close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Ashes: रिकी पोंटिंग ने बताया उस गेंदबाज का नाम, जो स्टोक्स को रोक सकता था

ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड को आखिरी विकेट के लिए 76 रन की साझेदारी करने से नहीं रोक पाए थे.

Ashes: रिकी पोंटिंग ने बताया उस गेंदबाज का नाम, जो स्टोक्स को रोक सकता था

मैनचेस्टर: ऑस्ट्रेलिया की टीम एशेज सीरीज (Ashes Series) के तीसरे टेस्ट में जीत के बेहद करीब पहुंचकर भी हार गई थी. इस मैच में ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज इंग्लैंड (England) को आखिरी विकेट के लिए 76 रन की साझेदारी करने से नहीं रोक पाए थे. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) का मानना है कि मिचेल स्टार्क लीड्स में हुए इस टेस्ट मैच में बेन स्टोक्स और जैक लीच को रोक सकते थे. स्टोक्स के नाबाद 135 रन की बदौलत इंग्लैंड ने तीसरे एशेज टेस्ट मैच में एक विकेट से जीत दर्ज की. 

पिछले मैच में एक समय इंग्लैंड का स्कोर 286/9 था. तब उसे मैच जीतने के लिए 73 रन की दरकार थी. ऐसे समय में स्टोक्स ने जैक लीच के साथ शानदार साझेदारी निभाते हुए मेजबान टीम को जीत दिलाई. 

‘क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू’ ने पोंटिग के हवाले से बताया, ‘मैं यह मानूंगा जैसे-जैसे मैच हमारे हाथों से बाहर जा रहा था, मुझे विश्व कप में ओवल मैदान पर स्टार्क द्वारा डाली गई उस शानदार यॉर्कर की याद आ रही थी जिसने स्टोक्स की विकेट उखाड़ फेंकी थी.’ पॉटिग ने कहा, ‘मैं नहीं सामझता कि जैक लीच जैसा खिलाड़ी मिचेल स्टार्क की 150 किलोमीटर प्रति घंटा से रिवर्स स्विंग होती गेंद का सामना कर पाता.’ 

जोस हेजलवुड, पैट कमिंस और जेम्स पैटिंसन ने बहुत प्रयास किए, लेकिन उन्हें आखिरी विकेट नहीं मिला. पोंटिंग ने कहा, ‘कमिंस टीम से बाहर नहीं जाएंगे. अगर वे कोई बदलाव करना चाहेंगे तो मेरे मुताबिम पैटिंसन को फिर से आराम दिया जाएगा. दूसरी पारी में दूसरी नई गेंद से उनके स्पेल को छोड़ दें तो उन्होंने पूरे मैच में दमदार गेंदबाजी की.’

पोंटिंग ने कहा, ‘जैसे-जैस मैच आगे बढ़ा पैटिंसन बेहतर होते गए, उनके पास लय थी. मैं समझता हूं कि उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की, लेकिन वे देखेंगे कि स्टार्क डर्बी में कैसा खेलते हैं. अगर वे वहां अच्छी गेंदबाजी नहीं करते तो मैं नहीं समझता कि टीम में कोई बदलाव होगा.’ चौथा टेस्ट मैच चार सितंबर से शुरू होगा. पांच मैचों की सीरीज फिलहाल, 1-1 से बराबर चल रही है.