BREAKING NEWS

बीमारियां दूर कर आपकी उम्र बढ़ाता है Mahamrityunjaya Mantra, जानें किस समय करें ये जाप और सही नियम क्या है

Mahamrityunjaya Mantra Benefits: भगवान शिव का सबसे शक्तिशाली मंत्र है महामृत्युंजय मंत्र. इस मंत्र के जाप से अकाल मृत्यु के भय से मुक्ति मिलती है और बड़े से बड़ा रोग भी ठीक हो जाता है.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | May 11, 2021, 10:25 AM IST

नई दिल्ली: इन दिनों कोरोना महामारी की वजह से चारों तरफ नकारात्मकता फैली हुई है. हर तरफ से सिर्फ लोगों के बीमार होने और मृत्यु की सूचना ही मिल रही है. जिस तरह से रोजाना लाखों लोग इस बीमारी की चपेट में आ रहे हैं उसे देखते हुए सभी तरह के ऐहतियाती कदम उठाने के बाद भी आपके मन में बीमार होने का डर कहीं न कहीं जरूर होगा. ऐसे समय में मन शांत करके ईश्वर की आराधना करने के साथ ही अगर आप महामृत्युंजय मंत्र (Mahamrityunjaya Mantra) का जाप करें तो यह कई तरह से फायदेमंद हो सकता है.

1/5

महामृत्युंजय मंत्र का महत्व

importance of Mahamrityunjaya Mantra

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्‌।
उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात्‌॥

देवों के देव महादेव का सबसे शक्तिशाली मंत्र है महामृत्युंजय मंत्र. इस मंत्र के जाप से अकाल मृत्यु के भय से मुक्ति मिलती है. साथ ही मंत्र के जाप से बड़ा से बड़ा रोग भी ठीक हो जाता है और जीवन की कई समस्याएं और बाधाएं भी दूर हो जाती हैं. इस मंत्र के जाप से आप अपनी या फिर जिसके लिए भी आप ये जाप कर रहे हों उसकी उम्र बढ़ा सकते हैं. आगे जानते हैं महामृत्युंजय मंत्र जाप के फायदे.

2/5

बीमारियों से बचाता है यह मंत्र

Mahamrityunjaya Mantra keeps diseases away

इन दिनों आस पास कोरोना जैसी बेहद खतरनाक बीमारी मौजूद है. ऐसे में खुद को और अपने परिवार के सभी सदस्यों को स्वस्थ और सुरक्षित रखने के लिए आप रोजाना स्नान करने के बाद इस मंत्र का जाप कर सकते हैं. अगर आपको किसी तरह की कोई बीमारी हो तो सुबह स्नान के बाद रुद्राक्ष की माला से 108 बार इस मंत्र का जाप करने से सभी तरह की बीमारियां दूर हो जाती हैं.

3/5

अकाल मृत्यु से बचाता है ये मंत्र

Mahamrityunjaya Mantra saves from untimely death

महामृत्युंजय मंत्र भगवान शिव को प्रसन्न करने का महामंत्र है और इस मंत्र के जाप से अकाल मृत्यु से बचने में मदद मिल सकती है. अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में गंभीर बीमारी, दुर्घटना या अकाल मृत्यु का योग हो तो इस मंत्र के जाप से उस योग को टाला जा सकता है. 

4/5

डर को दूर कर मन को शांत करता है

Mahamrityunjaya Mantra keeps fear away

अगर आपके मन में भी किसी बात या किसी चीज को लेकर कोई डर है तो महामृत्युंजय मंत्र (Mahamrityunjaya Mantra) का जाप अवश्य करें. रोजाना 108 बार इस मंत्र का जाप करने से मन शांत होता है और सभी तरह के डर दूर हो जाते हैं.

5/5

महामृत्युंजय मंत्र जाप से जुड़े नियम

Mahamrityunjaya Mantra Rules

-महामृत्युंजय मंत्र का जाप सोमवार के दिन या फिर प्रदोष के दिन करना चाहिए क्योंकि ये दोनों ही दिन भगवान शिव के हैं और इस दिन मंत्र जाप करने से विशेष लाभ मिलता है.

-जाप करते समय रुद्राक्ष की माला से ही जाप करें क्योंकि संख्याहीन जाप का फल प्राप्त नहीं होता है.

-इस मंत्र का जाप करते समय शिवजी की प्रतिमा, तस्वीर, शिवलिंग या महामृत्युंजय यंत्र को अपने पास अवश्य रखें.

-जाप के समय उबासी न लें, आलस्य न करें और जाप के समय मन को इधर-उधर न भटकाएं. 

-मंत्र जाप के दौरान बीच में किसी से बात न करें.

(नोट: इस लेख में दी गई सूचनाएं सामान्य जानकारी और मान्यताओं पर आधारित हैं. Zee News इनकी पुष्टि नहीं करता है.)

धर्म से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.