अगर डेटिंग पर जा रहे हों तो इस बात का रखें खास ख्‍याल

  डेटिंग आज के दौर का सबसे प्रचलित शब्द है. युवाओं का डेट पर जाना एक आम बात है. एक सर्वे के मुताबिक पश्चिमी देशों में लगभग 85 प्रतिशत युवा डेटिंग पर जाते हैं. हमारे देश में पिछले एक दशक में डेटिंग का चलन बढ़ा है.

अगर डेटिंग पर जा रहे हों तो इस बात का रखें खास ख्‍याल
डेटिंग से सेहत में भी पड़ता है फर्क

डेटिंग आज के दौर का सबसे प्रचलित शब्द है. युवाओं का डेट पर जाना एक आम बात है. एक सर्वे के मुताबिक पश्चिमी देशों में लगभग 85 प्रतिशत युवा डेटिंग पर जाते हैं. हमारे देश में पिछले एक दशक में डेटिंग का चलन बढ़ा है. बड़े शहरों में यह आम बात हो गई है.

डेटिंग से जुड़े एक हालिया सर्वे की मानें तो डेटिंग से सेहत पर 54 प्रतिशत पॉजिटिव असर पड़ता है, 43 प्रतिशत युवाओं ने बताया कि उनका आत्मविश्वास बढ़ता है. यह सर्वे कनाडा के एल्बेटा विश्वविद्यालय में हाल ही में किया गया. इस सर्वे की में दुनिया भर के लगभग 3 लाख युवाओं पर सेंपल स्टडी की गई और उनसे राय मांगी गई.

डेटिंग में खर्च ना करें इमोशन
इस सर्वे से जुड़ीं मनोविश्लेषक डॉक्टर ऐना कुरांडा कहती हैं, ‘डेटिंग को एक हंसी-मजाक या खेल की तरह लिया जाना चाहिए. हमारे सर्वे में यह नतीजा सामने आया कि जो लड़की या लड़का डेटिंग के दौरान या बाद में अपने साथी को ले कर इमोशनल हो जाते थे, उन्हें शारीरिक और मानसिक तौर पर नुकसान उठाना पड़ता था. डेटिंग में जितना कम इमोशंस का इस्तेमाल होगा, वह उतना ही सफल रहेगा.’

डॉक्टर ऐना का मानना है कि डेटिंग करने वाले अधिकांश लड़की या लड़का प्रेमी-प्रेमिका नहीं होते. अगर वे साथी की चाहत में एक दूसरे को डेटिंग कर रहे हैं और मिल रहे हैं, तो पहली ही मुलाकात में दूसरे के लिए भावनाएं पालना सही नहीं होता. अगर दूसरा पक्ष इस रिश्ते का आगे नहीं बढ़ाना चाहता, तो जिसने रिश्ते में इमोशन इन्वेस्ट किया है, वह टूट जाता है.

डॉ. ऐने कुरांडा डेटिंग सर्वे से निकले नतीजों का निचोड़ कुछ इस तरह बताती हैं, ‘डेटिंग की वजह से लड़के-लड़कियों की दुनिया बदलती है, वे मैच्योर होते हैं. दूसरे सेक्स को समझने और उनसे डील करने में उन्हें सहूलियत होती है. वे एक-दूसरे के लिए संवेदनशील होने लगते हैं. लेकिन डेटिंग को दिल से लगाने के कई दुष्परिणाम भी हो सकते हैं. रिश्तों में इमोशंस तभी लाएं, जब दोनों अपने प्यार के प्रति गंभीर हों. ज्यादा डेटिंग टॉक्सिक हो सकता है.’ वे यह भी मानती हैं कि डेटिंग करने के लिए महंगे रेस्तरां, होटल या सुनसान जगहों पर नहीं जाना चाहिए. ऐसे माहौल डेटिंग के लिए सबसे सही होते हैं, जहां आप सहज रहते हैं और अपने आपको बदलना नहीं पड़ता.

चीन और कोरियन देशों में युवा डेटिंग को लेकर बहुत गंभीर रहते हैं. डेटिंग के लिए वे नई ड्रेस खरीदते हैं, ब्यूटी ट्रीटमेंट करवाते हैं और यहां तक कि जरूरी सर्जरी भी करवाते हैं. उन देशों में डेटिंग को एक उत्सव के तौर पर देखा जाता है. अमूमन लड़का और लड़की डेटिंग साइट्स के जरिए आपस में मिलते हैं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.