ZEE jaankari: रक्षा बंधन वाले देश में महिलाओं की रक्षा कब?

भारत भी एक ऐसा देश बन चुका है जो अतीत की गलतियों से बिल्कुल सबक नहीं लेता है और हमारे यहां वही अपराध बार बार दोहराए जाते हैं. जो हमारे समाज के माथे पर कलंक है. 

ZEE jaankari: रक्षा बंधन वाले देश में महिलाओं की रक्षा कब?

स्पेन के महान दार्शनिक और लेखक George Santayana ने कहा था कि जो समाज अपने अतीत की गलतियों से सबक नहीं लेता...वो बार बार उन्हीं गलतियों को दोहराने वाला अपराधी बन जाता है. भारत भी एक ऐसा देश बन चुका है जो अतीत की गलतियों से बिल्कुल सबक नहीं लेता है और हमारे यहां वही अपराध बार बार दोहराए जाते हैं. जो हमारे समाज के माथे पर कलंक है. विडंबना ये है कि George Santayana का जन्म 16 दिसंबर को हुआ था.  हम आपको ये तारीख इसलिए बता रहे हैं..क्योंकि 16 दिसंबर 2012 को भारत में भी एक ऐसी घटना..घटी थी. जिसने देश के हर नागरिक को गुस्से से भर दिया था.

ये वो तारीख थी. जब देश की राजधानी दिल्ली में निर्भया के साथ रेप की वारदात हुई थी.  निर्भया केस ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था.  पूरा समाज गुस्से से उबल रहा था.  लेकिन 7 वर्षों में ही लोगों का ये गुस्सा ठंडा पड़ चुका है . , अब रेप की कोई वारदात होने पर... लोग सारा गुस्सा HashTag के ज़रिए सोशल मीडिया पर निकाल देते हैं . 

बहुत ज्यादा होता है तो आज भी कुछ लोग कैंडल मार्च निकालने लगते हैं.  नेता तरह तरह के बयान देने लगते हैं .  पुलिस अपराधियों को पकड़ने का दावा कर देती है .  रेप के साथ साथ जान गंवाने वाली पीड़ित महिला या लड़की के घर वाले अपने आंसू पोंछने पर मजबूर हो जाते हैं .  अदालतों में मामले चलते रहते हैं, न्यूज़ चैनलों पर बहस हो जाती है..लोग कैमरों के सामने बयान देकर लौट जाते हैं ..लेकिन ना तो रेप के मामले रुकते है और ना ही महिलाओं के खिलाफ हिंसा में कोई कमी आती है . 

कभी दिल्ली, कभी उन्नाव , कभी कठुआ तो कभी हैदराबाद से ऐसी वारदातों की खबरें आती रहती हैं...जिन्हें सुनकर पूरे देश को आंदोलन रत हो जाना चाहिए .  लेकिन अफसोस.. ऐसा कुछ नहीं होता .  बुधवार को तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में भी एक ऐसी वारदात घटी .  हैदराबाद में 4 लोगों ने मिलकर एक 26 साल की युवती के साथ गैंग रेप किया और उसके बाद पीड़ित का गला घोंट कर उसे मार डाला और फिर उसके शव को भी जला दिया . 

ये महिला जानवरों की डॉक्टर थी .  लेकिन अपराधियों ने इसी के साथ जानवरों जैसा बर्ताव किया और हैवानियत की सारी हदें पार कर दी . इस गैंग रेप के मुख्य आरोपी का नाम मोहम्मद आरिफ है .  जिसकी उम्र 26 वर्ष है .  इसके अलावा पुलिस ने 20 साल के जोलु शिवा..20 साल के जोलु नवीन और करीब 20 साल के ही चिंताकुंता को गिरफ्तार किया है. 

इस मामले में आज हैदराबाद पुलिस ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की..इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में पुलिस ने बताया कि अपराधियों ने पहले साजिश के तहत पीड़ित की स्कूटी को पंचर किया और फिर ..मदद के नाम पर पीड़ित को एक सुनसान जगह पर ले जाकर..उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया और फिर पकड़े जाने के डर से पीड़ित का गला घोंट कर उसे मार डाला और सबूत मिटाने के लिए उसके शव को पेट्रोल और डीजल डालकर जला दिया . 

पीड़ित के परिवार का कहना है कि..पीड़ित ने फोन करके अपनी बहन को इस बात की जानकारी दी थी..कि उसे डर लग रहा है...और उसे अपने आसपास खड़े लोगों की नीयत ठीक नहीं लग रही .  कुछ देर के बाद..पीड़ित का मोबाइल फोन स्विच ऑफ हो गया और फिर घर वालों का उससे संपर्क नहीं हो पाया. 

इसके बाद घर वालों ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई और अगले दिन पुलिस को इस लड़की की जली हुई लाश मिली .  अब तेलंगाना के गृहमंत्री कह रहे हैं कि पीड़ित को अपनी बहन की जगह पुलिस को फोन करना चाहिए था . 

हैदराबाद के गृहमंत्री कह रहे हैं कि अगर पीड़ित ने 100 नंबर पर कॉल किया होता..तो उसकी जान बच सकती थी .  लेकिन अगर सिर्फ पुलिस को फोन करने से अपराध रुक पाते ..तो हमारे देश में 2012 में हुए निर्भया केस से लेकर 2017 तक.. 1 लाख 76 हज़ार से ज्यादा रेप के मामले सामने नहीं आते. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.