close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मुरादाबाद नगर निगम पर UPPCB ने लगाया 18 करोड़ का जुर्माना, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

Uttar Pradesh Pollution Control Board: यह जुर्माना नगर निगम पर शहर के 24 बड़े गंदे नालों के पानी को बिना शोधित करें रामगंगा नदी (Ramganga River) में गिराने पर लगाया गया है. 

मुरादाबाद नगर निगम पर UPPCB ने लगाया 18 करोड़ का जुर्माना, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान
उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने ये कार्रवाई हुई है.

मुरादाबाद, दीप चंद्र जोशी: उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (Uttar Pradesh Pollution Control Board) ने मुरादाबाद नगर निगम (Moradabad Municipal Corporation) पर बड़ी कार्रवाई की है. बोर्ड ने मुरादाबाद नगर निगम पर 18 करोड़ का जुर्माना (Penalty) है. 

जानकारी के मुताबिक, यह जुर्माना नगर निगम पर शहर के 24 बड़े गंदे नालों के पानी को बिना शोधित करें रामगंगा नदी (Ramganga River) में गिराने पर लगाया गया है. साथ ही प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने नगर निगम के अधिकारियों पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए जल्द से जल्द शहर के सभी नालों को दूषित जल उपचार संयंत्र (water treatment plant) से शोधित कर पानी को गिराए जाने के आदेश दिए है.

क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी अजय शर्मा के बताया कि उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने मुरादाबाद नगर निगम के नगर आयुक्त को मार्च में आदेश दिया था. शहर के 24 नालों को सीधे रामगंगा नाले में गिराया जा रहा है. सभी नालों को दूषित जल उपचार संयंत्र करके रामगंगा में गिराया जाए. लेकिन नगर निगम ने बोर्ड के किसी निर्देश का पालन नहीं किया.

लाइव टीवी देखें

बोर्ड की टीम द्वारा मुरादाबाद के सभी नालों को निरीक्षण किया गया था, जिसमें से अभी केवल छह नालों का पानी जल उपचार संयंत्र करके गिराया जा रहा है. बाकी 18 नाले का पानी सीधे रामगंगा में गिराया जा रहा है, जिसके लिए उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड नगर निगम पर 18 करोड़ का जुर्माना लगाया है. साथ ही यह चेतावनी भी दी है सभी नालों को दूषित जल उपचार संयंत्र से जोड़ा जाए.