Covid Nasal Vaccine: दुनिया की पहली कोरोना नेजल वैक्सीन, जो किसी भी वैक्सीन की बूस्टर हो सकती है
topStories1hindi1461843

Covid Nasal Vaccine: दुनिया की पहली कोरोना नेजल वैक्सीन, जो किसी भी वैक्सीन की बूस्टर हो सकती है

Corona Vaccine:  इस वैक्सीन को हाल ही में 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों में हेटेरोलोगस बूस्टर डोज के तौर पर मंजूरी मिली थी. इसका मतलब यह है कि आपने कोई भी वैक्सीन लगवाई हो तो भी आप बूस्टर डोज के तौर पर इसे लगवा सकते हैं. 

Covid Nasal Vaccine: दुनिया की पहली कोरोना नेजल वैक्सीन, जो किसी भी वैक्सीन की बूस्टर हो सकती है

Covid Vaccine:  भारत बायोटेक की नेजल वैक्सीन iNCOVACC को प्राइमरी वैक्सीन और बूस्टर वैक्सीन दोनों तरह से इस्तेमाल किया जा सकेगा.  इस वैक्सीन को हाल ही में 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों में हेटेरोलोगस बूस्टर डोज के तौर पर मंजूरी मिली थी. इसका मतलब यह है कि आपने कोई भी वैक्सीन लगवाई हो तो भी आप बूस्टर डोज के तौर पर भारत बायोटेक की नेजल वैक्सीन को लगवा सकते हैं.

भारत बायोटेक की iNCOVACC को हाल ही में प्राइमरी कोरोनावायरस नेजल वैक्सीन के तौर पर मंजूरी मिली थी. यह वैक्सीन भी दो डोज में ही दी जाएगी. दोनों डोज 28 दिन के अंतर पर दी जाएंगी.

31 लोगों पर किया गया वैक्सीन का ट्रायल
प्राइमरी वैक्सीन के तौर पर मंजूरी मिलने से पहले इस वैक्सीन को 31 लोगों में ट्रायल किया गया था. यह ट्रायल भारत में 14 जगहों पर हुआ था इसी तरह बूस्टर dose के तौर पर इसकी कार्यक्षमता देखने के लिए 875 लोगों में इसका ट्रायल हुआ और यह ट्रायल 9 जगहों पर किया गया था.

291 नए मामले आए सामने
बता दें भारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 291 नए मामले सामने आने के बाद देश में अभी तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,46,71,853 हो गई है जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 5,123 रह गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के अनुसार, केरल द्वारा संक्रमण से जान गंवाने वाले लोगों की सूची में दो और मामले जोड़े जाने के बाद कुल मृतक संख्या बढ़कर 5,30,614 हो गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या संक्रमण के कुल मामलों का 0.01 प्रतिशत है जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने वाले लोगों की राष्ट्रीय दर बढ़कर 98.80 फीसदी हो गई है। पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 140 मामलों की कमी दर्ज की गई है।

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi, अब किसी और की जरूरत नहीं

Trending news