महिला की अजीबोगरीब ख्वाहिश; दोस्तों को दावत देकर खुद का करा डाला अंतिम संस्कार- देखें Pics

मरने के पहले लोगों के अंदर अजीबोगरीब तरह की ख्वाहिशें होती हैं. मौत पर उनके दोस्त कैसा बिहैवियर रखेंगे और आखिरी वक्त कैसा होगा, उसका अंदाजा लगाने के लिए एक महिला ने अजीब सी इच्छा जताई.

अल्केश कुशवाहा | May 13, 2021, 18:11 PM IST
1/5

महिला की अजीबोगरीब तरह की ख्वाहिश

Peculiar kind of woman's desire

डेली स्टार के खबर के मुताबिक, चिली देश की राजधानी सैंटिएगो में एक महिला ने अजीबोगरीब तरह से अपने अंतिम संस्कार को महसूस करने की इच्छा जताई. किराए के कॉफिन को लेकर उसमें कुछ घंटे बिताए और अपने दोस्तों को चारों तरफ से खड़ा करके रोने के लिए कहा.

2/5

खुद को ताबूत में रखकर किया अंतिम संस्कार

Last rites performed by placing himself in a coffin

59 वर्षीय महिला मायरा अलोंजो (Mayra Alonzo) ने अपने दोस्तों के मौजूदगी में एक ताबूत में लेटकर घंटों बिताया और अंतिम संस्कार के लिए रोने का नाटक किया, क्योंकि वह अपनी जिंदगी का जश्न मनाना चाहती थी.

3/5

अंतिम संस्कार का भी किया पूर्वाभ्यास

Rehearsal of last rites also

पिछले महीने के आखिर में मायरा अलोंजो ने अपने घर पर अपने अंतिम संस्कार का पूर्वाभ्यास किया, जिसमें अपने दोस्तों को शोक मनाने के लिए आमंत्रित किया. एक हार्स (जहां लोगों को दफनाया जाता है) में अलोंजो अपने अंतिम संस्कार में पहुंचे, जहां एक सफेद ताबूत पड़ा था, जिसे उसने दिन के लिए किराए पर लिया गया था.

4/5

खर्च कर दिए इतने हजार रुपए

Spent so many thousand rupees

महिला एक सफेद पोशाक में थी और फूलों का मुकुट पहना हुआ था. इतना ही नहीं, उसने अपने नाक में रुई लगा रखी थी. डोमिनिकन न्यूज साइट के अनुसार, इस पार्टी को आयोजित करने के लिए 710 यूरो डॉलर यानी करीब 52 हजार रुपए खर्च किए गए, जिसमें दर्जनों में मेहमानों के लिए खानपान की भी व्यवस्था की गई थी.

5/5

दोस्त व पड़ोसी कर रहे थे रोने का नाटक

Friends and neighbors were pretending to cry

परिवार के लोग, दोस्त व पड़ोसी रोने का नाटक कर रहे थे, ताकि अंतिम संस्कार के वक्त उनकी ऐसी तस्वीरें आए. इस इवेंट के बारे में अलोंजो ने बताया कि यह सपना पूरा होने जैसा लगा. हालांकि यह तस्वीरें जब सोशल मीडिया पर आई तो कुछ लोगों ने इसकी आलोचना भी की, क्योंकि कोरोनावायरस के दौर में इतने लोगों की जान जा रही है.