dara shikoh

मुगल शासक औरंगजेब के भाई की कब्र तलाश रहा भारतीय पुरातत्व विभाग, जानिए क्या है पूरा मामला

मुगल शासक औरंगजेब के खानदान से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आई है. भारतीय पुरातत्व विभाग इतिहास के पन्नों में दफन दारा शिकोह की कब्र की तलाश कर रहा है. 

Feb 19, 2020, 12:05 AM IST

मुगल शासक औरंगजेब के भाई दारा शिकोह की कब्र ढूंढ रही मोदी सरकार, जानिए वजह

माना जा रहा है कि मोदी सरकार दारा शिकोह की कब्र और उनका इतिहास बताकर उसे हिन्दुस्तान का 'सच्चा मुसलमान' साबित करना चाहती है.

Feb 18, 2020, 05:57 PM IST

औरंगजेब के भाई दारा को ,बीजेपी इतिहास के दफ्न पन्नों से बाहर लाएगी

दारा शिकोह की कब्र की खोज के लिए कमेटी बनी है ,मोदी सरकार ने कमेटी को 3 महीने का समय दिया है अब इतिहास के दफ्न पन्नों से बाहर आएगा दारा शिकोह,गीता का फारसी में अनुवाद किया था

Feb 18, 2020, 12:28 PM IST

आरएसएस को मुग़ल शहजादा दारा शिकोह क्यों पंसद आ रहा है ?

सभी मज़हबों की इज़्ज़त करने वाले दारा शिकोह को इस्लाम और वेदांत की सिम्त में काम करने के लिए भी जाना जाता है । तारीख़ के मुताबिक दारा शिकोह ने 52 उपनिषदों का तर्जुमा सीर-ए-अकबर में किया गया था । दारा शिकोह की ज़िंदगी पर हिंदू और सूफी संतों की ज़ियारत के ख़ासे असरात थे । एएमयू के वीसी ने एक प्रोग्राम में हिस्सा लेते हुए एलान किया था कि एएमयू में दारा शिकोह पर रिसर्च के लिए चेयर क़ायब होगी तो वहीं जामिया में दारा शिकोह के नाम से लाइब्रेरी में गोशा बनाया जाएगा। वही एनसीपीयूएल भी दारा शिकोह की किताबो के फरोग़ के लिए काम करेगा।

Oct 10, 2019, 05:25 PM IST

कौन है दारा शिकोह जिसे RSS और KBC ने याद किया

आरएसएस नेता कृष्णा गोपाल ने कहा कि अगर दारा शिकोह भारत पर राज कर पाते तो इस्लाम भारत में ज्यादा फलता फूलता. कौन है दारा शिकोह जिन्हें 300 सालों बाद याद किया जा रहा है.

Sep 12, 2019, 04:30 PM IST

...और 1 करोड़ का सवाल बन गया दारा शिकोह

दारा शिकोह को देश की 95 फीसदी से ज्यादा आबादी जानती भी नहीं होगी क्योंकि वो हारा हुआ था या यूं कहें कि उसे हराया गया था और जीतने वाले ने इतिहास में उसे ज्यादा जगह नहीं लेने दी. आज अचानक ये नाम सुर्खियां बटोरने लगा तो भी उसका कारण यही है कि आज के विजेता उसे सुर्खियों में लाना चाहते हैं.

Sep 12, 2019, 04:08 PM IST

RSS नेता कृष्‍ण गोपाल बोले, जो लाखों में हैं वह नहीं डरते, करोड़ों की संख्या होने पर भी मुस्लिम भयभीत क्यों हैं?

सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल ने कहा कि, 15 -16 करोड़ की संख्या होने पर भी क्यों डरे हुए है ? 40-45 लाख की संख्या वाले जैन तो कभी नहीं कहे की वे डरे हुए हैं. 50 हजार की संख्या वाले पारसियों ने कभी नहीं कहा कि वे भयभीत हैं. 

Sep 11, 2019, 07:26 PM IST