close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: स्कूली बच्चों के शानदार ‘जिमनास्टिक्स’ देख बोले खेल मंत्री, ‘मुझे इनसे मिलवाओ’

एक वायरल वीडियो में दो स्कूली बच्चे जिम्नास्टिक करतब करते हुए दिख रहे हैं. खेल मंत्री किरन रिजिजू ने इस वीडियो को लाइक कर कहा है कि उन्हें इन बच्चों से मिलवाया जाए.

VIDEO: स्कूली बच्चों के शानदार ‘जिमनास्टिक्स’ देख बोले खेल मंत्री, ‘मुझे इनसे मिलवाओ’
किरन रिजिजू खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए सोशल मीडिया पर बहुत सक्रिय है. ( फोटो : फाइल)

नई दिल्ली: भारत में इस समय खेलों को खास तौर पर बढ़ावा दिया जा रहा है. केंद्रीय खेल मंत्री किरन रिजिजू (Kiran Rijiju) खेलों को लेकर बहुत जागरुक हैं और देश में प्रतिभाओं के प्रोत्साहित करने के लिए सक्रिय रहते हैं. इसके लिए वे सोशल मीडिया पर भी नजर रखते हैं. हाल ही में उन्होंने सोशल मीडिया पर एक विडियो का संज्ञान लिया और मध्यप्रदेश के एक धावक को प्रोत्साहित किया. इस कड़ी में रिजिजू की नजर एक और वीडियो पर गई है जिसमें दो स्कूल के बच्चे सड़क से गुजरते हुए जिमनास्टिक के शानदार करतब दिखा रहे हैं. रिजिजू ने सोशल मिडिया पर आग्रह किया है कि उन बच्चों को उनसे मिलवाया जाए. 

रोमानिया की जिमनास्ट नादिया ने शेयर किया यह वीडियो
सोशल मीडिया पर यह वीडियो किसी और ने नहीं बल्कि रोमानिया की जिमनास्ट नादिया कोमनीक ने शेयर किया है. नादिया ने अपने जमाने की बेहतरीन जिमनास्ट रही हैं और उन्होंने इतिहास में पहली पारी ओलंपिक जिमनास्ट के एक ईवेंट में 10 में से पूरे 10 अंक हासिल कर इतिहास रचा था.  इसमें स्कूल के दो छात्र, एक लड़का और एक लड़की. बीच सड़क पर ही जिमनास्ट की प्रतिभा दिखा रहे हैं. इस वीडियो में पहले लड़का एक समरसॉल्ट लगाता है इसके बाद लड़की दौड़कर आती है और एक के बाद एक दो समरसॉल्ट लगाती है. 

यह भी पढ़ें: टेस्ट करियर के पहले ही दिन छाए 143 किलो के रखीम कॉर्नवॉल, पुजारा को आउट कर लिए 2 कैच

क्या कहा खेलमंत्री ने
इस वीडियो को खेलमंत्री ने लाइक कर शेयर किया और लिखा, “मुझे खुशी है कि नादिया ने इस ट्वीट किया. वे पहली जिमनास्ट है जिन्होंने 1976 के मौंट्रिलल ओलंपिक में परफेक्ट 10.0 अंक हासिल किए और उसके बाद छह और परफेक्ट 10 हासिल कर तीन गोल्ड मेडल जीते. यह इसे (वीडियो को) बहुत खास बनाता है. मैंने गुजारिश की है कि मुझे इन बच्चों से मिलवाया जाए.” 

पहले भी कर चुके हैं ऐसा 
इससे पहले रिजिजू ने मध्यप्रदेश के एक धावक रामेश्वर गुर्जर को भी प्रोत्साहित कर उसका ट्रायल करवाया था जब उसका एक वीडिया वायरल हुआ था जिसमें वे वह 100 मीटर की रेस लगभग 11 सेकंड में पूरी करते हुए दिखाए दिए थे. इसके बाद रिजिजू ने मध्य प्रदेश का 'उसेन बोल्ट' कहे जाने वाले रामेश्वर को एथलेटिक्स अकादमी में डालने और प्रशिक्षित करने का आश्वासन दिया था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी देश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं. हाल ही में उन्होंने नेशनल स्पोर्ट्स डे पर फिट इंडिया मूवमेंट की शुरूआत की. 
यह अभियान हर भारतवासी के लिए है ताकि वे स्वस्थ और फिट रह सकें.