close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IPL-12: बेंगलुरू की जीत से बिगड़ा पंजाब का खेल, प्लेऑफ की रेस हुई दिलचस्प

विराट कोहली की टीम बेंगलुरु ने रविचंद्रन अश्विन की कप्तानी वाले पंजाब को 17 रन से हराया. यह उसकी चौथी जीत और पंजाब की छठी हार है. 

IPL-12: बेंगलुरू की जीत से बिगड़ा पंजाब का खेल, प्लेऑफ की रेस हुई दिलचस्प
एबी डिविलियर्स और मार्कस स्टोइनिस ने बेंगलुरू के लिए 66 गेंदों पर 121 रन की नाबाद साझेदारी की. (फोटो: PTI)

नई दिल्ली/बेंगलुरु: विराट कोहली की टीम बेंगलुरू ने आईपीएल-12 (IPL-12) में बुधवार को पंजाब को हराकर प्लेऑफ की रेस को और रोमांचक बना दिया. बेंगलुरू (Royal Challengers Bangalore) ने इस मैच में चार विकेट पर 202 रन का विशाल स्कोर बनाया. पंजाब (Kings XI Punjab) की टीम इसके जवाब में एक समय जीत की ओर बढ़ रही थी, लेकिन वह आखिरी ओवरों में लड़खड़ा गई. वह निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट पर 185 रन ही बना सकी. यह बेंगलुरू की 11 मैचों में चौथी जीत है. उसने इस जीत से ना सिर्फ प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीद कायम रखी है, बल्कि पंजाब का रास्ता मुश्किल भी बना दिया है. पंजाब की यह 11 मैचों में छठी हार है. 

यह आईपीएल-12 का 42वां मैच था. इस मैच के बाद बेंगलुरू की टीम आठ अंकों के साथ प्वाइंट टेबल में आठवें से सातवें नंबर पर पहुंच गई है. पंजाब की टीम 10 अंक के साथ पांचवें नंबर पर कायम है. बेंगलुरू के अभी तीन मैच बाकी हैं. अगर वह तीनों मैच जीत ले तो उसके 14 अंक हो जाएंगे. ऐसा होने पर वह अगर-मगर के समीकरण के साथ अंतिम-4 की रेस में बनी रहेगी. दूसरी ओर, पंजाब के अब 11 मैचों में 10 अंक हैं. अगर वह बाकी बचे तीनों मैच जीत ले तो प्लेऑफ में पहुंचना तय है. अगर वह एक भी मैच हारी तो अगर-मगर के समीकरण में उलझ जाएगी. 

यह भी पढ़ें: गांगुली के बाद सचिन-लक्ष्मण भी हितों के टकराव मामले में घिरे, BCCI लोकपाल ने भेजा नोटिस

बेंगलुरू के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए इस मैच में पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का निर्णय लिया. बेंगलुरू ने पहले बैटिंग करते हुए चार विकेट पर 202 रन का बड़ा स्कोर बनाया. उसकी ओर से एबी डिविलियर्स (नाबाद 82 रन, 44 गेंद) ने सबसे अधिक रन बनाए. मार्कस स्टोइनिस (नाबाद 46 रन, 34 गेंद) और पार्थिव पटेल (43 रन, 24 गेंद) ने भी बेहतरीन पारियां खेलीं. कप्तान विराट कोहली 13 रन बनाकर आउट हुए. मोइन अली (4) और अक्षदीप नाथ (3) दोहरी रनसंख्या नहीं छू सके. पंजाब की ओर से मोहम्मद शमी, मुरुगन अश्विन, कप्तान रविचंद्रन अश्विन और हार्डस विलियन ने एक-एक विकेट लिया. 

इसके जवाब में पंजाब ने अच्छी शुरुआत की. ओपनर केएल राहुल (42 रन, 27 गेंद) और क्रिस गेल (23 रन, 10 गेंद) ने पहले विकेट के लिए 3.2 ओवर में 42 रन जोड़े. गेल के आउट होने के बाद मयंक अग्रवाल (35 रन, 21 गेंद) ने भी बढ़िया पारी खेली. पंजाब ने अपने 100 रन नौवें ओवर में ही पूरे कर लिए. मयंक अग्रवाल 10वें और केएल राहुल 11वें ओवर में आउट हुए. उस वक्त लगा कि बेंगलुरू की टीम मैच में वापसी कर लेगी. लेकिन वेस्टइंडीज के निकोलस पूरन (46 रन, 28 गेंद) ने पंजाब की उम्मीदें कायम रखीं. 

निकोलस पूरन की बैटिंग की बदौलत पंजाब ने एक समय 17 ओवर में तीन विकेट पर 167 रन बना लिए थे. तब उसे जीत के लिए 18 गेंद पर 36 रन चाहिए थे. यह आईपीएल के रिकॉर्ड के लिहाज से आसान टारगेट था. लेकिन बेंगलुरू ने आखिरी ओवरों में सटीक गेंदबाजी करते हुए बाजी पलट दी. निकोलस पूरन 19वें ओवर की आखिरी गेंद पर आउट हुए और इसके साथ ही पंजाब की जीत की उम्मीदें भी टूट गईं.