केपीएल सट्टेबाजी: हिरासत में ही रहेंगे आरोपी क्रिकेटर, अभिमन्यु मिथुन को समन पर संशय

KPL betting: अभी यह साफ नहीं है कि कर्नाटक के स्टार गेंदबाज अभिमन्यु मिथुन को जांच के लिए समन भेजा गया है या नहीं.

केपीएल सट्टेबाजी: हिरासत में ही रहेंगे आरोपी क्रिकेटर, अभिमन्यु मिथुन को समन पर संशय
सीएम गौतम केपीएल में बेंगलुरू ब्लास्टर्स के लिए खेल चुके हैं. (फोटो: IANS)

बेंगलुरू: कर्नाटक प्रीमियर लीग (केपीएल) में आरोपी खिलाड़ी सीएम. गौतम और अबरार काजी के अलावा सट्टेबाज को पुलिस हिरासत में ही रहेंगे. बाकियों को जमानत दे दी गई है. एक अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी. केंद्रीय अपराध शाखा के पुलिस उप-आयुक्त कुलदीप जैन ने हा, ‘काजी और गौतम तथा सट्टेबाज सय्यम पुलिस हिरासत में ही रहेंगे, जबकि अन्य आरोपियों को जमानत दे दी गई है.’

बेंगलुरू ब्लास्टर्स की टीम के सदस्य काजी और गौतम को सात नवंबर को भारतीय अपराध संहिता (आईपीसी) की धारा 420 के तहत पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था. हरियाणा के रहने वाले सट्टेबाज सय्यम को 11 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था. जिन आरोपियों को जमानत मिली है, उनमें बेंगलुरू ब्लास्टर्स के निशांत सिंह शेखावत और विश्वनाथन, उनके गेंदबाजी कोच वीनू प्रसाद और बलारी टस्कर्स के भुवनेश बाफ्ना के नाम शामिल हैं. 

कुलदीप जैन ने यह नहीं बताया कि क्या पुलिस ने अभिमन्यु मिथुन को जांच के लिए समन भेजा है कि नहीं. एक स्थानीय रिपोर्ट में जैन ने कहा है, ‘आपके निश्चित सवाल का निश्चित जवाब नहीं दे सकता. हमने कई लोगों को समन भेजा है और जांच जारी है. हमने कई खिलाड़ियों और अधिकारियों को समन भेजा है.’ 

अभिमन्यु मिथुन ने ही सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में शुक्रवार को ही एक ओवर में पांच विकेट झटके. कर्नाटक के मिथुन ने हरियाणा के खिलाफ यह प्रदर्शन किया. मिथुन भारत के लिए चार टेस्ट और पांच वनडे खेल चुके हैं. जैन ने वहीं कहा है कि कर्नाटक राज्य क्रिकेट संघ (केएससीए) से जानकारी निकलवाना एक लंबी प्रक्रिया है जो अभी तक पूरी नहीं हुई है.