close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDWvsENGW: भारत ने इंग्लैंड को 7 विकेट से हराया, लगातार चौथी वनडे सीरीज जीती

भारतीय महिलाओं ने इंग्लैंड की टीम को महज 161 रन पर समेटा. फिर 3 विकेट गंवाकर मैच जीत लिया. 

INDWvsENGW: भारत ने इंग्लैंड को 7 विकेट से हराया, लगातार चौथी वनडे सीरीज जीती
झूलन गोस्वामी ने इंग्लैंड की चार बल्लेबाजों को आउट किया. वे वनडे क्रिकेट में सबसे अधिक 215 विकेट लेने वाली क्रिकेटर हैं. (फोटो: PTI)

मुंबई: भारतीय महिला क्रिकेट टीम (Women's Cricket) ने दूसरे वनडे में इंग्लैंड को हराने के साथ ही आईसीसी चैंपियनशिप में अपना दबदबा कायम रखा है. उसने इंग्लैंड को पहले वनडे मैच में भी हराया था. इस तरह मेजबान टीम ने इस सीरीज (Indian vs England) में 2-0 की अजेय बढ़त ले ली है. भारतीय टीम को इस जीत से दो अंक मिले. भारतीय टीम ने इंग्लैंड को पहले वनडे में 32 रन से हराया था. दोनों टीमों के बीच तीसरा वनडे गुरुवार (28 फरवरी) को खेला जाएगा. 

36 साल की झूलन गोस्वामी को दूसरे वनडे में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी (प्लेयर ऑफ द मैच) का अवॉर्ड दिया गया. भारतीय टीम की यह आईसीसी वनडे चैंपियनशिप (ICC Women's Championship) में लगातार चौथी सीरीज जीती है. उसने इसी महीने न्यूजीलैंड को उसके घर पर 2-1 से हराया था. भारतीय टीम इससे पहले 2018 में श्रीलंका और इंग्लैंड दोनों को 2-1 से हरा चुकी है. 

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया दूसरा वनडे भारतीय गेंदबाजों के नाम रहा. झूलन गोस्वामी और शिखा पांडे ने चार-चार विकेट लेकर इंग्लैंड की महिला टीम को 161 रन पर समेट दिया. पूनम यादव ने भी दो विकेट झटके. इंग्लैंड की ओर से नताली शिवर ने सबसे अधिक 85 रन बनाए. इंग्लैंड की टीम 43.3 ओवर ही क्रीज पर टिक सकी. झूलन गोस्वामी ने छठी बार एक पारी में चार विकेट लिए हैं. शिखा पांडे ने करियर में दूसरी बार एक पारी में चार विकेट झटके. 

यह भी पढ़ें: INDvAUS: गेंदबाज उमेश यादव के बचाव में उतरे जसप्रीत बुमराह, फैंस ने साधा था निशाना

भारतीय टीम ने इसके जवाब में 41.1 ओवर में तीन विकेट गंवाकर लक्ष्य हासिल कर लिया. भारत की ओर से स्मृति मंधाना ने सबसे अधिक 63 रन बनाए. 22 साल की स्मृति का यह 15वां अर्धशतक है. वे 49 वनडे मैचों के करियर में 4 शतक भी लगा चुकी हैं. वे औसतन हर तीसरी पारी में 50 से बड़ा स्कोर बनाती हैं. 

भारतीय टीम ने लक्ष्य का पीछा करते हुए पहला विकेट एक रन पर ही गंवा दिया. जेमिमाह रोड्रिगेज बिना खाता खोले आउट हो गईं. लेकिन बाएं हाथ की ओपनर बल्लेबाज स्मृति ने शानदार पारी खेली. उन्होंने पूनम राउत के साथ 73 और कप्तान मिताली राज के साथ 66 रन की साझेदारी की. वे जब 63 रन बनाकर आउट हुईं, तब तक टीम का स्कोर 140 रन पहुंच चुका था. इसके बाद कप्तान मिताली राज ने दीप्ति शर्मा के साथ टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया. मिताली राज 47 और दीप्ति शर्मा छह रन बनाकर नाबाद रहीं. पूनम राउत ने 32 रन बनाए.