close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पीठ दर्द के इलाज के लिए इंजेक्शन में अपना ही Semen भर कर लगाता रहा शख्स, अब हो गया है ये हाल

 डेढ़ साल बाद जब युवक को अपने हाथ में गठान महसूस हुई तो वह डॉक्टर के पास पहुंचा, जिसके बाद युवक की कहानी सुन डॉक्टर भी हैरान रह गए.

पीठ दर्द के इलाज के लिए इंजेक्शन में अपना ही Semen भर कर लगाता रहा शख्स, अब हो गया है ये हाल
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्लीः लंबे समय से पीठ दर्द से जूझ रहे एक शख्स ने इससे छुटकारा पाने के लिए ऐसा इलाज किया, जिसके बारे में जानकर डॉक्टर्स भी हैरान रह गए. दरअसल, काफी समय से पीठ दर्द से जूझ रहे इस 33 व्यक्ति ने दर्द से राहत पाने के लिए खुद ही इसका इलाज करने का सोचा और एक इंजेक्शन में अपना सीमन भर कर इंजेक्ट करना शुरू कर दिया. शुरुआती दौर में राहत महसूस होने पर युवक ने यह सिलसिला जारी रखा और डेढ़ साल से लगातार यह क्रम जारी रखा. डेढ़ साल बाद जब युवक को अपने हाथ में गठान महसूस हुई तो वह डॉक्टर के पास पहुंचा, जिसके बाद युवक की कहानी सुन डॉक्टर भी हैरान रह गए.

सिर पर चढ़ा था फेमस होने का भूत, 11वीं मंजिल से लगा दी छलांग; VIDEO में देखिए फिर क्या हुआ

बता दें यह घटना आयरलैंड की है, जहां इस युवक को सामान उठाते वक्त पीठ में तकलीफ हो गई थी. काफी समय तक इलाज के बाद भी जब यह दर्द ठीक नहीं हुआ तो उसने दर्द का इलाज खुद ही करने की ठान ली और दर्द होने पर अपना सीमन इंजेक्शन में भरकर इसे शरीर में इंजेक्ट करना शुरू कर दिया. बता दें इस पूरी घटना का खुलासा तब हुआ जब हाथ में गांठ पड़ने पर वह अस्पताल पहुंचा. यहां पहुंचने पर जब डॉक्टर्स ने पूछताछ की तब जाकर युवक ने डॉक्टर को इसके बारे में बताया.

Video: जिमनास्टिक की माइकल जैक्सन कही जाती हैं कैटलिन, हवा में दिखाती हैं कमाल की करतब

युवक ने डॉक्टर को बताया कि पीठ दर्द से राहत पाने के लिए वह पिछले 18 महीने से अपना सीमन इंजेक्शन में भरकर इंजेक्ट करता आ रहा है. डॉक्टर्स के मुताबिक युवक हाथ में जहां सीमन का इंजेक्शन लगाता था, वहां अब गठान पड़ चुकी है और पूरे हाथ में सूजन है. फिलहाल डॉक्टर्स ने व्यक्ति के शरीर में मौजूद सीमन का इलाज करना शुरू कर दिया है. जिसके तहत डॉक्टर युवक को इंट्रावेनस एंटी बायोटिक्स देना शुरू कर दिया है. वहीं जानकारों का कहना है कि अगर जल्द ही यह सीमन व्यक्ति के शरीर से नहीं निकाला गया तो समस्या और भी बढ़ सकती है.