IND vs NZ: न्यूजीलैंड ने भारत को पहले टेस्ट में दी करारी शिकस्त, पढ़ें मैच की पूरी रिपोर्ट

India vs New Zealand: न्यूजीलैंड ने भारत को पहले टेस्ट मैच में 10 विकेट से हरा दिया है. इसके साथ ही उसने सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है. 

IND vs NZ: न्यूजीलैंड ने भारत को पहले टेस्ट में दी करारी शिकस्त, पढ़ें मैच की पूरी रिपोर्ट
भारतीय कप्तान विराट कोहली इस मैच में सिर्फ 21 रन बना सके. वे पहली पारी में 2 और दूसरी पारी में 19 रन बनाकर आउट हुए. (फोटो: Reuters)

नई दिल्ली: मेजबान न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम (Team India) की शुरुआत खराब रही है. न्यूजीलैंड ने भारत को सीरीज के पहले टेस्ट मैच में करारी शिकस्त दी है. उसने भारत को 10 विकेट से हराया. इस जीत के साथ ही न्यूजीलैंड ने दो मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है. न्यूजीलैंड की यह टेस्ट क्रिकेट में 100वीं जीत है. वह 100 टेस्ट जीतने वाली दुनिया की सातवीं टेस्ट टीम बन गई है. भारत और न्यूजीलैंड के बीच अब दूसरा टेस्ट 29 फरवरी से क्राइस्टचर्च में खेला जाएगा. 

भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच पहला टेस्ट मैच वेलिंगटन में खेला गया. शुक्रवार (21 फरवरी) को शुरू हुए मैच में भारतीय टीम दोनों ही बार 200 के कम के स्कोर पर आउट हो गई. टिम साउदी (Tim Southee) ने भारत को सस्ते में समेटने में अहम भूमिका निभाई. उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया. टिम साउदी ने पहली पारी में चार और दूसरी पारी में पांच विकेट झटके. 

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: कप्तान कोहली ने हार के बाद मानी गलतियां, बताई कहां हो गई चूक

न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी की. उसने भारत को पहली पारी में 165 रन पर समेटा. फिर खुद 348 रन बनाकर 183 रन की विशाल बढ़त हासिल की. भारतीय बल्लेबाजी पहली पारी की तरह दूसरी पारी में भी फेल हो गई. पूरी भारतीय टीम दूसरी पारी में 191 रन बनाकर आउट हो गई. इस तरह न्यूजीलैंड को जीत के लिए 9 रन का लक्ष्य मिला, जो उसने बिना विकेट खोए हासिल कर लिया. 

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: न्यूजीलैंड ने भारत को हराकर रचा इतिहास, ऐसा करने में लग गए 90 साल

न्यूजीलैंड ने यह मैच सिर्फ चार दिनों में जीत लिया. चौथे दिन (24 फरवरी) जब खेल की शुरुआत हुई तो भारत का स्कोर चार विकेट पर 144 रन था और अजिंक्य रहाणे 25 और हनुमा विहारी 15 रन बनाकर नाबाद थे. भारत को उम्मीद थी कि ये दोनों बल्लेबाज संकट को से उबारेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हो सका. अभी टीम के स्कोर में चार रन ही जुड़े थे कि रहाणे और विहारी दोनों ही आउट हो गए. देखते ही देखते स्कोर छह विकेट पर 148 रन हो गया. 

अजिंक्य रहाणे और हनुमा विहारी के आउट होने के बाद भारत पर पारी की हार का खतरा मंडराने लगा. ऋषभ पंत (25) और ईशांत शर्मा (12) ने भारत को इस शर्मनाक स्थिति से बचाया. हालांकि, वे टीम को ऐसी स्थिति में नहीं पहुंचा सके, जहां से टीम जीत के लिए प्रयास कर सकती. भारत की दूसरी पारी में टिम साउदी ने सबसे अधिक पांच झटके दिए. ट्रेंट बोल्ट ने चार विकेट लिया. 

तीसरी बार 10 विकेट से हारे
यह टेस्ट इतिहास में तीसरा मौका है, जब न्यूजीलैंड ने भारतीय टीम को 10 विकेट से हराया है. इससे पहले उसने 1989 में क्राइस्टचर्च और 2002 में हैमिल्टन में भारत को इस अंतर से हराया था. भारतीय टीम 1989 में क्राइस्टचर्च टेस्ट में 164 और 296 रन बनाकर आउट हो गई थी. जबकि, 2002 में हैमिल्टन टेस्ट में खेले गए मैच में भारतीय टीम सिर्फ 99 और 154 रन बना सकी थी.