महाराष्ट्र में कौन बनेगा CM और डिप्टी CM, किसे मिलेगा मंत्री पद | जानें संभावित चेहरे

महाराष्ट्र में शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) और कांग्रेस मिलकर सरकार बना सकते हैं. कांग्रेस के बालासाहेब थोरात महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री बन सकते है. थोरात कांग्रेस हाईकमान की पसंद हैं. विधानसभा चुनाव में विपरीत परिस्थितियों मे भी पार्टी को बढ़त दिलाने का पार्टी उपमुख्यमंत्री कुर्सी पुरस्कार के तौर पर दे सकती है. 

महाराष्ट्र में कौन बनेगा CM और डिप्टी CM, किसे मिलेगा मंत्री पद | जानें संभावित चेहरे
महाराष्ट्र: संभावना जताई जा रही है कि उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री और बालासाहेब थोरात और अजीत पवार डिप्टी सीएम हो सकते हैं.

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में शिवसेना (Shiv Sena), राष्ट्रवादी कांग्रेस (Congress) पार्टी (NCP) और कांग्रेस (Congress) मिलकर सरकार बना सकते हैं. शिवसेना के युवा नेता आदित्य ठाकरे का नाम मुख्यमंत्री पद की दावेदारी में शामिल नहीं होने के बाद अब पार्टी ने सुभाष देसाई और एकनाथ शिंदे के नामों का प्रस्ताव रखा है. लेकिन पार्टी सूत्रों का कहना है कि एनसीपी ने उन्हें खारिज कर दिया और जोर देकर कहा कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) शीर्ष पद पर काबिज हों.

पार्टी के एक सूत्र ने कहा कि उन्हें एक ऐसा व्यक्ति चाहिए जो महाराष्ट्र (Maharashtra) के अलावा भी राजनीति में लाभकारी सिद्ध हो और उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) मराठी सम्मान के लिए दिल्ली की केंद्र सरकार के खिलाफ खड़े हो सकते हैं. सत्ता के फार्मूले के अनुसार मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री के पद के अलावा शिवसेना के 15, एनसीपी के 15 और कांग्रेस (Congress) के 12 मंत्री होंगे. विधानसभा अध्यक्ष का पद एनसीपी देना नहीं चाहती, लेकिन कांग्रेस (Congress) को यह पद अपने पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण के लिए चाहिए. इसके लिए एनसीपी ने तर्क दिया कि उन्हें ऐसा विधानसभा अध्यक्ष नहीं चाहिए जिसे बार-बार पार्टी आलाकमान से इजाजत लेनी पड़े.

कांग्रेस (Congress) के बालासाहेब थोरात (Balasaheb Thorat) महाराष्ट्र (Maharashtra) के उपमुख्यमंत्री बन सकते है. थोरात कांग्रेस (Congress) हाईकमान की पसंद हैं. विधानसभा चुनाव में विपरीत परिस्थितियों मे भी पार्टी को बढ़त दिलाने का पार्टी उपमुख्यमंत्री कुर्सी पुरस्कार के तौर पर दे सकती है. 

एनसीपी का दबाव है कि उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) खुद मुख्यमंत्री का पद संभालें, हालांकि चर्चा है कि शिवसेना एकनाथ शिंदे या सुभाष देसाई पर भी दांव खेल सकती है. शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस (Congress) गठबंधन की सरकार बनी तो महाराष्ट्र (Maharashtra) विकास आघाडी बैनर तले कई छोटे दलों का भी समर्थन मिला सकता है. अगर सब ठीक रहा तो शनिवार को सरकार बनाने का दावा पेश करने की भी तैयारी है. हालांकि शुक्रवार को शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस (Congress) की मुंबई में होने वाली बैठक में तस्वीर साफ हो पाएगी.

शुक्रवार को कांग्रेस (Congress) विधायक दल का नेता चुन सकती है. महाराष्ट्र (Maharashtra) में उत्तर प्रदेश की तर्ज पर दो उपमुख्यमंत्री भी बनाने की तैयारी है. एक एनसीपी कोटे से और एक कांग्रेस (Congress) कोटे से डिप्टी चीफ मिनिस्टर हो सकते हैं. डिप्टी सीएम की रेस में एनसीपी की ओर से अजीत पवार और कांग्रेस (Congress) की ओर से बालासाहेब थोरात (Balasaheb Thorat) का नाम आगे चल रहा है. हालांकि एनसीपी सुप्रीमों शरद पवार अपने भतीजे अजीत पवार के लिए प्रदेश में ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री बनाने का दबाव बना रहे हैं. पवार का नया राजनीतिक पैंतरा और यही मांग नई सरकार के गठन मे पेँच भी फंसा सकता है. शरद पवार का और एनसीपी और कांग्रेस (Congress) नेताओं का दबाव है कि उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को महाविकास आघाड़ी का मुख्यमंत्री बनाया जाए, हालांकि उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने अबतक इसपर पत्ते नहीं खोले हैं.

ये भी देखें-:

एनसीपी को मिल सकते हैं ये ये मंत्रालय
गृह, बिजली, सहकारिता, सिंचाई, मेडिकल एजूकेशन, पर्यटन, पीडब्ल्यूडी (एमएसआरटीसी), पशुपालन, कामगार और फूड सिविल सप्लाइज.

एनसीपी कोटे से ये बन सकते हैं मंत्री
अजित पवार, दिलीप वलसे पाटिल, छगन भुजबल, धनन्जय मुंडे, जीतेंद्र आव्हाड, हसन मुश्रिफ, अनिल देशमुख, नवाब मलिक और रोहित पवार.

कांग्रेस (Congress) के कोटे में जा सकते हैं ये मंत्रालय
राजस्व, हायर एजुकेशन शिक्षा, एफडीए, अल्पसंख्यक वक्फ, महिला बाल कल्याण, सामाजिक न्याय.

इन कांग्रेस (Congress) नेताओं मिल सकते हैं ये पद
कांग्रेस (Congress) की तरफ से बालासाहेब थोरात (Balasaheb Thorat) उप मुख्यमंत्री बन सकते हैं. अशोक चव्हाण, पृथ्वीराज चव्हाण (विधानसभा Speaker), यशोमती ठाकुर , विजय वडेट्टीवार, विश्वजीत कदम, अमित देशमुख, माणिकराव ठाकरे, नसीम खान, वर्षा गायकवाड़.

शिवसेना कोटे में मंत्रालय
वित्त, शहरी विकास, शिक्षा, गृहनिर्माण, ग्रामविकास, स्वास्थ्य, कृषि, सामान्य प्रशासन, संसदीय कार्य मंत्रालय, परिवहन, उद्योग, लोकनिर्माण और पर्यावरण.

शिवसेना के ये नेता मंत्रिमंडल में दिख सकते हैं
आदित्य ठाकरे, एकनाथ शिंदे, सुभाष देसाई, रामदास कदम, अब्दुल सत्तार, गुलाबराव पाटिल, अर्जुन खोतकर, दीपक केसरकर, सँजय राठौड, रविंद्र वायकर, भास्कर जाधव, दादा भुसे, सुनील प्रभु.  

किसके कोटे में कितने मंत्री जा सकते हैं-:
शिवसेना: 15 मंत्री
एनसीपी : 15 मंत्री
कांग्रेस (Congress) : 13 मंत्री