EXCLUSIVE: हम जब सांसद बनेंगे तब बताएंगे कि हमने क्या किया है- दिनेशलाल यादव 'निरहुआ'

खास बातचीत में उन्होंने कहा कि जो लोगे बीजेपी के हैं, वे तो नरेंद्र मोदी के साथ हैं ही. साथ ही जो सपा और बसपा के साथ हैं वे भी मोदी को पीएम देखना चाहते हैं. मोदी जी ने मेरी माताओं बहनों की तकलीफ को समझा और उन्हें गैस कनेक्शन दिया. 

EXCLUSIVE: हम जब सांसद बनेंगे तब बताएंगे कि हमने क्या किया है- दिनेशलाल यादव 'निरहुआ'
आजमगढ़ सीट पर निरहुआ का मुकाबला यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश सिंह यादव से होने वाला है.

नई दिल्ली: भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री के जुबलीस्टार दिनेशलाल यादव 'निरहुआ' इस बार 'लोकसभा चुनाव 2019' में चुनावी मैदान में हैं और बीजेपी की तरफ से उन्हें यूपी के आजमगढ़ से उम्मीदवार बनाया गया है. इस सीट पर निरहुआ का मुकाबला यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश सिंह यादव से होने वाला है. अब तक अपनी फिल्मी करियर में निरहुआ ने खूब नाम कमाया है और अब वह राजनीतिक गलियारों में भी अपनी पहचान बनाने निकल पड़े हैं.

हम प्रधानमंत्री चुनने आए हैं
खास बातचीत में उन्होंने कहा कि जो लोगे बीजेपी के हैं, वे तो नरेंद्र मोदी के साथ हैं ही. साथ ही जो सपा और बसपा के साथ हैं वे भी मोदी को पीएम देखना चाहते हैं. मोदी जी ने मेरी माताओं बहनों की तकलीफ को समझा और उन्हें गैस कनेक्शन दिया. महिलाओ के लिए शौचालय बनवाए और आलम यह है कि आज हर घर में शौचालय है. एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि हम तो अभी आए हैं, हम जब सांसद बनेंगे तब बताएंगे कि हमने क्या किया है. वैसे भी हम प्रधानमंत्री चुनने आए हैं.

राहुल गांधी पर बी साधा निशाना
राहुल गांधी के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने तो गरीबी देखी नहीं है. वहीं, आजमगढ़ के बारे में निरहुआ ने कहा कि पता नहीं आजमगढ़ ने मेरा क्या कनेक्शन है. पहला टिकट शो मैंने आजमगढ़ में ही किया था और यहीं से टिकट शो का ट्रेंड बी चालू हो गया. यह भगवान की कृपा है कि मैं आज़मगढ़ से जुड़ा रहा हूं. 

लोगों से मैं दिल से जुड़ा हुआ हूं
जब मैंने काफी सारी फिल्म करने बाद देखा कि जो फिल्में में करना चाहता था वो नहीं बन रही थी, तो मैंने यहां अपना प्रोडक्शन हाउस बनाया डाला. मैंने यहां अकादमी जैसा बनाया है, जिससे में हमेशा यहां से जुड़ा रहूंगा. यहां के लोगों से मैं दिल से जुड़ा हुआ हूं. आजमगढ़ पर बात करते हुए निरहुआ ने कहा कि बहुत अच्छी बात है पहले भी नेताजी यहां से सांसद हैं, लेकिन यहां बीजेपी नहीं, समाजवादी पार्टी के लोग यहां साजिश कर रहे हैं. यह समाजवादी नहीं परिवार वादी पार्टी है.