प्रियंका गांधी वाड्रा ने लोगों को सुनाई 'कछुए' की कहानी, कहा- '... बोझ नहीं सहेंगे'

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के चौथे चरण में 9 राज्यों की 71 सीटों के लिए मतदान जारी है. 

प्रियंका गांधी वाड्रा ने लोगों को सुनाई 'कछुए' की कहानी, कहा- '... बोझ नहीं सहेंगे'
इस दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंच से पीएम मोदी पर तंज कसते हुए एक कहानी भी सुनाई.

चित्रकूट: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के चौथे चरण में 9 राज्यों की 71 सीटों के लिए मतदान जारी है. इन सबके बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा सोमवार को चित्रकूट के प्रत्याशी बालकुमार पटेल के समर्थन में प्रचार करने पहुंचीं. प्रियंका गांधी ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बीते 3 महीनों से यूपी में प्रचार के दौरान मुझे धरातल पर बेरोजगारी नजर आती है. आशा बहुओं और आंगनबाड़ी के कर्मचारियों को वेतन नहीं मिल रहा है. 

इस दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंच से पीएम मोदी पर तंज कसते हुए एक कहानी भी सुनाई. उन्होंने कहा कि एक तालाब में कछुओं का अहंकारी राजा था. उसने अपने मंत्री से पूछा कि कहां तक मेरा राज्य है. मंत्री ने कहा कि जहां तक आप देख रहे हैं, वहां तक आपका राज्य है. राजा ने कहा कि मुझे तो तालाब और कुछ कछुए ही दिख रहे हैं. फिर राजा ने कछुओं को बुलाकर एक दूसरे के ऊपर चढ़ा दिया. इससे राजा को खेत दिखने लगे. सबसे नीचे वाला कछुआ भूखा था. उसने कहा कि मैं बोझ नही उठा पाऊंगा. नीचे वाले कछुए ने डकार मारी तो सब कछुए गिर गए. मैं आपसे कहना चाहती हूं कि आप जागरूक बनें और सरकार से कहें कि आप बोझ नही सहेंगे.

प्रियंका ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि आप ऐसी सरकार लाएं जो आपका बोझ हल्का कर सके. उन्होंने कहा कि चुनाव के समय प्रचार करते हैं किसान सम्मान योजना का. साल में 6,000 रुपये देकर यह सरकार किसानों का सम्मान नहीं बल्कि अपमान कर रही है. उन्होंने कहा कि देश के हर परिवार को कांग्रेस सरकार सालाना 72 हजार देगी. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में 3 दिन में किसानों के कर्ज माफ किये गए. ये वादा भाजपा के 15 लाख की तरह नही है.