jairam shukla

महिला दिवस विशेषः तो फिर हर साल ये पाखंड क्यों!

अभी वसंत पंचमी को हमने सरस्वती मैय्या का पूजन किया. प्रार्थना की- वीणावादिनी वर दे! अब होली के अगले पखवाड़े से दुर्गा मैय्या का नौ दिन का पर्व शुरू होगा. इसके कुछ माह बाद वैभव की देवी लक्ष्मी मैय्या की दीवाली आएगी. 

Mar 8, 2019, 10:46 AM IST

पद्मश्री बाबूलाल दाहिया : देसी अन्नों का देहाती विश्वामित्र

दाहिया जी को यह सम्मान पारंपरिक बीजों के संरक्षण और उनकी खेती के विस्तार को प्रोत्साहन देने के लिए मिला है. वे पिछले पंद्रह सालों से देसी बीजों की तलाश में पूरा देश घूम चुके हैं. बाबूलाल एक साथ दस काम ओढ़े हुए चलते हैं.

Jan 30, 2019, 04:43 PM IST

लोकतंत्र की पीठ पर शनि की साढ़ेसाती

तेलंगाना और राजस्थान में मतदान के साथ ही विधानसभा चुनाव 2018 संपन्न हो गया. चुनाव खत्म होते ही सभी प्रत्याशी ज्योतिष के संपर्क में पहुंचने लगे हैं, हालांकि उनके तकदीर का फैसला 11 दिसंबर को होगा.

Dec 7, 2018, 07:38 PM IST

MP विधानसभा चुनाव 2018: इस बार दल नहीं, दिल देखकर वोटर करेगा फैसला

भाजपा पहली बार प्रत्याशी चयन को लेकर इतनी संजीदा है. एक-एक नाम पर कई कई बार विमर्श हो रहे हैं. भाजपा इनफाइटिंग यानी कि भितरघात के खतरे को भांप चुकी है.

Oct 23, 2018, 03:09 PM IST

कृष्णा राजकपूर: जिन्होंने बालीवुड में घोली रीवा की संस्कृति की महक

राजकपूर को ग्रेट शोमैन के रूप में गढ़ने का योगदान रीवा को है. कृष्णा कपूर यहीं जन्मी, पली, बढ़ीं और पढ़ी. इसी एक अक्टूबर को उनके निधन के बाद जो संस्मरण पढ़ने को मिल रहे हैं उनमें एक मूलस्वर यही है.

Oct 2, 2018, 07:15 PM IST

''जा पर विपदा परत है ते आवहिं एहि देस''

राजनीतिक रूप से चित्रकूट की महत्ता और भी ही. भाजपा के विपदा काल में यह उसकी शक्तिपीठ था. नानाजी देशमुख ने यहां दीनदयाल शोध संस्थान और ग्रामोदय विश्वविद्यालय की स्थापना की थी.

Sep 27, 2018, 11:00 PM IST

'श्रीनिवास तिवारी' अष्टधातुई देवों से अलग एक जन नेता

भाजपाई इस मामले में ज्यादा चतुर हैं. श्रीनिवास तिवारी के निधन के बाद सबसे पहले पहुंचने वाले बड़े नेताओं में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान थे.

Sep 16, 2018, 08:14 PM IST

गणेश उत्सव के बहाने शिव के समाजवाद की सैर

लालबाग के राजा के गल्ले में एक अरब का चढ़ावा आता है तो अपने रमचन्ना के गोबर के गनेश में एक टका. पर कृपा बराबर. रमचन्ना की हैसियत लालबाग के राजा वाले पंडाल के संयोजक से कम नहीं.

Sep 13, 2018, 06:28 PM IST

कृष्ण: मुक्ति संघर्ष के महानायक

कृष्ण आदि स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे. स्वराज, स्वाधीनता और स्वतंत्रता क्या है कृष्णचरित के जरिए अच्छे से समझा जा सकता है.

Sep 3, 2018, 01:32 PM IST

...क्योंकि ध्यानचंद हॉकी के 'भगवान' नहीं बने!

29 अगस्त को दद्दा के जन्मदिन को राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है. इस दिन खेल से जुड़े सभी सम्मान व पुरस्कार बांटे जाते हैं. जिस किसी ने उनकी स्मृति को अक्षुण्ण रखने के लिए यह निर्णय लिया है वह स्तुत्य है.

Aug 30, 2018, 07:33 PM IST

शिवमंगल सिंह सुमन: कालिदास की शेषकथा के अमर गायक

सुमनजी लिखते तो अद्भुत थे ही, उससे अच्छा प्रस्तुत करते थे..उनकी भाषणकला बेहतर थी या लेखन कला तय कर पाना मुश्किल. दिखने में तो शुभ्रवस्त्रावृता थे ही साक्षात् वाणी पुत्र लगते थे. उनकी स्मृति को नमन...

Aug 5, 2018, 03:46 PM IST

अपन के गुरुदेव तो बजरंग बली

सच पूछिये जिंदगी में कोई लौकिक गुरु नहीं मिला, न ही किसी को गुरू बनाने का कभी ख्याल आया. अलबत्ता पहली से एमएससी तक और पत्रकारिता में शिक्षक मिले, प्रेरक मिले, अगुवा मिले पर ज्यादातर गुरु नहीं गुरू निकले.

Jul 27, 2018, 10:15 AM IST

इमरजेंसी : जब छात्रों की हुंकार ने सिंहासन हिला दिया

इमरजेंसी को नागरिक अधिकारों पर सबसे बड़ा हमला माना गया. आज भी इसकी डरावनी तस्वीर पेश की जाती है. वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैय्यर ने अपनी आत्मकथा "बियांड द लाइन्स" में इमरजेन्सी के कारणों का तथ्यपरक ब्योरा दिया है.

Jun 29, 2018, 04:08 PM IST

जो कबिरा काशी मरै रामहि कौन निहोर

किस्सा मशहूर है, कि मगहर में जो मरता है उसे रौरव नरक मिलता है, काशी में मरने वाले को सीधे सरग का दरवाजा खुल जाता है. कबीर कहते हैं कि काशी में मर के स्वर्ग जाने में ईश्वर की क्या बड़ाई है, वो तो काशी का महात्म है.

Jun 28, 2018, 06:18 PM IST

आपातकाल की याद- एक और नसबंदी ने पासा पलट दिया

1974 में मध्यप्रदेश की विधानसभा में दिए गए उनके एक भाषण की प्रति भी हाथ लगी, जिसमें उन्होंने जेपी को राष्ट्रद्रोही बताते हुए गिरफ्तार करने की मांग की थी. बाद में एक बार उनसे मैंने पूछा कि जिन जयप्रकाश नारायण ने जोशी-यमुना-श्रीनिवास का नारा दिया था उन्हें ही बाद में आपने राष्ट्र द्रोही बताया इस पर तिवारी जी ने जवाब दिया था कि मैं राजनीति में दोहरी प्रतिबद्धता पर यकीन नहीं करता, तब सोशलिस्टी था अब कांग्रेसी हूं.

Jun 26, 2018, 02:51 PM IST

पुण्य स्मृति : अलग ही माटी के बने थे यमुना शास्त्री

शास्त्री जी की जरूरत विंध्य को ही नहीं, देश और दुनिया को भी रही है. उनके व्यक्तित्व व कृतित्व को किसी सीमा में नहीं बांधा जा सकता.

Jun 20, 2018, 11:36 AM IST

स्मृति : राजकपूर, कादंबरी और आनंद रघुनंदन

एक शायर ने कहा है- आज यह बेजार है तो कल यहीं बाजार होगी. इसीलिए कहा जाता है कि घूरे के दिन भी फिरते हैं और सभ्यताएं चरम पर पहुंचकर फिर घूरे में तब्दील हो जाती हैं.

Jun 17, 2018, 03:40 PM IST

अपनी "सोच" से बाहर निकलिए

पंडित जी का उदय उस काल में हुआ जब नेहरू युग अपनी प्रचंडता के शिखर पर था. उस समय के बौद्धिक वर्ग ने उनके साथ न्याय नहीं किया. अब भी जब उनकी बात चलती है तो ऐसे बहुतेरों का जी घूमने लगता है, मितली आने लगती है तो क्या करिएगा .

Jun 6, 2018, 08:44 PM IST

बढ़ता ही जा रहा है धरती माता का बुखार

धरती माता का बुखार लगातार बढ़ता जा रहा है, साल दर साल. क्या हम तभी संभलेंगे जब वह कोमा में पहुंच जाएगी.

Jun 5, 2018, 03:22 PM IST

Opinion : फिलहाल कांग्रेस की गति और नियति

हस्तिनापुर के खूंटे बंधे अनुयायियों को एक बार फिर प्रियंका गांधी में जन अपील दिखने लगी, पर उनके पास भी पुत्रमोह पर मनमसोस कर रह जाने के सिवाय कोई विकल्प नहीं. कुलमिलाकर कांग्रेस के शुभेच्छक भी अब मानकर चलने लगे हैं कि कांग्रेस की पुनः प्राण प्रतिष्ठा अब आसान नहीं रही.

मई 16, 2018, 10:15 AM IST