव) उनके पास जाएगा तो वे संतों के साथ मिलकर इस पर बात करेंगे और जिस स्तर पर कार्य होना चाहिए, उस स्तर पर होगा.