Lal Bahadur Shastri News

alt
नई दिल्ली: बनारस देश में पहला ऐसा शहर है जहां के रहने वाले या उससे जुड़ी 8 हस्तियां देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' से सम्मानित की जा चुकी हैं, दूसरे शब्दों में कहें तो बाबा विश्वनाथ की नगर वाराणसी 'भारत रत्नों का शहर' बन गया है. इस सम्मान को पाने वाली वाराणसी की ये विभूतियां कौन हैं, यदि इस पर नज़र डालें तो न सिर्फ हमें बनारस की गंगा-जमुनी तहजीब की जीवन्तता पता चलती है, बल्कि घाटों के शहर कहे जाने वाले बनारस में ज्ञान-विज्ञान और संगीत की त्रिवेणी के होने का एहसास भी पुख्ता हो जाता है. देश के उच्चतम नागरिक सम्मान भारत रत्न की स्थापना 2 जनवरी, 1954 को भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद ने की थी.
Jan 2,2021, 16:18 PM IST
alt
जब देश में अपातकाल लगा था तब न्यूज एजेंसियों, समाचार पत्रों के दफ्तरों में ताले लगा दिए गए थे. कुछ ही घंटे में देश बदल चुका था. आपातकाल के खिलाफ बोलने वाले नेताओं के जेल में भरा जा रहा था. साथ ही उन सभी संस्थाओं पर बैन लग रहे थे जो इस मत के थे कि आपातकाल देश के लोकतंत्र के खिलाफ है. संघ के सभी बड़े अधिकारियों को जेल में डाल दिया गया. तत्कालीन सर संघ चालक बाला साहब देवरस को पहले मुंबई उसके बाद उनको यरवदा जेल ट्रांसफर कर दिया गया लेकिन हां ये जरूर था कि संघ पर प्रतिबंध सबसे बाद में लगा. संघ के प्रचार समिति पूर्व अध्यक्ष और तरुण भारत के तत्कालीन मुख्य संपादक माधव गोविद वैद्य भी इस बैन के कारण जेल गए. वो बताते हैं कि 9 दिन बाद संघ पर प्रतिबंध लगा. देखिए संगठन में कहानी संघ की
Feb 11,2019, 12:56 PM IST
alt
1965 की मार्च में पड़ोसी पाकिस्तान ने जानबूझ कर कच्छ के रण में झड़पें शुरू कर दीं. पाकिस्तान मान रहा था कि 3 साल पहले चीन से मिली बड़ी हार से भारत का मनोबल कमजोर है. लिहाजा पाकिस्तान के तत्कालीन विदेशमंत्री ज़ुल्फिकार अली भुट्टो ने राष्ट्र्पति और सेनाध्यक्ष जनरल अयूब खान पर दबाव डाला कि वो कश्मीर पर हमले का आदेश दें. देश में उन दिनों कांग्रेस की सरकार लाल बहादुर शास्त्री के नेतृत्व में चल रही थी. शास्त्री जी ने लाल किले की प्राचीर से पाकिस्तान को चुनौती दी और कहा कि हमें हथियार का जवाब हथियार से देना आता है. देखिए संगठन में पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए गुरू जी ने प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को दिया कौन सा गुरु मंत्र...
Feb 11,2019, 12:49 PM IST
Read More

Trending news