महारानी के पति होने के बावजूद प्रिंस फिलिप क्यों नहीं बन पाए ब्रिटेन के किंग? ये है वजह

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप का शुक्रवार को निधन हो गया. प्रिंस फिलिप कभी किंग नहीं बन सके. दरअसल प्रिंस अल्बर्ट की तरह ही प्रिंस फिलिप की भी कहानी रही. आइए जानते हैं इसके पीछे की मुख्‍य वजह...

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Apr 10, 2021, 00:46 AM IST
1/6

प्रिंस फिलिप क्यों नहीं बन पाए ब्रिटेन के किंग?

प्रिंस फिलिप क्यों नहीं बन पाए ब्रिटेन के किंग?

लंदन: प्रिंस फिलिप को एलिजाबेथ द्वितीय के महारानी बनने के भी कई सालों बाद प्रिंस की उपाधि मिली, वो भी महारानी के विशेष आदेश के बाद. क्या आपको पता है कि ऐसा क्यों है कि प्रिंस फिलिप पूरी जिंदगी प्रिंस ही बनकर रह गए और महारानी के पति होने के बावजूद कभी किंग नहीं कहे गए?

2/6

पारिवारिक नियम हैं जिम्मेदार

पारिवारिक नियम हैं जिम्मेदार

प्रिंस फिलिप ब्रिटेन के इतिहास में सबसे लंबे समय तक राजा या रानी के पति या पत्नी की भूमिका में रहने वाले व्यक्ति थे. प्रिंस फिलिप की शादी साल 1947 में एलिजाबेथ द्वितीय से हुई थी. उन्हें साल 1952 में ब्रिटेन की महारानी बनाया गया. बता दें कि ब्रिटेन का शाही घराना बाकी राजघरानों से उलट है, जहां परिवार के मुखिया की जिम्मेदारी किसी औरत को दी गई है. 

3/6

ये है नियम

ये है नियम

अगर कोई पुरुष राजगद्दी पर काबिज है, तो उसकी पत्नी महारानी या क्वीन टाइटिल का इस्तेमाल कर सकती है. लेकिन अगर पत्नी गद्दी पर काबिज है, तो पति को सिर्फ प्रिंस का ही टाइटिल मिल सकता है. इंग्लैंड में ऐसा ही वाकया प्रिंस अल्बर्ट के साथ हुआ था. उनकी शादी क्वीन विक्टोरिया से हुई थी. लेकिन शादी के 17 सालों बाद उन्हें 1857 में प्रिंस कंसोर्ट का टाइटल मिला था.

4/6

अल्बर्ट की तरह ही फिलिप भी जीवन भर रहे प्रिंस

अल्बर्ट की तरह ही फिलिप भी जीवन भर रहे प्रिंस

प्रिंस अल्बर्ट की तरह ही प्रिंस फिलिप की भी कहानी रही. उनकी शादी 1947 में हुई और एलिजाबेथ द्वितीय 1952 में महारानी बनी, लेकिन उन्हें प्रिंस का रुतबा हासिल हुआ सन 1957 में. इससे पहले वो ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग के नाम से ही जाने जाते रहे. वहीं, महिलाएं यानी किंग की पत्नी क्वीन का रुतबा हासिल कर सकती हैं. हालांकि अभी राजगद्दी के दावेदार प्रिंस चार्ल्स की पत्नी कैमिला पार्कर ने कहा है कि वो क्वीन की जगह प्रिंसेज ही बनकर रहना पसंद करेंगी.

5/6

प्रिंस फिलिप की आज 99 वर्ष की उम्र में हुई मौत

प्रिंस फिलिप की आज 99 वर्ष की उम्र में हुई मौत

प्रिंस फिलिप की शुक्रवार को 99 वर्ष की उम्र में मौत हो गई.  प्रिंस फिलिप आखिरी बार साल 2017 में सार्वजनिक तौर पर नजर आए थे. इसके बाद से उन्होंने सार्वजनिक जीवन से दूरी बना ली थी. वो लंबे समय से अस्वस्थ चल रहे थे और विंडसर पैलेस में ही रहा करते थे. विंडसर पैलेस के अलावा वो महारानी विक्टोरिया के निजी सैंड्रिंघम एस्टेट तक ही सीमित रहते थे. पिछले महीने वो 28 दिनों तक सीने में संक्रमण की वजह से अस्पताल में रहे थे और फिर महल में लौट आए थे.

6/6

आधिकारिक बयान जारी

आधिकारिक बयान जारी

प्रिंस फिलिप की मौत की पुष्टि बकिंघम पैलेस से जारी बयान के बाद हुई. जिसमें लिखा गया है, 'ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग-प्रिंस फिलिप की मौत हो गई है. शादी राजघराने की मुखिया के तौर पर महारानी ने खुद इसकी पुष्टि की है कि उनके पति अब दुनिया में नहीं रहे. उनकी मौत सुबह के समय हुई.'

ये भी पढ़ें: महाराष्‍ट्र: पाबंदियों के दौरान शराब, बिजली की दुकानें खुलेंगी? ऐसे सवालों का जानें जवाब