X

मॉडल के Sexy फोटोशूट के बाद मच गया बवाल, पुलिस ने फोटोग्राफर को किया गिरफ्तार

मिस्त्र की फैशन मॉडल सलमा एल-शीमी ने जब फोटोशूट की ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर अपलोड कीं तो बवाल मच गया. जिसके बाद पुलिस ने हुसैन मोहम्मद नाम के फोटोग्राफर को गिरफ्तार कर लिया. 

वर्ल्ड हेरिटेज साइट सक्कारा नेक्रोपॉलिस

1/8
वर्ल्ड हेरिटेज साइट सक्कारा नेक्रोपॉलिस

बताते चलें कि इस फोटोशूट की लोकेशन का नाम सक्कारा नेक्रोपॉलिस (Saqqara Necropolis) है, जिसे UNISCO ने वर्ल्ड हेरिटेज साइट के तौर पर भी नामित किया है. ये जगह मिस्त्र की राजधानी काहिरा से करीब 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. 

फैशन मॉडल सलमा एल-शमी

2/8
फैशन मॉडल सलमा एल-शमी

मिस्त्र की फैशन मॉडल सलमा एल-शीमी (Salma El-Shami) ने जब फोटोशूट की ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर अपलोड कीं तो बवाल मच गया. कई लोगों ने सोशल मीडिया पर सलमा के इस फोटोशूट की आलोचना की, तो वहीं कई ऐसे भी लोग थे जो ये जानने को उत्सुक दिखे कि क्या यहां नॉर्मल तस्वीरें क्लिक कराने की भी इजाजत है या नहीं. 

विवाद बढ़ने पर मॉडल ने जारी किया बयान

3/8
विवाद बढ़ने पर मॉडल ने जारी किया बयान

जानकारी के अनुसार, बवाल बढ़ने पर सलमा ने कहा कि उन्हें नहीं पता था कि पुरातात्विक स्थलों पर बिना परमिट के फोटोग्राफी (Photography) की इजाजत नहीं है. सोशल मीडिया पर कुछ ऐसी अफवाहें भी थीं कि सलमा को इस शूट के बाद गिरफ्तार कर लिया गया. हालांकि ये सिर्फ अफवाह साबित हुई. 

मिस्त्र के टूरिज्म को प्रमोट करना था मकसद

4/8
मिस्त्र के टूरिज्म को प्रमोट करना था मकसद

अकबर अल योम की रिपोर्ट के अनुसार, सलमा ने एक सरकारी अभियोजक के सामने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई. उन्होंने कहा कि इस फोटोशूट के सहारे उनका मकसद मिस्त्र में टूरिज्म को प्रमोट करना था और उनका लोगों की भावनाओं को भड़काने का कोई इरादा नहीं था.

इतिहास को न समझने वालों को मिलेगी सजा

5/8
इतिहास को न समझने वालों को मिलेगी सजा

इस मामले में पुरातत्व विभाग के सेक्रेटी जनरल डॉ मुस्तफा वजीरी का कहना है कि ये बेहद अपमानजनक तस्वीरें हैं और लोग अगर इतिहास, संस्कृति और स्मारकों को बचाने को लेकर अपनी जिम्मेदारी नहीं समझेंगे तो उन्हें सजा मिलेगी. 

सोशल मीडिया पर मिल रहा जनता का समर्थन

6/8
सोशल मीडिया पर मिल रहा जनता का समर्थन

सोशल मीडिया पर कई लोग ऐसे भी हैं जो इस मॉडल और फोटोग्राफर को सपोर्ट कर रहे हैं. सलमा के सपोर्ट में खड़े इन लोगों का कहना है कि मिस्त्र में अगर यही काम पुरुष करें तो उन्हें किसी भी तरह की परेशानी से नहीं गुजरना पड़ता. लेकिन महिला होने के चलते सलमा और उनके फोटोग्राफर को इस तरह के भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है. 

इस साल हुई महिला आंदोलन की शुरुआत

7/8
इस साल हुई महिला आंदोलन की शुरुआत

इस साल की शुरुआत में भी मिस्त्र में एक महिला आंदोलन की शुरुआत हो गई थी जब पांच यंग महिलाओं को अपमानजनक टिकटॉक पोस्ट्स के चलते कोर्ट ने दो साल की सजा और 20 हजार डॉलर्स का जुर्माना लगाया था.  

अब तक इन मामलों में कोर्ट ने सुनाई सजा

8/8
अब तक इन मामलों में कोर्ट ने सुनाई सजा

आपको बताते चलें कि पिछले कुछ महीनों में मिस्त्र की अदालतों ने एक दर्जन से अधिक सोशल मीडिया इंफ्लूएंसर्स को अपमानजनक कंटेंट पोस्ट करने के लिए जेल की सजा सुनाई है. जानकारी के अनुसार, साल 2018 में ग्रेट पिरामिड पर एक न्यूड कपल की तस्वीरें सामने आने के बाद भी काफी हंगामा हुआ था. प्रशासन ने एक ऊंट के मालिक और एक महिला को इस कपल को गाइड करने के लिए भी अरेस्ट किया था.

photo-gallery