close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Zee Jaankari: फूड सेफ्टी मित्र की भूमिका में आप देश को बहुत कुछ दे सकते हैं

 भारत सरकार ने आज से फूड सेफ्टी मित्र योजना की शुरुआत की है . ये फूड सेफ्टी मित्र लोगों को भोजन की बर्बादी रोकने के प्रति जागरूक करेंगे .

 Zee Jaankari: फूड सेफ्टी मित्र की भूमिका में आप देश को बहुत कुछ दे सकते हैं

आप कैसे बचे हुए खाने को ज़रूरतमंद लोगों तक पहुंचा सकते हैं और कैसे भोजन बर्बाद करने की आदत में सुधार ला सकते हैं...ये समझाने के लिए हमने आज एक वीडियो विश्लेषण किया है . इस विश्लेषण को आप 19 करोड़ लोगों का भविष्य सुधारने वाली रेसिपी भी कह सकते हैं . आज के बाद आपको भी इस रेसिपी को आज़माना चाहिए .भारत में एक दौर ऐसा भी था. जब रोटी फिल्मों का सबसे बड़ा Plot हुआ करती थी. तब फिल्मों के हीरो बचपन में दो वक्त की रोटी पाने के लिए संघर्ष करते थे. और ये संघर्ष उनकी जिंदगी बदल देता था. भारत के लोगों का भूख से रिश्ता बहुत पुराना रहा है. एक वक्त पर भारत में अकाल और सूखा पड़ने की घटनाएं बहुत आम थी.

1943 में बंगाल में जब अकाल पड़ा तो 40 लाख लोगों की मौत भूख और बीमारियों से तड़पकर हो गई. आज़ादी के बाद भी कई दशकों तक भारत भूख के साथ संघर्ष करता रहा. और यही वजह थी कि फिल्मों में भूख के खिलाफ नायक की लड़ाई को बहुत प्रमुखता से दिखाया जाता था . फिर वो दौर चला गया.. भारत ने आर्थिक तरक्की की राह पकड़ी तो फिल्मों की पटकथाएं भी बदलने लग गई .

लेकिन भूख आज भी भारत के सामने एक खलनायक बनकर खड़ी है. इसलिए आज हमने कुछ पुरानी फिल्मों के Scenes के ज़रिए ये समझाने की कोशिश की है कि अभी भी भारत के करोड़ों लोग..भूख से लड़ाई में Happy Ending का इंतज़ार कर रहे हैं. हमने आपको विश्लेषण के ज़रिए उन NGOS की जानकारी दी..

.जो आपके घर में बचे अतिरिक्त भोजन को जमा कर लेते हैं और फिर उन्हें भूखे लोगों के बीच बांट देते है . लेकिन आप इसके अलावा भी ऐसा बहुत कुछ कर सकते हैं..जो भारत के 19 करोड़ लोगों को भूख से आज़ादी दिला सकता है . इसके लिए आपको कुछ छोटे छोटे प्रयास करने होंगे .सबसे पहले आप भोजन छोटी थाली में खाना शुरु कीजिए .

इससे आपको जितनी भूख होगी..आप उतना ही खाएंगे और भोजन बर्बाद नहीं होगा .जब भी आप अपनी किचन के लिए Grocery खरीदें तो ये चेक कर लें कि कहीं आप किचन में पहले से रखे सामान को फिर से तो नहीं खरीद रहे हैं .इसके अलावा फ्रिज में भी भोजन को छोटी छोटी मात्रा में Strore करके रखें...इससे भी भोजन की बर्बादी रोकी जा सकती है .

फ्रिज के तापमान को 1 डिग्री के आसपास सेट करके रखें...इस तापमान पर खाना ज्यादा लंबे वक्त तक सुरक्षित रहता है. कोशिश करें कि आप Tray में खाना ना खाएं . Tray में खाना खाने से भोजन की ज्यादा बर्बादी होती है. और जब भी आप Grocery खरीदने जाएं...तो खाली पेट ना जाए . ये भोजन की बर्बादी रोकने का एक मनोवैज्ञानिक उपाय है.

क्योंकि जब भी आप खाली पेट खरीददारी करते हैं...तो कई बार गैरज़रूरी सामान भी खरीद लेते हैं...जो इस्तेमाल ना करने पर बेकार हो जाता है .अंग्रेज़ी में एक मशहूर कहावत है कि Charity Begins At Home यानी दान की शुरुआत घर से होती है . इसी तरह किसी भूखे को भोजन कराने की शुरुआत भी आप अपनी थाली में खाने की बर्बादी रोक कर सकते हैं.

और अब आपको भोजन की बर्बादी रोकने को लेकर भारत सरकार द्वारा उठाए जा रहे एक महत्वपूर्ण कदम के बारे में बताते हैं. भारत सरकार ने आज से फूड सेफ्टी मित्र योजना की शुरुआत की है . ये फूड सेफ्टी मित्र लोगों को भोजन की बर्बादी रोकने के प्रति जागरूक करेंगे . इन फूड सेफ्टी मित्रों को Food Safety and Standards Authority of India द्वारा ट्रेनिंग दी गई है .

सरकार की इस योजना में कोई भी शामिल हो सकता है और फूड सेफ्टी मित्र बन सकता है. इससे जुड़ी ट्रेनिंग लेकर आप भी लोगों को भोजन की बर्बादी रोकने के तरीके बता सकते हैं और बचा हुआ खाना...ज़रूरतमंद लोगों तक पहुचाने में उनकी मदद कर सकते हैं. इस योजना को लेकर केंद्रीय स्वास्थय मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने क्या कहा आपको ये भी सुनना चाहिए.