close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मुस्लिम चेहरे के तौर पर NDA से एकमात्र सांसद बनने वाले महबूब अली कैसर को आप भी जानिए

चौधरी महबूब अली कैसर ने महागठबंधन वीआइपी प्रमुख मुकेश सहनी को हराकर विजयी परचम लहराया.

मुस्लिम चेहरे के तौर पर NDA से एकमात्र सांसद बनने वाले महबूब अली कैसर को आप भी जानिए

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) में लोकसभा चुनाव में  मोदी लहर के सामने विपक्ष हवा हो गया. इस चुनाव में बीजेपी के 302 सांसद जीते तो वही एनडीए के 351 उम्मीदवारो ने जीत हासिल की है. एनडीए के इन तमाम सांसदों में एक मुस्लिम उम्मीदवार भी संसद पहुंचा है, जिनका नाम है महबूब अली कैसर. 

महबूब अली कैसर ने बिहार की खगड़िया लोकसभा सीट से जीत हासिल की है. कैसर रामविलास पासवान की लोजपा से प्रत्याशी थे. चौधरी महबूब अली कैसर ने महागठबंधन वीआइपी प्रमुख मुकेश सहनी को हराकर विजयी परचम लहराया.  

मबहूब अली कैसर इस सीट से 2014 में भी जीते थे. माना जा रहा है कि उनकी जीत में मोदी फैक्टर बड़ा कारण रहा. वही मुस्लिम समुदाय का वोट भी उन्हें हासिल हुआ. महबूब अली कैसर हज कमेटी ऑफ इंडिया के चयरमैन भी है.शुरुआती विरोध के बाद एनडीए कार्यकर्ता एकजुट होकर कैसर के समर्थन में सामने आए और आधार वोट को बूथों तक ले जाने में सफल रहे. कैसर को लोकल होने का भी फायदा मिला.

लोजपा के टिकट से जीतने वाले कैसर बेहद शालीन स्वभाव के है. लोजपा में आने से पहले महबूब अली कैसर कांग्रेस में हुआ करते थे और बिहार कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भी रहे. बाद में नाराजगी के चलते कांग्रेस छोड़कर लोजपा ज्वाइन कर ली. महबूब अली कैसर एक बार विधायक भी रह चुके है.