SBI का शुद्ध लाभ 34 प्रतिशत घटकर 2234 करोड़ रुपए

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने 31 दिसंबर, 2013 को समाप्त हुई तीसरी तिमाही में अपने शुद्ध लाभ में 34 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की है। इस दौरान, बैंक को 2,234 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ।

मुंबई : भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने 31 दिसंबर, 2013 को समाप्त हुई तीसरी तिमाही में अपने शुद्ध लाभ में 34 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की है। इस दौरान, बैंक को 2,234 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ।
गैर-निष्पादित आस्तियों (एनपीए) के लिए अधिक प्रावधान करने की वजह से लाभ में यह गिरावट आई। आलोच्य तिमाही में एसबीआई ने एनपीए के लिए कुल 3,428.59 करोड़ रुपये का प्रावधान किया, जबकि बीते वित्त वर्ष की इसी अवधि में उसने एनपीए के लिए 2,766.18 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था।
देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने वित्त वर्ष 2012-13 की अक्तूबर-दिसंबर तिमाही में एकल आधार पर 3,396 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ अर्जित किया था। बैंक ने बंबई शेयर बाजार को सूचित किया कि बीती तिमाही में उसकी कुल आय हालांकि, बढ़कर 39,061 करोड़ रुपये पर पहुंच गई जो बीते वित्त वर्ष की इसी अवधि में 33,992 करोड़ रुपये थी।
बैंक ने बताया कि दिसंबर के अंत में उसकी सकल गैर-निष्पादित आस्तियां 67,799.33 करोड़ रुपये रही जो बीते साल की इसी अवधि में 53,457 करोड़ रुपये थीं। आलोच्य तिमाही में बैंक का शुद्ध एनपीए बढ़कर 3.24 प्रतिशत पहुंच गया जो बीते वित्त वर्ष की इसी अवधि में 2.59 प्रतिशत था। एकीकृत आधार पर एसबीआई समूह का शुद्ध लाभ अक्तूबर-दिसंबर तिमाही में 40 प्रतिशत तक घटकर 2,838 करोड़ रुपये रह गया जो बीते वित्त वर्ष की इसी अवधि में 4,648 करोड़ रुपये था। (एजेंसी)