मोदी का ममता पर निशाना, 'दीदी खेला करने की सोच रही थी, उन्हीं के साथ खेला हो गया'

बर्धमान रैली में पीएम मोदी ने ममता बनर्जी पर हमला बोला. प्रधानमंत्री ने कहा कि दीदी का गुस्सा उनकी बौखलाहट बढ़ रही है, क्योंकि बंगाल में हुए आधे चुनावों में टीएमसी साफ.. वो आपका खेला करने की सोच रहे थे उन्ही के साथ खेला हो गया.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Apr 12, 2021, 02:47 PM IST
  • बंगाल को हिंसा का 'खेला' पसंद नहीं!
  • दीदी ने कार्यकर्ताओं को भड़काया- PM
मोदी का ममता पर निशाना, 'दीदी खेला करने की सोच रही थी, उन्हीं के साथ खेला हो गया'

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ताबड़तोड़ रैलियां चल रही हैं, पीएम ने बर्धमान से चुनावी हुंकार भरी. इस मौके पर उन्होंने कूचबिहार हिंसा को लेकर ममता बनर्जी पर वार किया और कहा 'दीदी सुरक्षाबलों के खिलाफ कार्यकर्ताओं को भड़का रही हैं. 10 साल तक बांटो, राज करो की नीति अपनायी.'

आधे चुनाव में ही टीएमसी पूरी साफ: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 'बर्धमान की 2 चीजें बहुत  मशहूर हैं. एक तो चावल और दूसरा मिहिदाना. आपकी बोली, आपका व्यवहार, यहां का खान-पान हर चीज में भरपूर मिठास है. दीदी की कड़वाहट, उनका क्रोध, उनकी बौखलाहट बढ़ती ही जा रही है. जानते हैं क्यों? मैं बताता हूं, क्योंकि बंगाल में हुए आधे चुनावों में आपने टीएमसी को पूरा साफ कर दिया है. यानि आधे चुनाव में ही टीएमसी पूरी साफ.'

'चार चरणों के चुनाव में बंगाल की जागरूक जनता ने इतने चौके-छक्के मारे कि भाजपा की सीटों की सेंचुरी हो गई है. जो आपके साथ खैला करने की सोच रहे थें, उन्हीं के साथ खैला हो गया है.'

उन्होंने कहा कि 'एक तो नंदीग्राम में बंगाल के लोगों ने दीदी को क्लीन बोल्ड कर दिया. यानि बंगाल में दीदी की पारी समाप्त हो चुकी है. दूसरा, बंगाल के लोगों ने दीदी का बहुत बड़ा प्लान फेल कर दिया. दीदी तैयारी करके बैठी थीं कि पार्टी की कप्तानी भाइपो को सौंपेंगी, लेकिन दीदी का ये खैला भी जनता ने समय रहते समझ लिया. इसलिए दीदी का सारा खैला धरा का धरा रह गया. और तीसरा, दीदी की पूरी टीम को ही बंगाल के लोगों ने मैदान से बाहर जाने को कह दिया है. अब दीदी बंगाल के लोगों से गुस्सा तो होंगी ही.'

दीदी वापस गई तो कभी वापस नहीं आएंगी

पीएम ने बोला कि 'दीदी को ये भी मालूम है कि एक बार बंगाल से कांग्रेस गई तो कभी वापस नहीं आई. वामपंथी वाले, लेफ्ट वाले गए वापस नहीं आएं. दीदी, आप भी एक बार गई तो कभी वापस नहीं आएंगी. दीदी के लोग बंगाल के अनुसूचित जाति के भाई-बहनों को गाली देने लगे हैं. दीदी के करीबी लोग उन्हें भिखारी कहने लगे हैं. बाबा साहेब की आत्मा को दीदी के कड़वे शब्द सुनकर कितना कष्ट हुआ होगा. दीदी खुद को 'रॉयल बंगाल टाइगर' कहती हैं. एससी पर इस तरह की टिप्पणी दीदी की इच्छा के बिना किसी भी टीएमसी नेता द्वारा नहीं दी जा सकती.'

ममता पर प्रहार करते हुए मोदी ने कहा कि 'वो राजा राम मोहन राय जिन्होंने जाति प्रथा के खिलाफ देश को झकझोरा, इस कुरीति को मिटाने के लिए देश को दिशा दिखाई, उनके बंगाल में दीदी ने दलितों को इतना बड़ा अपमान किया है. दीदी के करीबी साथियों ने कहना शुरू कर दिया है कि बीजेपी को वोट देने वाले लोगों को बाहर निकाल दिया जाएगा! क्या आप इस तरह की भाषा, इन पंक्तियों, इस अहंकार का अनुमोदन करते हैं? क्या यही लोकतंत्र है?'

कार्यकर्ताओं को भड़का रही हैं दीदी

'दीदी, ओ दीदी, अरे दीदी, हार होती देख ये क्या हो गया आपको, आपके करीबियों को? हालत तो ये हो गई है कि दीदी अब केंद्रीय वाहिनी के खिलाफ अपने कार्यकर्ताओं को भड़का रही हैं.'
'दीदी, ओ दीदी, आपको गुस्सा करना है तो मैं हूं न, मुझ पर कीजिए. जितनी मर्जी गाली दीजिए. लेकिन बंगाल की गरिमा, बंगाल की गौरवमयी परंपरा का अपमान मत कीजिए.'

मोदी ने कहा कि 'दीदी ने 10 साल तक मां, माटी, मानुष के नाम पर बंगाल पर राज किया है. लेकिन इन दिनों सभा में मां, माटी, मानुष नहीं बल्कि मोदी, मोदी, मोदी... करती रहती हैं. दीदी ने बंगाल में गवर्नेंस के नाम पर बहुत बड़ा गड़बड़झाला किया है. जन्मदिन मनाना है, तो TMC से पूछो. घर बनाना है, तो TMC को कट-मनी दो. राशन लेना है, तो TMC को कटमनी दो. कहीं अपना सामान ले जाना है, अपना सामान लाना है, तो TMC को कट-मनी दो.'

प्रधानमंत्री ने बताया है कि 'जिस बंगाल की भाजपा के जन्म में बहुत बड़ी भूमिका है, उस बंगाल की जितने सेवा भाजपा करे उतना कम होगी. आपकी एक-एक आवश्यकता, आपकी एक-एक जरूरत को ध्यान में रखते हुए, भाजपा सरकार काम करेगी. वो वीर जवान, दो दिन पहले अपने कर्तव्य का पालन करने बंगाल की धरती पर आया था, लेकिन यहां बंगाल में पीट-पीट कर उस पुलिस अफसर की हत्या कर दी गई. मां ने जब अपने वीर जवान बेटे का शव देखा, तो उसने दम तोड़ दिया.'

उन्होंने कहा कि 'दीदी, क्या उस पुलिस अफसर की मां, आपके लिए मां नहीं थीं? आप इतनी कठोर हैं, इतनी निर्मम हैं, इसका अंदाजा बंगाल की किसी मां को नहीं था. इन चुनावों के दौरान, हमने शोभा मजूमदार को भी खो दिया. जिस क्रूरता के साथ उसे टीएमसी के गुंडों ने पीटा था वह एक ऐसी तस्वीर है जिसे हम कभी नहीं भूल सकते.'

मोदी ने ममता को जमकर कोसा

नरेंद्र मोदी ने बोला कि ‘धान का कटोरा’ कहा जाने वाला हमारा बर्धमान, यहां के लोग, आज मूल सुविधाओं के लिए तरस रहे हैं. आजादी के शुरुआती वर्षों में जो नहरें बनीं, उसकी सही देखरेख तक यहां की सरकार नहीं कर पाई. नई नहरें बनाना कभी दीदी की प्राथमिकताओं में रहा ही नहीं.

उन्होंने ये भी कहा कि 'बहनों-बेटियों से कहना चाहता हूं कि आपके इस सेवक ने अपनी जिम्मेदारी समझते हुए हर घर नल से शुद्ध जल पहुंचे इसके लिए बड़ी योजना शुरु की है. बंगाल की सरकार को भी सैकड़ों करोड़ रुपये इसके लिए हमने भेजे हैं, लेकिन दीदी ने इसका बहुत बड़ा हिस्सा खर्च ही नहीं किया. कल से नवरात्रि शुरु होने जा रही हैं, मैं आपको बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं. मां काली, मां दुर्गा के आशीर्वाद से आप सभी की हर मनोकामना पूरी होगी.'

इसे भी पढ़ें-  कूचबिहार हिंसा दीदी के भाषण का नतीजा? अमित शाह ने ममता को ठहराया जिम्मेदार

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़