AMU छात्रों के दो गुटों में टकराव, 14 लोगों पर राजद्रोह का केस दर्ज

छात्रों के दो गुटों में टकराव के बाद पुलिस के पास करीब आधा दर्जन से ज्यादा तहरीर दोनों पक्षों की ओर से आई हैं.

AMU छात्रों के दो गुटों में टकराव, 14 लोगों पर राजद्रोह का केस दर्ज
फाइल फोटो

अलीगढ़: अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में कल हुए छात्रों के दो गुटों में टकराव के बाद पुलिस के पास करीब आधा दर्जन से ज्यादा तहरीर दोनों पक्षों की ओर से आई हैं. जिसमें एक मुकदमा बीजेपी युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष की ओर से छात्रों के खिलाफ धारा 147,148,392,307,323,504,124A,153A,153B के तहत दर्ज हुआ है. इसमें देशद्रोह भी शामिल है.

दूसरा मुकदमा एक टीवी चैनल की महिला पत्रकार की तरफ से थाना सिविल लाइंस में एएमयू के सुरक्षा अधिकारी एवं छात्रों के खिलाफ धारा 392,354,504,147 के तहत दर्ज कराया गया है. हालात को देखते हुए अलीगढ मंडल से पुलिस फोर्स को एएमयू परिसर के आसपास लगाया गया है. साथ ही आरएएफ, पीएसी को भी कैंपस के बाहर लगाया गया है.

उधर देर रात तक एएमयू छात्र बाबे सय्यद गेट पर जमे रहे और एएमयू छात्रों के खिलाफ दर्ज हुई एफआईआर को वापस लेने के साथ-साथ छात्र नेता अजय सिंह एवं उसके साथियों को एएमयू से निष्कासित करने की मांग कर रहे थे. एएमयू प्रशासन ने भी दो तहरीर दी हैं जिसमें पहली एक चैनल के पत्रकार एवं कैमरामैन के खिलाफ तो दूसरी हिंदूवादी नेताओं और छात्रों के खिलाफ दी है. इसमें पुलिस अभी जांच की बात कह रही है.

क्‍या था मामला?
घटना उस समय शुरू हुई जब कल एएमयू में छात्र संघ के बुलावे पर मुस्लिम फ्रंट बनाने को लेकर मुस्लिम संगठनों की बैठक आयोजित की जा रही थी जिसमें असदुद्दीन ओवैसी को भी आमंत्रित किया गया था. हालांकि ओवैसी नहीं आये लेकिन हिन्दू छात्र नेता अजय सिंह व् बीजेपी ओवैसी के आने का विरोध कर रहे थे.

इस बीच कल जब एक टीवी चैनल की दो महिला पत्रकार कैंपस में कवरेज करने पहुंचे तो वहां उनके साथ हाथापाई करते हुए छात्रों ने कैमरा भी तोड़ दिया. उसके कुछ देर बाद हॉस्टल में खाना खाने गए एक हिन्दू छात्र के साथ मारपीट की गई. इन दोनों घटनाओं को लेकर एएमयू के छात्र नेता अजय सिंह ने रजिस्ट्रार ऑफिस पर धरना दिया जहां उनकी एएमयू छात्रों से झड़प हो गई. देखते ही देखते मारपीट शुरू हो गई. उसके बाद तो एएमयू में जम कर बवाल हुआ. वाहनों में आगजनी की गई. वहां से गुजर रहे बीजेपी युवा मोर्चा के लोगों के साथ मारपीट की गई. छात्र नेता अजय सिंह एवं उनके कुछ साथियों और मीडियाकर्मियों के साथ मारपीट की गई.

अजय सिंह को अस्पताल में भर्ती कराया गया. देर रात तक छात्रों ने AMU के गेट को बंद कर धरना दिया. उधर अलीगढ के एसपी सिटी ने बताया की स्थिति नियंत्रण में है. पर्याप्त पुलिस बल मौजूद है.  मामले की जांच की जा रही है. सीसीटीवी फुटेज भी चेक किये जा रहे हैं.