close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चोट लगने पर इलाज कराने अस्पताल पहुंचा कुत्ता, सोशल मीडिया पर Viral हुआ दिल छू लेने वाला Video

फार्मासिस्ट बानू केंगिज ने स्ट्रीट डॉग को ध्यान से निहारा और उसके पंजे पर लगी चोट देखकर समझ गईं कि वह इसी के चलते परेशान है. इसके बाद बानू ने कुत्ता के पंजे पर लगे घाव को साफ करती हैं और उस पर दवा लगाती हैं.

चोट लगने पर इलाज कराने अस्पताल पहुंचा कुत्ता, सोशल मीडिया पर Viral हुआ दिल छू लेने वाला Video
कुत्ते को पंजे में चोट लगी थी. (फोटो साभारः twitter/@badores)

नई दिल्लीः सोशल मीडिया पर इन दिनों एक स्ट्रीट डॉग और एक फार्मासिस्ट का दिल को छू लेने वाला वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है, जिसे देखकर लोग स्ट्रीट डॉग और फार्मासिस्ट के बीच के बॉन्ड की काफी तारीफ कर रहे हैं और इसे जमकर शेयर कर रहे हैं. दरअसल, यह वायरल वीडियो इंस्ताबुल का है, जहां एक स्ट्रीट डॉग घायल हालत में एक फॉर्मेसी की दुकान के दरवाजे पर खड़ा होकर काफी देर तक यहां-वहां भटक रहा था. ऐसे में दरवाजा खुला देखकर वह अंदर घुस जता है, जिस पर शॉप में पहले से मौजूद एक दूसरा कुत्ता उसकी ओर भागता है, लेकिन तभी एक फार्मासिस्ट वहां आ जाती है, जिसे देखकर दूसरा कुत्ता अलग भाग जाता है. ऐसे में फार्मासिस्ट कुत्ते को देखकर तुरंत समझ जाती है कि कुत्ते को चोट लगी है और वह बेहद दर्द में है.

ऐसे में फार्मासिस्ट बानू केंगिज ने स्ट्रीट डॉग को ध्यान से निहारा और उसके पंजे पर लगी चोट देखकर समझ गईं कि वह इसी के चलते परेशान है. इसके बाद बानू ने कुत्ता के पंजे पर लगे घाव को साफ करती हैं और उस पर दवा लगाती हैं. वहीं राहत महसूस होने पर कुत्ता बानू के हाथ में अपना पंजा रखता है और वहीं खुशी से लेट जाता है. ऐसे में यह वीडियो अब हर तरफ चर्चा का विषय बना हुआ है और लोग फार्मासिस्ट और एक बेजुबान जानवर के बीच के प्यार की काफी तारीफ कर रहे हैं.

Video: देखिए कैसे अचानक भरभरा कर टूट पड़ा पहाड़, जान बचाने कोई भागा यहां तो कोई वहां

इस वीडियो को बैडोर्स नाम के एक शख्स ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है. जिसे अब तक 12 लाख से भी ज्यादा बार देखा जा चुका है. वहीं 15 हजार से भी ज्यादा बार इस वीडियो को ट्वीट किया जा चुका है. वहीं फार्मासिस्ट बानू केंगिज का कहना है कि 'जब वह इलाज कराने आया तो मेरे सामने अपना पंजा रख दिया और लेट गया. शायद वह यह जताने की कोशिश कर रहा था कि उसे मुझ पर भरोसा है.'