श्रीलंका: राजीना होटल से निकलने ही वाली थीं कि विस्फोट हो गया और वह मर गयीं: रिश्तेदार

कोलंबो में बम विस्फोट में मारी गयी केरल निवासी महिला राजीना खादर अपने पति के साथ एक सप्ताह तक ठहरने के बाद होटल से निकलने ही वाली थीं कि धमाका हो गया. 

श्रीलंका: राजीना होटल से निकलने ही वाली थीं कि विस्फोट हो गया और वह मर गयीं: रिश्तेदार
.(फाइल फोटो)

मंगलुरु: कोलंबो में बम विस्फोट में मारी गयी केरल निवासी महिला राजीना खादर अपने पति के साथ एक सप्ताह तक ठहरने के बाद होटल से निकलने ही वाली थीं कि धमाका हो गया. यहां उनके एक रिश्तेदार ने सोमवार को यह जानकारी दी. राजीना के रिश्तेदार उस्मान ने यहां संवाददाताओं को बताया कि उनके पति को जल्दबाजी में दुबई रवाना होना पड़ा. राजीना सुबह उन्हें विदा करने हवाई अड्डे तक गयीं. फिर वह शंगरीला होटल लौटीं क्योंकि वह भी होटल छोड़ कर वहां से निकलने वाली थीं. इसी बीच विस्फोट हो गया.

दोनों मियां बीवी दुबई में रहते थे और वे कोलंबो में राजीना के रिश्तेदारों से मिलने के लिए गये थे. उस्मान के अनुसार दुबई लौटने से पहले राजीना की कोलंबो में एक दिन अपने भाई के घर पर ठहरने की योजना थी. राजीना के पति अब्दुल खादर शहर में सूरतकल के समीप बैकामपाडी के बाशिंदे हैं.

उस्मान के अनुसार दोनों एक महीना पहले ही यहां अपने घर आये थे. इस दंपति की दो संतानें फराह और खानफर हैं जो अमेरिका में बसे हुए हैं. दुबई पहुंचने पर अब्दुल को (विस्फोट की) यह दुखद खबर मिली और वह रविवार रात को रात्रि की उड़ान से कोलंबो लौट आये.

उनके बच्चों के कोलंबो पहुंचने की संभावना है. उस्मान ने कहा कि खादर के परिवार के सदस्य भी कोलंबो रवाना हो गये हैं. राजीना का संबंध केरल के कासरगोड जिले के मोगराल पुथुर के एक परिवार से था. उनके पिता पी एस अब्दुल्ला दशकों पहले श्रीलंका चले गये थे और वहां वह कारोबार कर रहे थे. तीन साल पहले ही वह गुजर गये थे. राजीना के कई रिश्तेदार कोलंबो में बस गये हैं.