एमएसके प्रसाद ने खोला राज, चयन समिति ने कब से वर्ल्डकप की तैयारी शुरू कर दी थी
topStorieshindi

एमएसके प्रसाद ने खोला राज, चयन समिति ने कब से वर्ल्डकप की तैयारी शुरू कर दी थी

एमएसके प्रसाद ने बताया है कि चयन समिति ने काफी समय पहले से वर्ल्डकप की तैयारी शुरू कर दी थी. 

एमएसके प्रसाद ने खोला राज, चयन समिति ने कब से वर्ल्डकप की तैयारी शुरू कर दी थी

नई दिल्ली: टीम इंडिया के चयनकर्ता समिति के प्रमुख एमएसके प्रसाद ने इस बात का खुलासा किया है कि चयन समिति ने इस साल मई में होने वाले आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप के लिए तैयारियां कब से शुरू कर दी थीं. आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप इस साल 30 मई से शुरू होने जा रहा है. पिछली काफी सीरीज से पहले देखा जा रहा था कि जब भी टीम इंडिया की की वनडे टीम चुनी जाती है तब हमेशा ही वर्ल्ड कप का जिक्र जरूर होता था. इस मामले में तेजी पिछले साल जून से आई थी जब टीम इंडिया इंग्लैंड के दौरे जाने वाली थी. 

प्रसाद के मुताबिक वर्ल्ड कप के लिए  टीम इंडिया को तैयार करने की योजना काफी पहले से शुरू हो गई थी. एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में प्रसाद ने बताया कि चयन समिति ने साल 2017 से ही वर्ल्ड कप की अपने स्तर पर तैयारी शुरू कर दी थी. प्रसाद ने कहा कि योजना पर काम चैंपियन्स ट्रॉफी 2017 के फाइनल के ठीक बाद ही शुरू हो गई थी. इस मैच में टीम इंडिया को पाकिस्तान के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था. इसी टूर्नामेंट में इससे पहले टीम इंडिया ने पाकिस्तान को ग्रुप स्तर पर हरा दिया था. 
प्रसाद ने कहा कि हमने हर मैच के बाद टीम की कमियों का विश्लेषण किया और हमने इन कमियों को दूर करने पर काम शुरू कर दिया. हमने टीम कॉम्बिनेशन पर खास तौर पर काम किया. हमें लगता है कि हम जो चाहते थे उसमें काफी हद तक सफल भी रहे. 

अभी काफी समस्याएं नहीं सुलझी हैं टीम इंडिया की
यहां यह कहना जरूरी होगा की अब भी टीम इंडिया की कुछ समस्याएं हल नहीं हुई हैं. इनमें से सबसे खास है टीम के मध्य क्रम की बल्लेबाजी. इसमें चौथे क्रम की बल्लेबाजी भी शामिल थी. अंबाती रायडू अपनी लय में पूरी तरह से आए नहीं हैं न ही उनमें वह विश्वास दिख रहा है जिसकी टीम को जरूरत है.  इसके अलावा टीम इंडिया को जिस तरह से भारत न्यूजीलैंड के बीच वनडे सीरीज के चौथे मैच में केवल 92 रन के स्कोर पर ढेर हो गई थी उससे टीम मैनेजमेंट सहित चयनकर्ताओं की चिंताएं बढ़ा दी हैं. इस मैच में विराट कोहली  और एमएस धोनी के बिना उतरी टीम इंडिया के लिए अंबाती रायडू और दिनेश कार्तिक ने शून्य और केदार जाधव ने केवल एक रन बनाए थे. वहीं अपना पहला मैच खेल रहे शुभमन गिल ने 9 रन बना सके थे. 

ऐसा है टीम इंडिया का कार्यक्रम
टीम इंडिया 2019 वर्ल्डकप में पांच जून को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेगी और अपने नौ राउंड रॉबिन लीग मैचों को छह अलग-अलग मैदानों पर खेलेगी. भारत अपने अभियान की शुरुआत 5 जून से करेगा. उसका पहला मुकाबला अफ्रीका के साथ साउथंप्टन के हैंपशायर में होगा. टीम इंडिया का दूसरा मुकाबला 9 जून को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ओवल में, 13 जून को न्यूजीलैंड के साथ नॉटिंघम में 16 जून को पाकिस्तान के साथ मैनचेस्टर में, अफगानिस्तान के खिलाफ साउथेम्प्टन में 22 जून को, 27 जून को वेस्टइंडीज के खिलाफ मैनचेस्टर में, बर्मिंघम में 30 जून को इंग्लैंड के खिलाफ, दो जुलाई को बांग्लादेश के साथ बर्मिंघम में, लीड्स में छह जुलाई को श्रीलंका के खिलाफ खेलेगी

इन देशों के खिलाफ अभ्यास मैच खेलेगी टीम इंडिया
टीम इंडिया विश्व कप से पहले न्यूजीलैंड और बांग्लादेश से अभ्यास मैच खेलेगा. सभी दस टीमों को टूर्नामेंट से पहले दो अभ्यास मैच खेलने हैं जो इंग्लैंड और वेल्स के चार स्थानों पर खेले जायेंगे. आईसीसी ने एक विज्ञप्ति में कहा, ‘‘ये मैच 24 से 28 मई के बीच खेले जायेंगे जो ब्रिस्टल, कार्डिफ, हैंपशर बाउल और द ओवल पर खेले जायेंगे.’’ भारत 25 मई को न्यूजीलैंड से और 28 मई को बांग्लादेश से खेलेगा. अभ्यास मैच 50 ओवरों के होंगे लेकिन इन्हें वनडे का आधिकारिक दर्जा नहीं होगा. टीमें अपने सभी 15 सदस्यों को उतार सकेंगी.

Trending news