मृत्यु आने से पहले मिलते हैं ये 8 संकेत, Shivpuran में किया गया है उल्लेख

हर इंसान यह जानने को उत्सुक रहता है कि उसकी मौत (Death) कब और कैसे होगी? शिवपुराण (Shivpurana) में मौत से पहले के कुछ संकेतों (Indications Before Death) के बारे में बताया गया है.

मृत्यु आने से पहले मिलते हैं ये 8 संकेत, Shivpuran में किया गया है उल्लेख
शिवपुराण

नई दिल्ली. इस धरती (Earth) पर जो पैदा हुआ है उसकी मौत (Death) निश्चित है. मौत एक अटल सत्य है, जिसे झुठलाया नहीं जा सकता है. हर इंसान अपनी मौत से सबसे ज्यादा डरता है. उसके मन में अपनी मौत को लेकर कई तरह की बातें चलती रहती हैं.

शिवपुराण में बताए गए मृत्यु के संकेत

हर कोई लंबी जिंदगी जीना चाहता है, लेकिन मौत (Death) का जिक्र होते ही सबकी रूह कांप जाती है. हर इंसान यह जानने को उत्सुक रहता है कि उसकी मौत कब और कैसे होगी? आज तक इस सवाल का जवाब को नहीं दे पाया है, लेकिन शिवपुराण (Shivpuran) में मौत से पहले के कुछ संकेतों (Indications Before Death) के बारे में बताया गया है.

यह भी पढ़ें- Shani Dev को क्यों चढ़ाया जाता है तेल? यहां जानिए पौराणिक कथा

शिव जी ने माता पार्वती को बताए थे मृत्यु के संकेत

शिवपुराण के अनुसार, एक बार माता पार्वती ने शिव जी (Lord Shiva) से पूछा, 'मृत्यु के क्या संकेत हैं, मृत्यु निकट आने से पहले कौन-कौन लक्षण और संकेत प्राप्त होते हैं'? तब शिव जी ने मृत्यु का समय निकट आने पर मिलने वाले ये संकेत माता पार्वती को बताए.

यह हैं मृत्यु आने से पहले के संकेत (Indications Before Death)

1. शिवपुराण के अनुसार, जब किसी इंसान का शरीर पीला या सफेद पड़ जाए तो ऐसे इंसान की मृत्यु छह माह के भीतर होना निश्चित है.

2. जब किसी इंसान का मुंह, जीभ, कान, आंखें और नाक अचानक पथरा जाए. इसका मतलब है कि ऐसे इंसान की छह माह बाद मृत्यु हो जाती है.

3. शिवपुराण के अनुसार, अगर कोई किसी इंसान को सूर्य, चंद्रमा या आग से उत्पन्न रोशनी नजर नहीं आती है तो ऐसे में वह इंसान छह माह से ज्यादा जीवित नहीं रहता है.

यह भी पढ़ें- Number Facts: क्या घड़ी में अक्सर दिखाई देता है 11:11? जानिए इसका महत्व और जिंदगी पर होने वाला असर

4. अगर किसी इंसान को रंग पहचानने में दिक्कत हो जाए या अचानक उसे सब कुछ काला नजर आने लगे, ऐसे इंसान की मृत्यु बेहद निकट होती है.

5. शिवपुराण में बताया गया है कि जब इंसान का बाया हाथ एक सप्ताह तक लगातार फड़फड़ाता रहे तो उस इंसान की मृत्यु एक माह बाद हो जाती है.

6. शिवपुराण के अनुसार, जब किसी इंसान की जीभ फूल जाए, दांतों से मवाद निकलने लगे और स्वास्थ्य खराब हो जाए, तो समझिए उस इंसान का जीवनकाल छह माह में समाप्त होने वाला है.

7. शिवपुराण में कहा गया कि जब इंसान को पानी, तेल और दर्पण में अपनी परछाई नजर न आए या फिर परछाई विकृत दिखाई दे. ऐसे इंसान का जीवन छह माह शेष होता है.  

8. शिवपुराण में बताया गया है कि जब इंसान को अपनी छाया अपने से अलग नजर आने लगे तो समझिए उस इंसान की मृत्यु एक माह में होना निश्चित है.

धर्म से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.