close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsWI: वेस्टइंडीज से दूसरा टेस्ट जीते तो देश के नंबर-1 कप्तान बन जाएंगे कोहली

भारत और वेस्टइंडीज के बीच दूसरा टेस्ट 30 अगस्त से खेला जाना है. भारत पहला टेस्ट मैच जीत चुका है. 

 INDvsWI: वेस्टइंडीज से दूसरा टेस्ट जीते तो देश के नंबर-1 कप्तान बन जाएंगे कोहली
विराट कोहली 47 टेस्ट मैचों में भारत की कप्तानी कर चुके हैं. (फोटो: ANI)

नई दिल्ली: वेस्टइंडीज से पहला जीतने के बाद छुट्टियां पर निकले भारतीय क्रिकेटर वापस मैदान पर लौट आए हैं. भारतीय टीम (Team India) अब 30 अगस्त से दूसरा टेस्ट मैच खेलने की तैयारी कर रही है. यह भारत-विंडीज सीरीज (India vs West Indies) का आखिरी मैच भी है. भारत के पास यह मैच जीतकर या ड्रॉ खेलकर सीरीज अपने नाम करने का मौका है. टीम के अलावा भारतीय क्रिकेटरों, खासकर विराट कोहली (Virat Kohli) के पास एक ऐसा रिकॉर्ड बनाने का मौका है, जिससे वे देश के नंबर-1 कप्तान बन जाएंगे. 

विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने अब तक 47 टेस्ट मैच खेले हैं. वे भारत की ओर से सबसे अधिक टेस्ट मैचों में कप्तानी करने के मामले में संयुक्त रूप से तीसरे नंबर पर हैं. उनके अलावा मोहम्मद अजहरुद्दीन और सुनील गावस्कर भी 47-47 टेस्ट मैचों में कप्तानी कर चुके हैं. एमएस धोनी (MS Dhoni) इस मामले में पहले नंबर पर हैं. उन्होंने 60 और सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने 49 टेस्ट मैचों में कप्तानी की है. 

विराट कोहली सबसे अधिक मैचों में कप्तानी करने के मामले में भले ही संयुक्त रूप से तीसरे नंबर पर हों. लेकिन वे सबसे अधिक टेस्ट जीतने के मामले में संयुक्त रूप से पहले नंबर पर हैं. भारत ने विराट की कप्तानी में 27 टेस्ट मैच जीते हैं. एमएस धोनी भी भारत को बतौर कप्तान इतने ही मैच जिता चुके हैं. अब अगर भारत 30 अगस्त से खेले जाने वाले टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज को हराता है, तो यह विराट की कप्तानी में भारत की 28वीं जीत होगी. ऐसा होते ही वे देश के सबसे सफल टेस्ट कप्तान बन जाएंगे. 

विराट की कप्तानी में 57% मैच जीता भारत 
अगर हम प्रतिशत की बात करें तो विराट कोहली यहां भी देश के सबसे सफल कप्तान हैं. भारत ने उनकी कप्तानी में 57.44% मैच जीते हैं. इस मामले में एमएस धोनी (45%) दूसरे और सौरव गांगुली (42.85%) तीसरे नंबर पर हैं. जब हम प्रतिशत में जीत की बात करते हैं, तो सिर्फ उन्हीं कप्तानों को शामिल किया गया है, जिन्होंने कम से कम 5 मैचों में कप्तानी की है. अजिंक्य रहाणे और रवि शास्त्री (Ravi Shastri) का जीत का रिकॉर्ड 100% है. लेकिन रहाणे ने सिर्फ दो और शास्त्री ने महज एक मैच में कप्तानी की है. इसलिए इन दोनों के रिकॉर्ड को अपवाद माना जा सकता है.