close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार : काउंटिंग शुरू होने से पहले तेज हुई प्रत्याशियों के दिलों की धड़कन

मतगणना के पहले बीजेपी ने कहा है कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में मतों की गिनती जरूरी है. गिनती शुरू होने के पूर्व की रात कयामत की रात मानी जाती है. जो प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं, उनकी धड़कने बढ़ी रहती है.

बिहार : काउंटिंग शुरू होने से पहले तेज हुई प्रत्याशियों के दिलों की धड़कन
23 मई को होगी काउंटिंग. (फाइल फोटो)

पटना : इंतजार की घड़ियां खत्म हने वाली है. अब बस कुछ ही घंटे बाद लोकसभा चुनाव के परिणाम आने लगेंगे. गिनती शुरु होने के आधे घंटे के बाद से रुझान आने लेगेंगे. उससे पहले आज की रात 'कयामत की रात' है. इस 'कयामत की रात' से पहले नेताओं की स्थिति कैसी है? वे कैसा महसूस कर रहे हैं? राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) से लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) तक के नेता डरे और सहमे हुए हैं, लेकिन बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) बेफिक्र दिख रही है.

मतगणना की शुरुआत होने में चंद घंटे बाकी हैं. लेकिन, अभी से ही आरजेडी निश्चिंत नजर आ रही है. इस निश्चिंतता के साथ थोड़ी घबराहट भी है. आरजेडी नेता सुबोध राय ने कहा है कि हम पूरी तरह से निश्चिंत हैं. उन्होंने कहा कि महागठबंधन को अच्छी सीटें मिल रही हैं. वह यहीं नहीं रुके. उन्होने यहां तक कहा है कि देश में नई सरकार बन रही है.

वहीं, मतगणना के पहले बीजेपी ने कहा है कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में मतों की गिनती जरूरी है. गिनती शुरू होने के पूर्व की रात कयामत की रात मानी जाती है. जो प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं, उनकी धड़कने बढ़ी रहती है. नवल किशोर यादव ने कहा है कि हर प्रत्याश की दिल की धड़कन बढ़ी होंगी. चाहे वह किसी भी दल का हो. ईवीएम में वोट बंद रहने पर यह स्वभाविक है. बीजेपी नेता नवल किशोर यादव ने कहा कि प्रत्याशियों की किसमत के ताले कल खुलेंगे. बीजेपी को पता है देश की जनता उसके साथ है.

वहीं, काउंटिंग को लेकर जेडीयू पूरी तरह से बेफिक्र दिख रही है. जेडीयू नेता राजीव रंजन ने कहा है कि जो बच्चा मन लगाकर पढ़ाई करता है उसे रिजल्ट की चिंता नहीं होती. उन्होंने कहा कि जेडीयू ने जनता के बीच अपना काम किया है. नीतीश सरकार ने हर घर में नल का जल, पक्की नाली-गली, महिलाओं को आरक्षण, हर गांव में बिजली पहुंचाई है. इसलिए हम बेफिक्र हैं.

साथ ही उन्होंने कहा है कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी काम किया है. उसका लाभ पार्टी और गठबंधन को मिलेगा. लिहाजा, जेडीयू को कोई डर नहीं है. जनता एनडीए को जनादेश देगी.