Zee Rozgar Samachar

सिंदूर खेला

Sindoor Khela 2020: मां दुर्गा की विदाई की रस्म है सिंदूर खेला, ऐसे लेते हैं मां का आशीर्वाद

बंगाली समुदाय की महिलाएं नवरात्रि के बाद दशहरा वाले दिन सिंदूर खेला (Sindoor Khela) की रस्म से मां का आशीर्वाद लेती हैं. मान्यता है कि 9 दिनों तक मायके में वास करने के बाद मां अपने पति के पास वापस कैलाश जाती हैं.

Oct 26, 2020, 01:48 PM IST

कोलकाता में पारंपरिक 'सिंदूर खेला' के साथ हुई मां की विदाई

कोलकाता में पारंपरिक सिंदूर खेला से देवी मां की विदाई की गई हैं, देखें कैसे महिलाएं मनाती है ये त्यौहार.

Oct 26, 2020, 01:05 PM IST

विजयादशी पर बंगाल में क्यों होती है सिंदूर खेला की रस्म? जानें क्या है धुनुची डांस का महत्व

बंगाल के लोग दुनिया के किसी भी कोने में हों, वे नवरात्रि के त्यौहार को पूरी भव्यता के साथ मनाते हैं. बंगाल के लोग नवरात्रि में मां दुर्गा की पांरपरिक रीति-रिवाज से आराधना करते हैं. यहां दुर्गा बड़ी ही धूमधाम से मनाए जाने का रिवाज है.

Oct 24, 2020, 07:59 PM IST

Kolkata: दुर्गा पूजा पंडालों में 'सिंदूर खेला' की धूम

कोलकाता में दुर्गा पूजा पंडालों में सिंदूर खेला का आयोजन किया जाता है. शादीशुदा महिलाएं इसमे हिस्सा लेती हैं. नम आंखों से मां दुर्गा को विदाई दी जाती है.

Oct 8, 2019, 03:28 PM IST

रांची: दशमी के मौके पर सिंदूर खेला की परंपरा

नौ दिनों तक मां दुर्गा की आराधना के बाद भगवती की विदाई की जाती है. बंगाली रीति रिवाज के अनुसार आज बंगाली समुदाय की महिलाएं सुहाग की रक्षा के लिए सिंदूर खेला खेलती हैं.

Oct 8, 2019, 02:09 PM IST

नवरात्रि: बिहार-झारखंड में भी सिंदूर खेला की धूम, महिलाओं ने देवी दुर्गा से मांगा आशीर्वाद

पटना ही नहीं झारखंड की राजधानी रांची में भी सिंदूर खेला की धूम देखने को मिली. अल्बर्ट एक्का चौक पर दुर्गा बाड़ी मंदिर में महिलाओं ने सिंदूर खेला खेलकर देवी दुर्गा को विदाई दी. 

Oct 8, 2019, 12:11 PM IST