close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पानी की समस्या

जोधपुर: पानी की समस्या को लेकर महिलाओं जलदाय विभाग के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन

जलदाय विभाग के नगर खण्ड के सहायक अभियंता शहर कार्यालय के समक्ष मटकी फोड़ने के बाद लोग जिला कलेक्टर कार्यालय पहुंचे. 

Jul 3, 2019, 06:50 PM IST

जयपुर: कांग्रेस ने वसुंघरा सरकार पर पेयजल की प्रभावी कार्ययोजना नहीं बनाने का लगाया आरोप

परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने प्रेसवार्ता कर कहा कि भाजपा के शासनकाल में 2013 से 2018 तक कोई काम नहीं हुए 1 महीना हमें काम करने को मिला है, इस दौरान हमने 500 ट्यूबवेल लगवाए हैं.

Jun 15, 2019, 05:31 PM IST

राजस्थान में पानी पर सियासी उबाल, दूसरे दिन भी BJP ने किया मटका फोड़ प्रोटेस्ट

राजधानी में पानी को लेकर लगातार सियासी उबाल जारी है. इसी घमासान के बीच में अब बीजेपी की पानी पर राजनीति तेज हो गई है.

Jun 15, 2019, 04:03 PM IST

उदयपुर: प्रशासन की अनदेखी से बढ़ी टैंकर संचालकों की मनमानी, जनता परेशान

प्रदेश की राजधानी जयपुर में प्रशासन ने पानी के टैंकर के दाम तय कर लोगों को उचित दर में पानी उपलब्ध कराने उठाए कदम का जनता को राहत देने का प्रयास किया है.

Jun 14, 2019, 05:08 PM IST

राजस्थान: पानी की समस्या पर BJP ने शुरू की राजनीति, जयपुर में फोड़े खाली मटके

प्रदेश भाजपा अब विधानसभावार पेयजल संकट को लोकर प्रदर्शन की तैयारी में हैं. जयपुर में शहर भाजपा की ओर से जल भवन पर प्रदर्शन किया गया.

Jun 14, 2019, 02:43 PM IST

VIDEO: छत्तीसगढ़ के इस गांव में पानी को लेकर मचा है हाहाकार, दर-दर भटक रहे हैं लोग

छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले के कई ग्रामीण क्षेत्रों में देखा जा रहा है कि लोग पीने के पानी के लिये दर-दर भटक रहे हैं. कई ग्रामीण क्षेत्रों में पानी के लिये हाहाकार मचा हुआ है. इसके बाद भी प्रशासन द्वारा ऐसे गांवों में पानी को लेकर कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा जिससे पानी की समस्याओं से ग्रामीणों को निजात मिल सके. हम बात कर रहे हैं मनेन्द्रगढ विकासखण्ड के ग्राम पंचायत तेंदुडांड की, जहां गर्मी आते ही पूरा गांव सूखाग्रस्त हो जाता है. लोग पानी की एक-एक बूंद के लिये भटकते नजर आते हैं. इस गांव में लगभग चार सौ ग्रामीण रहते हैं. लेकिन किसी भी जनप्रतिनिधि द्वारा इस समस्या को लेकर ठोस कदम नहीं उठाया गया. देखें वीडियो...

Jun 12, 2019, 01:30 PM IST

जयपुर: पानी की समस्या पर जनता ने किया जलदाय विभाग के दफ्तरों पर प्रदर्शन

पानी की समस्गुया को लेकर जयपुर के लोगों का पारा बढ़ता जा रहा है, लेकिन इसके बावजूद भी अधिकारी जयपुर की प्यास बुझाने में नाकाम है.

Jun 10, 2019, 04:13 PM IST

बुंदेलखंड में फिर सूखे की मार से परेशान हुए लोग, पलायन करने को हुए मजबूर

यहां लोग पानी का एक टेंकर देखते ही दौड़ लगा देते हैं और टेंकर रुका नहीं कि पानी के लिए हुजूम जमा हो जाता है और शायद जितना समय इस टेंकर को मशीन से भरने में लगता है उससे एक चौथाई समय में टेंकर खाली हो जाता है. 

Jun 4, 2019, 10:08 AM IST

जयपुर: केंद्र सरकार ने दिए पानी की समस्या के लिए नियमित निगरानी के निर्देश

इस बैठक में सीएस ने पेयजल की स्थिति, चारा डिपो के बारे में पूरा फीडबैक दिया.

मई 22, 2019, 04:38 PM IST

राजस्थान: जल विभाग की लापरवाही से बर्बाद हुआ हजारो लीटर पानी

अब बीसलपुर बांध में केवल 18 फीसदी पानी ही बचा है, लेकिन इसके बावजूद भी जयपुर शहर में पानी की बर्बादी को रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है

Mar 11, 2019, 11:58 AM IST

जयपुर में अब नहीं होगी पानी की किल्लत, सीधे पाइपलाइनों से जुडेंगे 453 ट्यूबवेल

प्रोजेक्ट के जरिए जलदाय विभाग 453 ट्यूबवेल और खोदने जा रहा है जो सीधा पाइप लाइनों में जोड़े जाएंगे.

Jan 19, 2019, 03:12 PM IST

छतरपुरः पानी की समस्या से परेशान लोगों ने मटका फोड़कर किया प्रदर्शन

 छतरपुर में पानी का संकट इस कदर गहराता जा रहा है कि लोगों को दर-दर भटकने पर भी पानी नसीब नहीं हो रहा.

मई 28, 2018, 05:02 PM IST

गांव की प्यास बुझाने 70 साल के बुजुर्ग ने अकेले ही खोद डाला कुंआ

मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले के हडुआ में रहने वाले सीताराम लोधी ने लोगों के लिए मिसाल पेश की है. सीताराम ने बिना प्रशासन की मदद के 18 महीनों के भीतर अकेले ही 80 फीट कुंआ खोदा. गांव में पानी की समस्या को देखते हुए सीताराम राजपूत ने पहले तो प्रशासन से इस बारे में बात की लेकिन जब उन्हें किसी तरह की मदद नहीं मिली तो उन्होंने अपने खेत में अकेले ही 80 फीट का कुंआ खोद डाला. जिसके बाद वह गांव वालों के लिए हीरो बन चुके हैं. बता दें कि जब सीताराम ने कुंआ खोदने की बात अपने परिवार से कही तो परिवार ने भी उनका साथ नहीं दिया. तब उन्होंने अकेले ही कुंआ खोदने का फैसला लिया और उस फैसले को पूरा भी कर दिखाया.

मई 26, 2018, 11:15 AM IST

MP : टीकमगढ़ में गहरा रहा जल संकट, बूंद-बूंद पानी की खातिर तरस रहे लोग

मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ में एक ऐसा गांव है जहां टोकन दिखाने पर पानी मिलता है. हैरानी की बात तो यह है कि गांव के जल संकट के बारे में पहले से जानकारी के बावजूद प्रशासन ने पानी की कोई व्यवस्था नहीं की. ऐसे में अब NGO परमार्थ ने पहल करते हुए गांव वालों के लिए पानी की व्यवस्था की है. NGO प्रतिदिन प्रतिव्यक्ति 15 लीटर पानी देता है. इसके लिए NGO ने टोकन पर परिवार के सदस्यों की संख्या और पानी की मात्रा भी अंकित की है. बता दें कि गर्मी के चलते टीकमगढ़ में भारी जल सकंट है. जिले के कई जलस्त्रोत सूख चुके हैं जिसके चलते लोगों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है.

मई 10, 2018, 05:09 PM IST

कोटा : पानी की समस्या को लेकर महिलाओं का प्रदर्शन, पार्षद पति की गिरफ्तारी की मांग की

कोटा के नगर नांता क्षेत्र में लोग पानी की समस्या से जूझ रहे हैं. परेशान महिलाओं ने पानी की समस्या को हल करने और पार्षद पति को गिरफ्तार करने की मांग करते हुए जोरदार प्रदर्शन किया. खबर लगते ही पुलिस मौके पर पहुंची और आक्रोशित महिलाओं को समझाकर शांत कराया...स्थानीय लोगों का आरोप है कि वो 6 महीने से पानी की समस्या से जूझ रहे हैं.... महिला पार्षद को समस्या से अवगत कराया गया. समस्या का हल निकालने के बजाय महिला पार्षद के पति ने महिलाओं के साथ बदसलूकी की,जिसके बाद महिलाएं आक्रेशित होकर प्रदर्शन करने पर उतर आई और सरकार के ख़िलाफ़ जमकर नारेबज़ी की.

मई 2, 2018, 07:53 PM IST

2050 तक 36 प्रतिशत शहरों में होगा पानी का आपातकाल!

पूरी दुनिया में वर्ड वाटर डे मनाया गया, लेकिन हम पानी की बर्बादी को रोकने के लिए कोई कोशिश नहीं कर रहे हैं. अगर समय रहते इसके बारे में नहीं सोचा गया तो आने वाले समय में तकरीबन 200 शहरों को पानी के आपातकाल से गुजरना पड़ेगा.

Mar 23, 2018, 12:54 PM IST

7 देशों से आए 24 विदेशी मेहमान बदल रहे हैं एक गांव की तस्वीर, 5000 किसानों को होगा सीधा फायदा

विदेशी मेहमान तीन दिनों से सुबह से शाम तक दिन भर में करीब 6 से 7 घंटे तक श्रमदान करते हैं

Feb 16, 2018, 06:24 PM IST

क्या पानी को संविधान की समवर्ती सूची में डालने का समय आ गया है?

भूजल स्तर में लगातार गिरावट आने, शहरों का विस्तार होने के बावजूद बुनियादी सुविधाओं की कमी, जलवायु परिवर्तन, देश के 20 राज्यों में जल विषाक्तता के बीच जल के समुचित उपयोग एवं संरक्षण को लेकर एक समग्र, व्यापक राष्ट्रीय नीति बनाने की मांग के साथ ही जल को संविधान की समवर्ती सूची में रखने के विचार पर बहस शुरू हो गई है। जल के उपयोग के बारे में भारत के गांव-समाज को अपना दायित्व हमेशा से स्पष्ट था। जब तक हमारे शहरों में पानी की पाइप लाइन नहीं पहुंची थी, तब तक यह दायित्वपूर्ति शहरी भारतीय समुदाय को भी स्पष्ट थी, किन्तु पानी के अधिकार को लेकर अस्पष्टता हमेशा बनी रही।

मई 22, 2016, 12:47 PM IST

गावस्कर और द्रविड़ ने कहा- आसान निशाना बन गया है क्रिकेट और IPL

सूखाग्रस्त महाराष्ट्र से आईपीएल के 13 मैचों को स्थानान्तरित करने के बंबई उच्च न्यायालय के आदेश से हैरान पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर और राहुल द्रविड़ ने कहा कि विवाद पैदा करने के लिये क्रिकेट ‘आसान निशाना’ बन गया है। अदालत ने महाराष्ट्र में पानी के भारी संकट को देखते हुए 30 अप्रैल के बाद होने वाले आईपीएल मैचों को राज्य से बाहर आयोजित करने के लिये कहा है।

Apr 14, 2016, 11:58 PM IST

पानी को तरस रहे नदियों के बीच बसे अल्मोड़ा के लोग

अल्मोड़ाः शहर के लोग पिछले कई दिनों से पानी की किल्लत से जूझ रहे हैं। आलम ये है कि कई जगहों पर लोगों को बूंद-बूंद पानी के लिए मीलों दूर जाना पड़ रहा है। जल संस्थान के अधिकारियों ने कुछ दिनों पहले समस्या के समाधान भरोसा दिया था। बावजूद हालात जस की तस बनी हुए हैं। पहाड़ों पर बढ़ते तापमान के साथ लोगों की परेशानी और बढ़ रही है।

मई 26, 2015, 10:04 PM IST