Zee Rozgar Samachar

China: अब बुढ़ापे पर लगेगा ब्रेक, 25% तक बढ़ जाएगी उम्र; इस थैरेपी से रहेंगे जवान!

बीजिंग: पूरी दुनिया में कोरोना वायरस महामारी फैलाने के लिए जिम्मेदार चीन (China) अब नई रिसर्च (New Research) में लगा हुआ है. चीनी वैज्ञानिक दिन-रात लैब में टेस्टिंग कर रहे हैं. साइंटिस्टों का दावा है कि वे इंसान की उम्र को कंट्रोल कर सकते हैं. अगर उनका ये एक्सपेरिमेंट सफल होता है तो लोग अपने बुढ़ापे को कंट्रोल कर सकेंगे और ज्यादा समय तक जवान रह सकेंगे. (फोटो साभार: रॉयटर्स)

पुलकित मित्तल | Jan 21, 2021, 22:38 PM IST
1/7

25 प्रतिशत तक बढ़ जाएगी जिंदगी

Life will increase by 25 percent

चीनी वैज्ञानिकों ने एक ऐसी जीन थैरेपी (Gene Therapy) ईजाद की है, जिसकी वजह से किसी भी इंसान की जिंदगी थोड़ी लंबी हो जाएगी. यानी वो इंसान ज्यादा दिन जवान रह सकेगा. इस थैरेपी को पहले चूहों पर आजमाया गया जिससे उनकी जिदंगी में 25 फीसदी का इजाफा हो गया.

2/7

एजिंग के लिए जिम्मेदार जीन की खोज

Kat7 Gene is responsible for aging

रॉयटर्स की एक खबर के मुताबिक, साइंस ट्रांसलेशनल मेडिसिन (Science Translational Medicine) जर्नल में इस थैरेपी को लेकर एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई है. इसमें बताया गया है कि वैज्ञानिकों ने एजिंग के लिए जिम्मेदार Kat7 जीन की खोज कर ली है और इसको निष्क्रीय करने से वैज्ञानिकों ने पाया कि एजिंग को रोका जा सकता है.

3/7

इस प्रोफेसर ने की थैरेपी की खोज

Professor Qu Jing discovered therapy

चाइनीज एकेडमी ऑफ साइंसेज (CAS) में इंस्टीट्यूट ऑफ जूलॉजी के 40 वर्षीय प्रोफेसर कू जिंग (Qu Jing) और उनकी टीम ने इस थैरेपी की खोज की है. उन्होंने कहा कि इस विशिष्ट जीन थैरपी पर काम करते हुए ऐसे नतीजे मिलने से उत्साहित हैं. 

4/7

6-8 महीनों में दिखेंगे रिजल्ट्स

Results will be seen in 6-8 months

प्रोफेसर ने बताया कि इस थैरेपी का प्रयोग पहले चूहों पर किया गया था. इन चूहों में 6-8 महीने के बाद सुधार और मजबूती देखने को मिली. सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उनके जीवनकाल में लगभग 25 फीसदी तक बढ़ोतरी देखी गई है. पूरी दुनिया में ऐसा पहली बार है जब किसी की उम्र में इतनी बढ़ोतरी हुई है.

5/7

लेंटीवायरल वेक्टर थैरेपी करेगी मदद

Lentiviral vector therapy will help

वैज्ञानिकों ने बताया कि 1000 जीन्स की जांच करने के बाद 100 ऐसे जीन्स की खोज की गई जो Kat7 कोशिकाओं में बुढ़ापे के सबसे बड़े कारक थे. इसके बाद वैज्ञानिकों ने लेंटीवायरल वेक्टर (Lentiviral Vector) थैरेपी का इस्तेमाल कर चूहों के लिवर में मौजूद kat7 जीन्स को असक्रिय कर दिया. 

6/7

शुरू होगा इंसानों पर क्लीनिकल ट्रायल

Clinical trial will start on humans soon

चूहों पर सफल परिक्षण के बाद अब वैज्ञानिक इंसानों के शरीर में Kat7 जीन की खोज शुरू करना चाहते हैं. ताकि इंसानों की उम्र कंट्रोल की जा सके. इसके लिए सरकार से परमिशन मांगी गई है. इसके मिलते ही क्लीनिकल ट्रायल शुरू किया जाएगा.

7/7

लोगों को होंगे ये फायदे

People will get these benefits

जानकारों के अनुसार, अगर ये थैरेपी विकसित हो जाती है तो इससे इंसानों में बुढ़ापे से संबंधित बीमारियों का इलाज किया जा सकेगा. साथ ही इंसान ज्यादा दिन जवान रहेंगे.