heat weave

बिहार में कुपोषण, अधिक तापमान बनता है नौनिहालों का काल!

आंकड़े भी इसकी पुष्टि करते हैं कि जिस वर्ष 40 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा तापमान लंबे समय तक रहा, उस साल मृतकों की संख्या में वृद्घि देखी गई है. मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ शिशु रोग चिकिसक डॉ. अरुण शाह बताते हैं कि बच्चों की मौतों के इस सिलसिले के पीछे गरीबी और कुपोषण असली वजह है.  

Jun 25, 2019, 04:46 PM IST

बिहार: नालंदा में अब तक भीषण गर्मी से 14 लोगों की मौत, लगातार बढ़ रहा है आंकड़ा

एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि पिछले तीन दिनों में 90 लोगों की मौत हो चुकी है. अनाधिकारिक खबरों में हालांकि एक दर्जन जिलों में लोगों की मौत का आंकड़ा 250 तक पहुंचने का दावा किया गया है.

Jun 19, 2019, 01:33 PM IST

बिहार में लू का तांडव, एक ही श्मशान घाट पर तीन दिन में पहुंचे 300 से अधिक शव

 हिट स्ट्रोक का कहर गया में 16 साल के बाद देखने को मिला है जिसमे पूरे जिले में अभी तक 300 से अधिक लोगो को अपने चपेट में ले लिया है और हालात ऐसे हैं कि लोगों का दाह संस्कार करने के लिए शमशान घाट भी छोटा पड़ रहा है.  

Jun 19, 2019, 08:09 AM IST

गया के बाद अब गर्मी के कारण अरवल में भी धारा 144 लागू, 11 से 4 के बीच निर्माण कार्य पर रोक

सुबह 11 से 4 तक सभी निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी गई. जिले में किसी तरह के जम समागम या संस्कृति कार्यक्रम पर रोक लगा दी गई है. पड़ोसी जिले में लु हो रहे मौत के बाद एहतियातन यह कदम उठाया गया है. 

Jun 18, 2019, 12:52 PM IST

प्रचंड गर्मी के कारण गया में डीएम ने लागू की धारा 144, खुले में नहीं होगा कार्यक्रम

प्रचंड गर्मी को देखते हुए डीएम ने निर्देश जारी किया है कि लोग 11 बजे से 4 बजे के बीच घर में ही रहें, साथ ही सभी सरकारी और गैर सरकारी निर्माण कार्य पर 11 बजे से 4 बजे तक बंद करने का निर्देश दिया गया है. 

Jun 17, 2019, 03:07 PM IST

लू के तांडव और चमकी बुखार के कहर के बीच बिहार में भी रहेगी डॉक्टरों का हड़ताल, opd रहेगी ठप

इस समय बिहार में अगर किसी का सहारा है तो वो डॉक्टर हैं लेकिन इस संकट के समय के बीच आज बिहार में भी डॉक्टर इस हड़ताल में शामिल होंगे. 

Jun 17, 2019, 09:53 AM IST

बिहार में लू से अब तक 89 तो चमकी बुखार से 84 से अधिक बच्चों की मौत

गया बिहार के सबसे गर्म स्थानों में से एक है. दोपहर होते हीं गया शहर के कई महत्वपूर्ण सड़के वीरान हो जाती हैं. सरकारी बस स्टैंड पर भी सन्नाटा पसरा रहता है. कोई भी यात्री दोपहर में बस की यात्रा नहीं कर रहे हैं. सभी अपने घरों में दुबके बैठे हैं. जिन्हें जरूरी काम भी है वह भी धूप ढलने का इंतजार कर रहे हैं. 

Jun 17, 2019, 07:56 AM IST