योगी आदित्यनाथ ने की मांग, पश्चिम बंगाल में लागू हो राष्ट्रपति शासन
Advertisement

योगी आदित्यनाथ ने की मांग, पश्चिम बंगाल में लागू हो राष्ट्रपति शासन

योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'देश के लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए सत्ता प्रायोजित हिंसा का डटकर सामना करने वाले लाखों बीजेपी कार्यकर्ताओं का अभिनंदन करता हूं.' 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को चुनौती देते हुए कहा कि याचना नहीं अब रण होगा. योगी ने पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगाने की भी मांग की .

योगी ने बंगाल रवाना होने से पहले ट्वीट किया, 'बंगाल! सबसे पहले जय श्रीराम से आप सबका अभिवादन! आज आपके बीच रहूंगा ... .' 

'राम इस देश के कण-कण में हैं'
उन्होंने कहा, 'तानाशाहों तक यह संदेश पहुंचे कि राम इस देश के कण-कण में हैं, स्वतंत्रता इस देश की जीवनी-शक्ति है और मैं बंगाल के क्रांतिधर्मी युयुत्सु का आह्वान कर रहा हूंं . याचना नहीं, अब रण होगा, जीवन जय या कि मरण होगा!' 

fallback

उन्होंने कहा, 'देश के लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए सत्ता प्रायोजित हिंसा का डटकर सामना करने वाले लाखों बीजेपी कार्यकर्ताओं का अभिनंदन करता हूं .' योगी ने कहा, 'ऐसी अलोकतांत्रिक, अराजक तृणमूल कांग्रेस सरकार को बर्खास्त करने के लिए महामहिम राष्ट्रपति जी से मांग करता हूं .' 

'चुनाव आयोग आंख बंद करके बैठा है'
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के काफिले पर हमले की निन्दा करते हुए योगी ने इस मुद्दे पर चुनाव आयोग को निशाने पर लिया . उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग आंख बंद करके बैठा है .

योगी ने एक अन्य ट्वीट किया, 'याद रखिए, बंगाल भारत का अभिन्न अंग है . बगदादी से प्रभावित होकर "बगदीदी" बनने का आपका सपना भारत माँ के सच्चे सपूत वोट की चोट से तोड़कर रहेंगे .' 

उन्होंने पूछा कि बीजेपी से भयभीत ममता बंगाल में सभाओं के मंच तोड़कर, मजदूरों को पीटकर, रैलियां रद्द करवाकर बंगाल को क्या बनाना चाहती हैं ?

Trending news