pride of india

आज भी जिनका निशान हमारे तिरंगे पर अंकित है, जानिए उस सम्राट अशोक की गौरव गाथा

भारतीय संविधान की प्रस्तावना और उसका आधार जिस सम्राट अशोक के शिलालेख रहे हैं. उस सम्राट अशोक को भी दुर्भावनाग्रस्त इतिहासकारों ने भुला देने का षड्यंत्र रचा.

Mar 17, 2020, 05:48 PM IST

International Women's Day: मातृशक्ति को सम्मान देने के लिए 'गौतमीपुत्र शातकर्णि' ने अपना नाम ही बदल लिया

भारत की धरती पर ऐसे अनेक महान सम्राट हुए जिन्होंने अपने शस्त्र बल से भारत माता को विदेशी आक्रांताओं से मुक्त कराया. 'गौतमीपुत्र शातकर्णि' ने अपने नाम के आगे अपनी माता 'गौतमी'' का नाम जोड़ा. मातृशक्ति को सम्मान देने के लिए उन्होंने उनके नाम पर ही शासन किया और मां भारती को अत्याचारियों से बचाया. लेकिन विदेशी चश्मे वाले इतिहासकारों ने इस महान शासक को इतिहास की गर्त में दबाने का निंदनीय प्रयास किया.

Mar 7, 2020, 06:51 PM IST

हिंदू सम्राट मिहिर भोज की गौरवशाली दास्तान, इस्लामी आक्रांताओं को नहीं रखने दिया भारत में कदम

भारत भूमि के हिंदू वीरों ने सदियों तक इस पवित्र धरती पर अरब और तुर्क के इस्लामी लुटेरों का निशान तक नहीं पड़ने दिया. इस कड़ी में महान सनातनी सम्राट मिहिर भोज का नाम विशेष सम्मान के साथ लिया जाता है. 36 लाख की सेना के डर से तुर्क और अरब भारत की तरफ मुंह करने से भी डरते थे. लेकिन उनकी गौरव गाथा को दूषित मनोवृत्ति के इतिहासकारों ने छिपाने का कुत्सित प्रयास किया.

Mar 3, 2020, 09:36 PM IST

केरल के राजा मार्तण्ड वर्मा यूरोपीय सेना को समुद्र में हराने वाले पहले राजा थे

सौ साल पहले तक यूरोपीय देश के लोगों को समुद्र में अजेय माना जाता था. अगर आप जानना चाहेंगे कि सबसे पहले किस यूरोपीय ताकत को एशियाई लोगों ने समुद्र में हराया था. तो आपको 1905 के रुस-जापान युद्ध का वर्णन मिलेगा. लेकिन ये सच नहीं है. इससे लगभग 150 साल पहले केरल के राजा मार्तण्ड वर्मा ने डच समुद्री सेना को हरा दिया था. वह भी पारंपरिक हथियारों से. लेकिन विदेशियों के मानसिक गुलाम हमारे इतिहासकारों ने इस गौरवपूर्ण युद्ध को इतिहास की परतों में दबा देने की कोशिश की.   

Feb 28, 2020, 05:46 PM IST

Pride of India: राज राजेन्द्र चोल, जिनकी नौसैनिक ताकत ने पूर्वी एशिया को दहला दिया

भारत प्राचीन काल से सैन्य रुप से बेहद शक्तिशाली रहा है. लेकिन समुद्र में उसकी अजेय सेना की शक्ति कमजोर पड़ जाती थी. सबसे पहले चोल राजा राजराजेन्द्र ने इस कमजोरी को समझा और अपनी मजबूत नौसेना खड़ी की.

Feb 25, 2020, 07:59 PM IST

दक्षिण भारत के महान सम्राट कृष्णदेव राय की शौर्यगाथा

दक्षिण भारत के सबसे शक्तिशाली और महान साम्राज्य विजयनगर के शासक थे कृष्ण देवराय. मध्यकाल में दक्षिण भारत के विजयनगर साम्राज्य की प्रतिष्ठा, प्राचीनकाल के मगध, उज्जैनी और थाणेश्वर साम्राज्य जैसी ही थी. उत्तर भारत के चंद्रगुप्त मौर्य, पुष्यमित्र, चंद्रगुप्त विक्रमादित्य, स्कंदगुप्त, हर्षवर्धन और महाराजा भोज के समान ही यशस्वी सम्राट कृष्ण देवराय की ख्याति थी.  राजा कृष्ण देवराय ने अपनी मातृभूमि की रक्षा और सम्मान के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया था.  

Feb 19, 2020, 05:23 PM IST

आठवीं सदी के इस्लामी आक्रांताओं के सीने के दाह : राजा दाहिर सेन

भारतवर्ष की आठवीं सदी के वीर नायक के तौर पर जाना जाता था राजा दाहिर सेन को जिनके शासन के 74 वर्षों के दौरान नौ इस्लामी आक्रांताओं ने कम से कम 15 बार सिंध पर आक्रमण किया, लेकिन सिंध के इस शूरवीर ने 14 बार इन आक्रमणकारियों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया. और फिर एक दिन ऐसा आया जब इस महावीर के साथ हुआ ऐसा विश्वासघात जिसने सिंध और हिंद के इतिहास की दिशा बदल दी..उसके पहले और उसके बाद क्या हुआ, यहां पढ़िए --  

Feb 13, 2020, 05:24 AM IST

भारत के गौरव: जानिए कौन थे देश को स्वर्ण युग में पहुंचाने वाले सम्राट समुद्रगुप्त

एक समय था जब भारत अलग-अलग राज्यों में बंटा हुआ था. छोटी-बड़ी रियासतों पर कई राजाओं का राज हुआ करता था. लेकिन उनके बीच एक ऐसा पराक्रमी और वीर राजा हुए, जिन्होंने सभी राजाओं को जीत कर एक विशाल साम्राज्य की स्थापना की. वे गुप्त राजवंश के राजा समुद्रगुप्त थे.

Feb 12, 2020, 09:59 PM IST

भारत के गौरव: महाराजा सुहेलदेव की वीरगाथा

ये एक ऐसे महाराजा की कहानी है, जिसने अखंड भारत के सपने के लिए अपने से ज्यादा शक्तिशाली दुश्मन से शत्रुता मोल ली और उसका सर्वनाश कर दिया. ये थे राजा सुहेलदेव, जिनका  साम्राज्य पूर्व में गोरखपुर और पश्चिम में सीतापुर तक फैला था.

Feb 12, 2020, 08:47 PM IST

Pride of India: कुचिपुड़ी गाँव की कहानी और विशाखापट्नम से अरकू वैली का सफर

ज़ी हिन्दुस्तान की खास पेशकश प्राइड ऑफ इंडिया में देखिए कुचिपुड़ी गाँव की कहानी. साथ ही जानिए इस गाँव से जुड़ी नृत्य परम्परा. इस शो में मशहूर कॉफी अरकू के बारे में और विशाखापट्नम से अरकू वैली के सफर के बारे में भी बताया गया है.

Feb 2, 2020, 04:35 PM IST

PRIDE OF INDIA: जानिए, प्राचीन योगिनी परंपरा के बारे में

मध्यप्रदेश के मुरैना में एक जगह मितावली है. मितावली की ऊंची पहाड़ी पर बड़ी सी चट्टान के ऊपर एक गोलाकार इमारत बनी है. चटानों पर कुछ निशान हैं, जो एक रहस्य पैदा करते हैं.

Dec 29, 2019, 12:14 AM IST

PRIDE OF INDIA: भगवान शिव के प्राचीन मंदिरों का समूह की गौरव गाथा

प्राइड ऑफ इंडिया में देखिए गौरवशाली और प्राचीन बटेश्वर मंदिर की कहानी. भारत में अनगिनत शिव और विष्णु के प्राचीन मंदिर है, लेकिन मध्य प्रदेश के मुरैना के पास एक ऐसी जगह है जहां पर एक साथ सैकड़ों शिव मंदिर बने हैं. जिनका इतिहास और वर्तमान बेहद दिलचस्प है.

Dec 22, 2019, 01:00 AM IST

मिहिर भोज की कहानी हैं बेमिसाल और अद्वितीय

सनातन धर्म के रक्षक थे सम्राट मिहिर भोज जिन्होंने कई युद्ध लड़े और जीते.

Dec 15, 2019, 01:14 AM IST

खजुराहो, जहां काम से मोक्ष तक की तस्वीरें मिलती हैं

प्राइड आफ इंडिआ में आज कहानी है उन मूर्तियों की जो काम से जुडी हैं लेकिन उन्हें देखकर अश्लीलता या भोंडेपन का अहसास नहीं होता. सदियों पहले कुछ शिल्पियों ने मंदिर की दीवारों में जीवन का सत्य शिल्प में ढाला. दसवीं शताब्दी में चंदेल राजाओं ने ये मंदिर बनवाये थे. कहते हैं खजुराहो चंदेल राजाओं की सांस्कृतिक और धार्मिक राजधानी थी.

Dec 7, 2019, 11:42 PM IST

PRIDE OF INDIA: जानिए, ककनमठ मंदिर का गौरवशाली इतिहास

भारत के गौरवशाली इतिहास के पन्नों से हम एक बेहद दिलचस्प कहानी हम उठा कर के आपके लिए लाए हैं, चंबल के दिहरों में एक खूबसूरत मंदिर बना 11वीं शताब्दी में वो इतना विशालकाय, भव्य और खूबसूरत था की उसके साथ कहानी जूड़ती चली गई है.

Nov 30, 2019, 10:56 PM IST

Pride Of India: 1000 साल पहले जिस महान राजा का हुआ था राज्याभिषेक

प्राइड आफ इंडया में आज जानिए प्राचीन भारत की सैन्य ताकत के बारे में, कुछ ऐसी कहानियां जो भारत के गौरव से जुडी हैं जिन्हे कभी ना बताया गया ना सुनाया गया हार का जिक्र होता है लेकिन उन बड़ी लड़ाइयों और जीत का जिक्र नहीं होता जो असंभव थी.

Nov 23, 2019, 11:42 PM IST

PRIDE OF INDIA: अयोध्या के हनुमान भक्त पहलावानों की कहानी

कहते हैं भगवान राम ने अयोध्या की ज़िम्मेदारी हनुमान जी को सौंपी थी. अयोध्या में हनुमान टेकड़ी है, मान्यता है कि यहां से हनुमान जी पूरी अयोध्या पर नजर रखते हैं. तो हनुमान जी की इस नगरी में ऐसे कई हनुमान भक्त है जो सदियों से एक परम्परा को निभा रहे हैं, जो कला से जुडी है तंदुरुस्त शरीर से जुडी है.

Nov 16, 2019, 11:07 PM IST

Pride Of India: देखिए, अयोध्या का गौरवशाली इतिहास

प्राइड आफ इंडिया में देखिए एक ऐसी परम्परा के बारे में जो रोशनी से सजी है. जो राम से जुडी है. कहानी उस बेहद प्राचीन शहर की है जिसे अयोध्या के नाम से जाना जाता है. जहां से दिवाली के दीयों की रोशनी की,बुराई पर अच्छाई की जीत की कहानी शुरू हुई.

Nov 2, 2019, 10:42 PM IST

PRIDE OF INDIA: अयोध्या नगरी की गौरवशाली विरासत और परंपरा

प्राइड आफ इंडिया में देखिए, अयोध्या नगरी की गौरवशाली विरासत और परंपरा जिसे आज भी वहां के लोगों ने कैसे संभाल के रखा है.

Oct 26, 2019, 10:56 PM IST

Pride of India: पद्मनाभ स्वामी मंदिर दुनिया का सबसे अमीर मंदिर

पद्मनाभ स्वामी मंदिर एक ऐसा मंदिर जहां कितना खजाना है किसी को नहीं पता लेकिन एक दौर ऐसा भी आया जब भगवान् को भोग चढ़ाने के लिए भी पैसा नहीं बचा था फिर पुजारी ने अपनी कुछ चीजें बेची और फिर उस पैसे से भगवान को भोग चढ़ाया गया.

Oct 12, 2019, 10:56 PM IST