close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव 2019: पहले चरण में छिटपुट घटनाओं के साथ बिहार में हुआ चुनाव, 44 लोग हुए गिरफ्तार

बिहार में लोकसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान छिटपुट घटनाओं के शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया है.

लोकसभा चुनाव 2019: पहले चरण में छिटपुट घटनाओं के साथ बिहार में हुआ चुनाव, 44 लोग हुए गिरफ्तार
पहले चरण के चुनाव में बिहार में पुलिस ने 44 लोगों को गिफ्तार किया है.

पटनाः बिहार में लोकसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान छिटपुट घटनाओं के शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया है. हालांकि पुलिस ने 44 लोगों को गिरफ्तार किया है. चार लोकसभा सीट नवादा, औरंगाबाद, जमुई और गया के साथ नवादा विधानसभा के उपचुनाव पर वोटरों ने जमकर वोटिंग की. पूरे उत्साह के साथ वोटर घर से निकले और मताधिकार का प्रयोग किया.

वोटरो का उत्साह का नतीजा यह रहा कि लोकसभा चुनाव 2014 के मुकाबले 2019 के आम चुनाव में 2.27 फीसदी इजाफा हुआ. गुरुवार को संपन्न हुए मतदान में औसत मतदान 53.06 फीसदी रहा है. लोकसभा 2014 में यह वोटिंग प्रतिशत 50.79 था. 

2014 लोकसभा चुनाव के मुकाबले औरंगाबाद में 49.85 फीसदी से बढकर 50.80 फीसदी, गया लोकसभा सीट पर 52.52 से बढ़कर 56 फीसदी, नवादा लोकसभा सीट पर 51.75 से बढ़कर 52.52 प्रतिशत, जमुई संसदीय सीट पर 48.51 से बढ़कर 54 फीसदी वोट पड़े.वोटिंग प्रतिशत की वृद्धि पर बिहार चुनाव विभाग ने खुशी जाहीर की है. 

बिहार निर्वाचन विभाग के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एच आर श्रीनिवास ने कहा कि मतदान प्रतिशत में वृद्धि से आयोग खुश है. उन्होंने कहा कि गुरुवार को चार लोकसभा सीट के कुल 24 विधानसभा सीट पर मतदान हुए. जिनमें से 15 विधानसभा सीट नकस्ली के काफी प्रभावित थे. नकस्ली प्रभावित क्षेत्र को लेकर यहां पर मतदान शाम 4 बजे तक कराई गयी है.शेष नौ विधानसभा सीटों पर मतदान सुबह के सात बजे से शाम छह बजे तक कराया गया. उन्होने कहा कि विकास कार्यों को लेकर 6 मतदान केंद्रों पर मतदान बहिष्कार की सूचना आई है.वोटरो को लाख समझाने के बाद भी वोटर मतदान केंद्र तक नहीं पहुंचे.

मतदान के दौरान नवादा,शेखपुरा जिलें में पुलिस को हवाई फायरिंग भी करनी पड़ी है. मतदान के बाद ईवीएम लूटने की कोशिश को नकाम करने के लिए पुलिस बल ने हवाई फायरिंग की है.एच आर श्रीनिवास ने कहा है कि नवादा के गोविंदपुर को 215 बूथ पर असमाजिक तत्वों द्वारा ईवीएम लूटने का प्रयास किया गया जिसे पुलिस बल ने विफल कर दिया. हालांकि इस मतदान केन्द्र पर ईवीएम का कंट्रोल यूनिट को क्षतिग्रस्त किया गया.

तोड फोड के कारण मतदान केन्द्र पर थोड़ी देर के लिए मतदान बाधित रहा. पुलिस बल ने बल दिखाते हुए मतदान फिर शुरु कराया. वहीं शेखरपुरा जिले के महमदपुर गावं में अस्वामिक तत्वों ने मतदान खत्म होने के बाद ईवीएम को लूटने का प्रयास किया.यहां भी पुलिस ने पूरे मुस्तैदी केसाथ असमाजिक तत्वों पर बल प्रयोग करते हुए उसे खदेड़ दिया. इस दौरान पुलिस ने हवाई फायरिंग भी की है. दूसरी ओर नवादा में बूथ को घेरने की कोशिश को पुलिस ने हवाई फायरिंग कर कोशिश को नाकाम किया है. इसके अलावे नवादा के सिसवा में मतदान के बाद EVM लूटने की कोशिश का जा रही थी जिसे पुलिस ने नाकाम कर दिया.ईवीएम लूटने वाले को पुलिस ने हवाई फायरिंग कर भगया.यहां से कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है,फिलहाल जांच चल रही है.

प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद एडीशनल पुलिस जेनरल हेडक्वाटर कुंदन कृष्णन ने कहा कि मतदान के दौरान कुल 45 लोगों को हिरासत में लिया गया है. सबसे अधिक नवादा में 44 असमाजिक तत्वों को पुलिस गिरफ्तार किया है तो जमुई संसदीय सीट पर भी 1 की गिरफ्तारी हुई. कुंदन कृष्णन ने कहा कि नवादा के कादिरगंज में एक मतदानकर्मी को गिरफ्तार किया गया है. वह शराब पीकर मतदान केन्द्र पर आया हुआ था.