IND vs SL: भारतीय खिलाड़ी क्यों हो रहे चौके-छक्के मारने में नाकाम? सामने आई बड़ी वजह

IND vs SL: टीम इंडिया के खिलाड़ी टी20 सीरीज में श्रीलंका के खिलाफ ज्यादा बाउंड्री मारने में नाकाम रहे हैं. इसके पीछे एक बड़ी वजह सामने आई है.    

IND vs SL: भारतीय खिलाड़ी क्यों हो रहे चौके-छक्के मारने में नाकाम? सामने आई बड़ी वजह
फोटो (BCCI)

नई दिल्ली: श्रीलंका ने भारत को तीन मैचों की सीरीज के दूसरे टी20 में 4 विकेट से मात दी. इसी के साथ श्रीलंकाई टीम ने सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है. सीरीज का तीसरा मैच आज है. इस सीरीज में देखने को मिला है कि भारतीय बल्लेबाज ज्यादा चौके-छक्के नहीं मार पाए हैं. 

गेंदबाजी कोच का बड़ा बयान

भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच पारस म्हाम्ब्रे (Paras Mhambrey) का कहना है कि श्रीलंका में बड़ी बाउंड्री भारतीय बल्लेबाजों के लिए चुनौती खड़ी कर रही है. म्हाम्ब्रे ने कहा, 'बाउंड्री आसान नहीं है जो भारतीय बल्लेबाजों के लिए चुनौतीपूर्ण है. आपको सिंगल्स और डबल रन के लिए काम करने की जरूरत है. यहां ढलना काफी महत्वपूर्ण है.'

भारतीय बल्लेबाज नहीं मार पा रहे बाउंड्री

भारत ने बुधवार को खेले गए दूसरे टी20 मुकाबले में सिर्फ सात चौके लगाए थे जिसमें से पांच शिखर धवन के बल्ले से निकले जबकि देवदत्त पडीकल ने एक चौका और एक छक्का जड़ा था. पहले टी20 में भारतीय बल्लेबाजों ने 12 बाउंड्री लगाई थी जिसमें से धवन ने चार और सूर्यकुमार यादव ने पांच बाउंड्री लगाई. यादव ने दो छक्के भी जड़े थे. म्हाम्ब्रे (Paras Mhambrey) ने कहा, 'आमतौर पर भारत में बड़ी बाउंड्री नहीं होती है. विशेषकर आईपीएल में आपको छोटी बाउंड्री देखने को मिलती है. जाहिर है कि यह युवाओं और स्पिनरों के लिए एक अवसर है.'

श्रीलंका ने बराबर की सीरीज

भारत के द्वारा दिए गए 133 रनों का पीछा करते हुए श्रीलंका ने 19.4 ओवरों में 6 विकेट खोकर इस लक्ष्य को हासिल कर लिया. एक समय ऐसा लग रहा था कि भारत इस मैच को जीत सकता है लेकिन अंत में श्रीलंका ने आखिरी ओवर में बाजी मारी. श्रीलंका की ओर से धनंजय डी सिल्वा ने नाबाद 40 रन की मैच जिताऊ पारी खेली. भारत की ओर से कुलदीप यादव ने सबसे ज्यादा दो विकेट अपने नाम किए.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.