Breaking News
  • दिल्ली: शाहीन बाग समेत 8 सड़कें खोलने की मांग वाली याचिका पर HC ने केंद्र और दिल्ली सरकार को जारी किया नोटिस
  • कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम राहत. पटेल की एक हप्ते तक नहीं होगी गिरफ्तारी
  • एस एन श्रीवास्‍तव दिल्‍ली के अगले पुलिस कमिश्‍नर होंगे. 1985 बैच के हैं आईपीएस ऑफिसर
  • दिल्ली हिंसा: स्वरा भास्कर, अमानतुल्लाह खान और अन्य पर मामला दर्ज करने की मांग, HC ने पुलिस, राज्‍य सरकार को भेजा नोटिस
  • AAP पार्षद ताहिर हुसैन के घर पहुंची फोरेंसिक टीम

एग्जाम टाइम में बार-बार कॉल कर परेशान करती थी गर्लफ्रेंड, फेल हुआ तो मांगे साल भर के पैसे और फिर...

21 साल का स्टूडेंट बीएचएमएस में फर्स्ट ईयर में पढ़ाई करता है. पहले साल में कुछ खास न कर पाने के कारण वह फेल हो गया, जिसके बाद उसने इसका सारा इल्जाम गर्लफ्रेंड के मत्थे मढ़ दिया

एग्जाम टाइम में बार-बार कॉल कर परेशान करती थी गर्लफ्रेंड, फेल हुआ तो मांगे साल भर के पैसे और फिर...
सांकेतिक तस्वीर

नई दिल्ली : पुरानी कहावत है ये इश्क नहीं आसान, बस इतना समझ लीजिए एक आग का दरिया है और तैर कर जाना है. कई बार ये इश्क आपको कामयाब कर देता है, तो कई बार आरके लिए नुकसानदायक साबित हो जाता है. कुछ ऐसा ही महाराष्ट्र के औरंगाबाद में देखने को मिली है. यहां एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसके हर किसी को चौका दिया है. दरअसल, औरंगाबाद में एक शख्स गर्लफ्रेंड के चक्कर में एक शख्स फेल हो गया. जिसके बाद उसने गर्लफ्रेंड से साल भर के पैसे मांग लिए. लड़की बॉयफ्रेंड के इलजाम से इतनी परेशान हो गई कि उसने पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी और उसे गिरफ्तार करा दिया.

जानकारी के मुताबिक, 21 साल का स्टूडेंट बीएचएमएस में फर्स्ट ईयर में पढ़ाई करता है. पहले साल में कुछ खास न कर पाने के कारण वह फेल हो गया, जिसके बाद उसने इसका सारा इल्जाम गर्लफ्रेंड के मत्थे मढ़ दिया. शख्स का कहना है कि एग्जाम के दौरान उसकी गर्लफ्रेंड कई बार फोन करके उसको परेशान करती थी और बात करने के लिए मजबूर करती थी, जिसके कारण उसके नंबर कम आए. 

लड़की ने बॉयफ्रेंड से बात करना बंद कर दिया और ब्रेकअप करने का फैसला कर लिया. लेकिन लड़के ने उसको नहीं छोड़ा. वो बार-बार कॉल और मैसेज किया करता था और कॉलेज फीस के लिए पैसे मांगता था. एक शख्स के प्यार की ऐसी कहानी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. सोशल मीडिया यूजर्स का कहना है कि लड़के ने फेल होने का सारा जिम्मा गर्लफ्रेंड पर इसलिए थोपा ताकि वह अपने माता-पिता से दोबारा खर्च मांग सकें.