MS Dhoni की जिद्द से T20 World Cup में टिका है ये 'फ्लॉप' खिलाड़ी, BCCI कब का बाहर करने वाली थी
X

MS Dhoni की जिद्द से T20 World Cup में टिका है ये 'फ्लॉप' खिलाड़ी, BCCI कब का बाहर करने वाली थी

T20 World Cup में हार्दिक पांड्या टीम इंडिया की बड़ी कमजोरी बन गए हैं. वो ना तो गेंदबाजी ही करते हैं और ना बल्ले से कुछ कमाल कर रहे हैं. लेकिन वो एक खास वजह से अभी भी टीम में बने हुए हैं.  

MS Dhoni की जिद्द से T20 World Cup में टिका है ये 'फ्लॉप' खिलाड़ी, BCCI कब का बाहर करने वाली थी

नई दिल्ली: टीम इंडिया के ताबड़तोड़ ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या पूरी दुनिया में अपनी घातक बल्लेबाजी के लिए मशहूर हैं. बल्ले के साथ-साथ हार्दिक गेंद से भी मैच को पलटने के लिए जाने जाते हैं. लेकिन मौजूदा टी20 वर्ल्ड कप में हार्दिक टीम इंडिया की सबसे बड़ी कमजोरी बन गए हैं. ये खिलाड़ी बल्ले से तो कुछ कमाल दिखा ही नहीं रहा इसके अलावा गेंदबाजी किए हुए तो हार्दिक को लंबा समय हो गया. ऐसे में इतने खराब प्रदर्शन के बाद भी उन्हें टीम में जगह मिलने पर लगातार सवाल उठ रहे हैं. 

धोनी की वजह से टीम में हैं हार्दिक 

इसी बीच हार्दिक पांड्या के सेलेक्शन को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है. दरअसल टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के मुताबिक एक सूत्र ने ये खुलासा किया है कि हार्दिक को पहले टीम में जगह नहीं दी जा रही थी लेकिन धोनी के कहने पर उन्हें मौका दिया गया. सूत्र ने कहा, 'सच्चाई तो ये है कि सेलेक्टर्स आईपीएल के बाद ही हार्दिक को भारत भेजना चाहते थे क्योंकि उन्होंने आईपीएल में भी गेंदबाजी नहीं की थी. लेकिन एमएस धोनी ने उनकी पैरवी की और उन्हें एक फिनिशर के तौर पर शामिल करने की बात कही.'

बन गए हैं टीम इंडिया की बड़ी कमजोरी 

हार्दिक पांड्या इस वक्त टीम इंडिया की सबसे बड़ी कमजोरी बन गए हैं. सभी को हार्दिक से ये उम्मीद रहती है कि वो निचले क्रम में आकर तूफानी बल्लेबाजी करेंगे और मैच को भारत के रुख में पलट देंगे. लेकिन उनका बल्ला बेहद खामोश रहा है और छक्के लगाना तो दूर वो अब पिच पर ज्यादा देर टिक भी नहीं पाते. वहीं गेंदबाजी में पहले हार्दिक के रूप में एक अच्छा विकल्प मिल जाता था, लेकिन अब तो लंबे समय से उन्होंने गेंद को हाथ भी नहीं लगाया है. 

गेंदबाजी का अभ्यास किया

हार्दिक पांड्या ने महीनों बाद बुधवार को पहली बार नेट में गेंदबाजी की जिससे न्यूजीलैंड के खिलाफ महत्वपूर्ण टी20 विश्व कप मैच के लिए टीम में बतौर ऑलराउंडर उनकी वापसी की संभावनाएं बढ़ गई हैं. अगर उन्हें टीम में चुना जाता है तो भारत को जरूरी छठे गेंदबाज का विकल्प मिल जाएगा. भारत को सुपर 12 के शुरुआती मैच में पाकिस्तान से 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था जिससे टीम के लिए न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में जीतना जरुरी है. 

बिगड़ रहा था टीम का संतुलन 

हार्दिक गेंदबाजी नहीं कर पा रहे थे जिससे टीम का संतुलन बिगड़ गया था. हार्दिक ने अंतिम बार जुलाई में श्रीलंका सीरीज में गेंदबाजी की थी और मुंबई इंडियंस के लिए इंडियन प्रीमियर लीग में खेलते हुए उन्होंने यूएई में एक भी ओवर नहीं डाला था. पाकिस्तान के खिलाफ मैच में बल्लेबाजी करते हुए हार्दिक के कंधे में चोट भी लग गई थी और उन्हें स्कैन के लिए जाने के कारण वह भारत की पारी के बाद मैदान में नहीं उतर सके थे. बुधवार को हार्दिक ने स्ट्रेंथ और कंडिशनिंग कोच सोहुम देसाई और फिजियो नीतिन पटेल के मार्गदर्शन में ‘फिटनेस ड्रिल’ की.'

 
 
       

Trending news