WHO ने की Covaxin के Phase 3 ट्रायल के नतीजों की तारीफ, बढ़ी Approval मिलने की उम्‍मीद

WHO की चीफ साइंटिस्‍ट ने कहा है कि भारत बायोटेक की कोवैक्‍सीन (Covaxin) के तीसरे चरण के ट्रायल के नतीजे अच्‍छे हैं. इसकी Overall Efficacy अच्‍छी है. 

WHO ने की Covaxin के Phase 3 ट्रायल के नतीजों की तारीफ, बढ़ी Approval मिलने की उम्‍मीद
डब्ल्यूएचओ की चीफ साइंटिस्‍ट डॉ. सौम्या स्वामीनाथन (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: भारतीय कंपनी भारत बायोटेक (Bharat Biotech) द्वारा विकसित किए गए कोविड वैक्‍सीन (Covid Vaccine) कोवैक्‍सीन के तीसरे चरण के ट्रायल नतीजों को लेकर अच्‍छी खबर आई है. डब्ल्यूएचओ (WHO) की चीफ साइंटिस्‍ट डॉ. सौम्या स्वामीनाथन (Dr Soumya Swaminathan) ने खुलासा किया है कि इसके फेज 3 के ट्रायल (Phase 3 Trial) के नतीजे अच्‍छे हैं. इसके डेटा के प्री-सबमिशन की मीटिंग 23 जून को हुई थी और डेटा पैकेट को इकट्ठा किया जा रहा है.

समग्र प्रभावकारिता काफी अच्‍छी 

डब्ल्यूएचओ की चीफ साइंटिस्‍ट ने एक न्‍यूज चैनल को दिए इंटरव्‍यू में कहा है कि 'वैक्‍सीन की समग्र प्रभावकारिता (Overall Efficacy) काफी अधिक है. डेल्टा वैरिएंट के खिलाफ वैक्‍सीन की प्रभावकारिता कम है लेकिन फिर भी यह काफी अच्छा है.' यह बयान ऐसे समय में आया है, जब भारत बायोटेक की कोवैक्सिन को डब्ल्यूएचओ की मंजूरी मिलने का इंतजार है.

सौम्या स्वामीनाथन ने यह भी कहा, 'हम उन सभी वैक्‍सीन पर कड़ी नजर रखते हैं, जिन्हें आपातकालीन उपयोग की सूची में जगह मिली है. हम हमेशा ज्‍यादा डेटा ढूंढते रहते हैं.' बता दें कि हाल ही में भारत बायोटेक ने तीसरे चरण के ट्रायल के अधिकारिक नतीजे जारी किए हैं, जिसमें यह वैक्‍सीन कोविड के खिलाफ 77.8 फीसदी प्रभावी पाया गया है. 

यह भी देखें: Jammu & Kashmir: सुरक्षाबलों का Operation All-Out है आतंकवादियों की बौखलाहट का कारण?

ब्रिटेन से ले सकते हैं प्रेरणा 

स्वामीनाथन ने यह भी कहा कि दुनिया के अधिकांश हिस्सों में कोरोनोवायरस के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है. केवल अमेरिका को छोड़ दें तो कहीं भी कोविड से मौतों की संख्या में कोई कमी नहीं हुई है. उन्होंने यह भी कहा कि भारत को ब्रिटेन जैसे देशों से प्रेरणा लेकर बूस्‍टर शॉट्स देने की योजना बनानी चाहिए. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.