जयराम शुक्ल

पद्मश्री बाबूलाल दाहिया : देसी अन्नों का देहाती विश्वामित्र

दाहिया जी को यह सम्मान पारंपरिक बीजों के संरक्षण और उनकी खेती के विस्तार को प्रोत्साहन देने के लिए मिला है. वे पिछले पंद्रह सालों से देसी बीजों की तलाश में पूरा देश घूम चुके हैं. बाबूलाल एक साथ दस काम ओढ़े हुए चलते हैं.

Jan 30, 2019, 04:43 PM IST

लोकतंत्र की पीठ पर शनि की साढ़ेसाती

तेलंगाना और राजस्थान में मतदान के साथ ही विधानसभा चुनाव 2018 संपन्न हो गया. चुनाव खत्म होते ही सभी प्रत्याशी ज्योतिष के संपर्क में पहुंचने लगे हैं, हालांकि उनके तकदीर का फैसला 11 दिसंबर को होगा.

Dec 7, 2018, 07:38 PM IST

मध्य प्रदेश चुनाव 2018: इस बार किसी ने नहीं कहा- 'एमपी में लहर है'

पांच राज्यों में से तीन में जहां मतदान हो चुके हैं क्या कोई लहर थी? अब तक किसी भी मीडिया रिपोर्ट में या नेताओं के श्रीमुख से सुनने को नहीं मिला कि मध्यप्रदेश में कोई लहर थी. मतदाता खामोश है. कशमकश हर सीट में है. माई के लाल नाराज हैं. कुलजमा यही सुनने को मिला. 

Nov 30, 2018, 09:10 AM IST

कृष्णा राजकपूर: जिन्होंने बालीवुड में घोली रीवा की संस्कृति की महक

राजकपूर को ग्रेट शोमैन के रूप में गढ़ने का योगदान रीवा को है. कृष्णा कपूर यहीं जन्मी, पली, बढ़ीं और पढ़ी. इसी एक अक्टूबर को उनके निधन के बाद जो संस्मरण पढ़ने को मिल रहे हैं उनमें एक मूलस्वर यही है.

Oct 2, 2018, 07:15 PM IST

'श्रीनिवास तिवारी' अष्टधातुई देवों से अलग एक जन नेता

भाजपाई इस मामले में ज्यादा चतुर हैं. श्रीनिवास तिवारी के निधन के बाद सबसे पहले पहुंचने वाले बड़े नेताओं में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान थे.

Sep 16, 2018, 08:14 PM IST

गणेश उत्सव के बहाने शिव के समाजवाद की सैर

लालबाग के राजा के गल्ले में एक अरब का चढ़ावा आता है तो अपने रमचन्ना के गोबर के गनेश में एक टका. पर कृपा बराबर. रमचन्ना की हैसियत लालबाग के राजा वाले पंडाल के संयोजक से कम नहीं.

Sep 13, 2018, 06:28 PM IST

शिवमंगल सिंह सुमन: कालिदास की शेषकथा के अमर गायक

सुमनजी लिखते तो अद्भुत थे ही, उससे अच्छा प्रस्तुत करते थे..उनकी भाषणकला बेहतर थी या लेखन कला तय कर पाना मुश्किल. दिखने में तो शुभ्रवस्त्रावृता थे ही साक्षात् वाणी पुत्र लगते थे. उनकी स्मृति को नमन...

Aug 5, 2018, 03:46 PM IST

इमरजेंसी : जब छात्रों की हुंकार ने सिंहासन हिला दिया

इमरजेंसी को नागरिक अधिकारों पर सबसे बड़ा हमला माना गया. आज भी इसकी डरावनी तस्वीर पेश की जाती है. वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैय्यर ने अपनी आत्मकथा "बियांड द लाइन्स" में इमरजेन्सी के कारणों का तथ्यपरक ब्योरा दिया है.

Jun 29, 2018, 04:08 PM IST

आपातकाल की याद- एक और नसबंदी ने पासा पलट दिया

1974 में मध्यप्रदेश की विधानसभा में दिए गए उनके एक भाषण की प्रति भी हाथ लगी, जिसमें उन्होंने जेपी को राष्ट्रद्रोही बताते हुए गिरफ्तार करने की मांग की थी. बाद में एक बार उनसे मैंने पूछा कि जिन जयप्रकाश नारायण ने जोशी-यमुना-श्रीनिवास का नारा दिया था उन्हें ही बाद में आपने राष्ट्र द्रोही बताया इस पर तिवारी जी ने जवाब दिया था कि मैं राजनीति में दोहरी प्रतिबद्धता पर यकीन नहीं करता, तब सोशलिस्टी था अब कांग्रेसी हूं.

Jun 26, 2018, 02:51 PM IST

स्मृति : राजकपूर, कादंबरी और आनंद रघुनंदन

एक शायर ने कहा है- आज यह बेजार है तो कल यहीं बाजार होगी. इसीलिए कहा जाता है कि घूरे के दिन भी फिरते हैं और सभ्यताएं चरम पर पहुंचकर फिर घूरे में तब्दील हो जाती हैं.

Jun 17, 2018, 03:40 PM IST

बढ़ता ही जा रहा है धरती माता का बुखार

धरती माता का बुखार लगातार बढ़ता जा रहा है, साल दर साल. क्या हम तभी संभलेंगे जब वह कोमा में पहुंच जाएगी.

Jun 5, 2018, 03:22 PM IST

परशुराम जयंती पर विशेष : जन्म से नहीं संस्कार से मिलता है ब्राम्हणत्व

यदि शूद्र में सत्य आदि उपयुक्त लक्षण हैं और ब्राह्मण में नहीं हैं, तो वह शूद्र शूद्र नहीं है, ना वह ब्राह्मण ब्राह्मण.

Apr 17, 2018, 09:46 PM IST

इस घटाघोप को छांटिए वरना इतिहास माफ नहीं करेगा...!

जजों की टिप्पणी के बाद भ्रम के जाले साफ हो जाने चाहिए, लेकिन जिन लोगों ने अपनी आंखों में कुतर्कों की पट्टी बांध रखी है और जो लोग सियासत की भट्टी को धौंकते ही रहना चाहते हैं उनका क्या किया जा सकता है? 

Apr 7, 2018, 02:35 PM IST

इनके ही लहू से सियासत सुर्ख दिखती है

देश में दो ऐसे कानून हैं पहला तो यही एट्रोसिटी एक्ट और दूसरा दहेज प्रताड़ना का कानून, जिसके दुरुपयोग ने सामाजिक समरसता और घर-परिवार के तानेबाने को सबसे अधिक तबाह किया है. 

Apr 3, 2018, 02:09 PM IST

राजनीति के गैंग्स ऑफ वासेपुर

पार्टी का मतलब लोकतांत्रिक इकाई स्तर के कार्यकर्ताओं द्वारा चुना हुआ संगठन जो सदस्यों की सामूहिक राय के आधार पर चलता है.

Mar 29, 2018, 03:55 PM IST

अब इनके बारे में क्या खयाल है आपका

दरअसल जेहाद-वेहाद कुछ नहीं वरन् ऐसी ताकतों के लक्ष्य में यहां का बेरोजगार युवा है जो जॉब न मिल पाने की वजह से अवसाद में जाने के बजाय किसी भी गैरकानूनी काम से जुड़कर धन कमाने को गलत नहीं मानता. 

Mar 26, 2018, 08:42 PM IST

पीएम मोदी की ताकत विरोधियों की आत्मा में पलती है

हमारे इलाके में एक लोकमान्यता है- दुश्मन की गाली उम्र को और बढ़ा देती है. किसी और संदर्भ में ये सच हो न हो, नरेंद्र मोदी के संदर्भ में तो ये सोलह आने सच है.

Mar 20, 2018, 11:28 AM IST

अविश्वास प्रस्ताव और उपचुनावों के नतीजे भाजपा के लिए सबक

2014 के मुकाबले जमीनी हकीकत बदल चुकी है. राजनीति की भुजंगनी कई बार उलट-पलट चुकी हैं. पिछले चुनाव के मर्म को समझें तो मालुम होगा कि भाजपा वहीं ताकत के साथ उभरी जहां कभी कांग्रेस का आधार रहा है.

Mar 17, 2018, 04:29 PM IST

इन टिकटों से इसलिए नहीं चौंकिए!

 इस बार एक बात मार्के की पकड़ी वो ये कि पिछड़ों में लोधी-कुनबी-किरार भर नहीं औधिया-दर्जी-सुनार भी हैं. मीसाबंदियों के राष्ट्रीय नेता तो वे हैं ही सो इस बार उनकी दिल्ली ने भी सुन ली. 

Mar 12, 2018, 10:37 PM IST

शक्ति की प्रतीक 'नारी' इतनी बेबस क्यों?...

दुनिया के प्रायः सभी समर्थ देशों ने पर्यटन पर जाने वाली महिला नागरिकों को यह एडवायजरी जारी कर रखी है कि यदि वे भारत जाएं तो जरा संभल के. विश्व में हमारी ख्याति महिलाओं पर बुरी नजर रखने वालों की है.

Mar 8, 2018, 01:38 PM IST