अमेरिकी अदालत ने माना कि जॉनसन बेबी पाउडर से होता है कैंसर, कंपनी पर लगा अरबों डॉलर का जुर्माना

इस समय जॉनसन एंड जॉनसन उत्पादों के इस्तेमाल से बीमारी होने के मामले में करीब 9,000 मुकदमें अलग अलग कोर्ट में लड़ रही है.

अमेरिकी अदालत ने माना कि जॉनसन बेबी पाउडर से होता है कैंसर, कंपनी पर लगा अरबों डॉलर का जुर्माना
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली: ज्यादातर लोग अपनी जरूरतों को लेकर लापरवाह होते हैं, लेकिन बच्चों के मामले में कोई समझौता नहीं करते. बच्चों को बढ़िया से बढ़िया चीज देना चाहते हैं. ऐसे में नवजात शिशुओं की देखभाल के लिए सबसे पहले जो ब्रांड दिमाग में आता है वो है जॉनसन एंड जॉनसन. लेकिन इस कंपनी के बेबी पाउडर की वजह से कैंसर होने की बात सामने आई है. अमेरिका में सेंट लुई की अदालत ने पाया है कि जॉनसन कंपनी के बेबी पाउडर की वजह से गर्भाशय का कैंसर हो सकता है. साथ ही अदालत ने कंपनी पर 4.69 अरब डॉलर या करीब 32,000 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है.

दूसरी ओर जॉनसन एंड जॉनसन ने कहा है कि उसके पाउडर में एस्बेस्टस या कैंसर पैदा करने वाले तत्व नहीं हैं और वो फैसले के खिलाफ अपील करेगी. कंपनी ने कहा है कि उसका पाउडर सुरक्षित है और पहले भी इस प्रकार के निर्णयों को उच्च अदालतों ने तकनीकी व कानूनी आधारों पर बदला है.

इस मामले में 22 पीड़ित महिलाओं का आरोप था कि जॉनसन बेबी पाउडर में मौजूद एसबेस्टस की वजह से उन्हें गर्भाशय का कैंसर हुआ. इन महिलाओं ने कहा कि कंपनी लोगों को यह चेतावनी देने में विफल रही कि उसके बेबी पाउडर में खतरनाक स्तर पर एस्बेस्टस है. सालों से इसके रोजाना इस्तेमाल के कारण इन महिलाओं को ओवेरियन कैंसर हुआ और छह महिलाओं की जान भी जा चुकी है. माना जा रहा है कि पाउडर की वजह से हुई बीमारी के लिए ये सबसे बड़ा मुआवजा है.

अदालत में पेश किए गए दस्तावेजों से पता चला है कि कुछ वैज्ञानिकों ने कंपनी के बेबी पाउडर में खतरनाक तत्व होने की चिंता जताई थी, लेकिन कंपनी के एग्जीक्यूटिव ने उनकी बातों को नजरअंदाज किया. कंपनी पर इस तरह के आरोप पहले भी कई मामलों में लगे हैं और उस पर जुर्माना भी लगाया गया है, लेकिन इस बार का जुर्माना अब तक सबसे अधिक है.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.